04 MARTHURSDAY2021 1:05:26 AM
Nari

गुरु गोबिंद सिंह जयंती: जीवन से अंधकार दूर कर देंगें गुरु जी के ये 10 अनमोल वचन

  • Edited By neetu,
  • Updated: 19 Jan, 2021 06:13 PM
गुरु गोबिंद सिंह जयंती: जीवन से अंधकार दूर कर देंगें गुरु जी के ये 10 अनमोल वचन

गुरु गोविंद जी सिख धर्म के दसवें गुरू है। कल यानी जनवरी की 20 तारीख को उनकी जयंती मनाई जाएगी। इसे सिख धर्म में प्रकाश पर्व के नाम से जाना जाता है। ऐसे में लोग गुरूद्वारा में माथा टेकने के साथ बड़ी धूमधाम से इस पवित्र दिन को मनाते हैं। बात अलग हिंदू कैलेंडर की करें तो गुरु जी का जन्म पौष मास की शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को हुआ था। गुरु जी ने ही सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब को पूरा किया था। 

सिखों के लिए जरूरी ये चीजें

गुरु जी ने लोगों को जिंदगी जीने के पांच सिद्धांत दिए थे। इन सिद्धांत को 'पांच ककार' के रूप में जाना जाता है। इसका अर्थ 'क' शब्द से माना गया है। ऐसे में ये पांच चीजें यानी 'केश', 'कड़ा', 'कृपाण', 'कंघा' और 'कच्छा आदि सभी 'क' अक्षर से ही शुरू होते हैं। इन पांच चीजों को गुरु जी ने बेहद पवित्र कहा है। साथ ही सभी खालसा सिखों को इसे धारण करना जरूरी है। 

PunjabKesari

गुरुद्वारों में कीर्तन करके मनाते हैं यह पवित्र दिन

गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती के इस शुभ दिन पर गुरुद्वारों को फूलों व लाइट्स से सजाया जाता है। साथ ही गुरुद्वारे में कीर्तन किया जाता है। सुबह के समय लोगों द्वारा प्रभातफेरी निकाली जाती है। साथ ही जगह-जगह पर गुरु के भक्तों द्वारा लंगर का आयोजन होता है। गुरुद्वारों में सेवा करने के साथ उसके आस-पास खालसा पंथ की झांकियां भी निकालती है। बहुत से लोग इस पवित्र दिन पर अपने-अपने घरों में कीर्तन व लंगर का आयोजन करते हैं। 

 

गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती के शुभ अवसर पर चलिए हम आपको उनके अनमोल वचन के बताते हैं। ऐसे में इन प्रेरणादायी विचारों से हर किसी को सीख लेने के साथ इसे अपने जीवन में अपनाने की जरूरत है...

PunjabKesari
1. आप जो भी कमाते हैं। उसका दसवां भाग जरूरतमंद या गरीबों को दान करें। 
2. जिंदगी छोटी सी है। ऐसे में इसे आलस या बेकार के कामों में लगाने की जगह खूब मेहनत करें। जीवन में सफलता पाकर नाम कमाएं। 
3. किसी भी चीज में लालच ना करें। हमेशा ईमानदारी से काम करें साथ दूसरों को भी ऐसा ही करने की प्रेरणा दें। 
4.  कभी भी अपनी जवानी, कुल, धर्म व जाति को लेकर अहंकार ना करें। 
5. अगर कोई आपको परेशान कर रहा है तो सबसे पहले साम, दाम, दंड और भेद का सहारा लेकर उस का सामना करें। मगर कहीं वो ना माने तो अंत में युद्ध करें। 
6.  हमेशा गरीबों, बेसहारा व जरूरतमंदों की सहायता के लिए हाथ बढ़ाएं। जरूरत होने पर किसी की साथ छोड़ने की जगह सामने से उसकी मदद करें। 
7.  किसी से वैर-विरोध व ईर्ष्या का भाव ना रखें। साथ ही किसी के पीठ पीछे उसकी बुराई ना करें।
8. नशीली चीजों व तंबाकू के सेवन से बचें।
9.  खुद की भी सेहत का ध्यान रखें। इसके लिए रोजाना योगा, एक्सरसाइज और हो सके तो घुड़सवारी करें।
10. वर्तमान में जीने की कोशिश करें। अगर आप हमेशा भविष्य की सोचेंगे तो वर्तमान में मिलने वाली चीजों से भी हाथ धो बैठोगे।

Related News