Twitter
You are hereNari

स्ट्रेस कर रहा है आपके दिमाग को छोटा, बाइपोलर डिसआर्डर का भी खतरा

स्ट्रेस कर रहा है आपके दिमाग को छोटा, बाइपोलर डिसआर्डर का भी खतरा
Views:- Sunday, November 11, 2018-5:43 PM

चिंता या तनाव कोई आम परेशानी नहीं है। आजकल हर 3 में से 1 इंसान इस समस्या से जूझ रहा है। इससे छुटकारा पाने के लिए मेडिटेशन के साथ-साथ अच्छे मनोवैज्ञानिक की मदद लेना भी बहुत जरूरी है दरअसल, बहुत ज्यादा चिंतित होना दिमाग के आकार को सिकोड़ देता है। जो आगे चलकर बाइपोलर डिसआर्डर की परेशानी पैदा कर सकता है। 

तनाव से सिकुड़ जाता है दिमाग
न्यूरोलॉजी में हाल ही में प्रकाशित हुई एक स्टडी के मुताबिक, तनाव की वजह से दिमाग के ग्रे मैटर का हिस्सा कम होने लगता है। यह दिमाग का वो भाग है जो विचारों, आत्म-नियंत्रण और नई यादों को विकसित करने का काम करता है। इसके सिंकुड़ने से इंसान की मानसिक हालत बिगड़ सकती है। 
PunjabKesari

बाइपोलर डिसआर्डर को बढ़ावा देता है स्ट्रेस
यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया द्वारा किए गए परीक्षण में यह बात सामने आई कि जो लोग लगातार तनाव में घिरे रहते हैं, उनके दिमाग में कई तरह के बदलाव आने शुरु हो जाते हैं। जो बाइपोलर डिसआर्डर को बढ़ावा देता है। इसके अलावा एक अन्य स्टडी के अनुसार, जिन लोगों के दिमाग में कोर्टिसोल लेवल ज्यादा है उनके ब्रेन का आकार सामान्य और जिनका कोर्टिसोल कम है उनके ब्रेन का आकार दूसरों की तुलना में छोटा पाया गया। यह मानसिक स्थिति को बिगाड़ सकता है। 

क्या है बाइपोलर डिसआर्डर?
कभी बहुत ज्यादा खुश तो कभी डिप्रेशन में चले जाना ही बाइपोलर डिसऑर्डर है। यह एक कॉम्पलेक्स बीमारी है जिसे मैनिक डिप्रशेन भी कहते है। इस दिमागी बीमारी की वजह से मिजाज में अचानक बदलाव आता रहता है। कभी बिना वजह मन उदास तो कभी बहुत खुश हो जाता है। व्‍यक्ति इन्‍हीं दोनों में उलझा रहता हैं। इसका असर हफ्ते,महीने या सालों तक भी बना रह सकता है। परेशानी बढ़ जाने पर दिमागी हालत बहुत खराब भी हो सकती है।  

PunjabKesari

कोर्टिसोल हॉर्मोन पैदा करता है स्ट्रेस
कोर्टिसोल इंसान के दिमाग में पाया जाने वाला स्ट्रेस हार्मोन है। यह हार्मोन एड्रेनल ग्रंथि से स्रावित होता है। इसका काम स्थिति के अनुसार इंसान को शांत रहने या फिर लड़ने के लिए प्रेरित करना है। इसके कम होने से दिमाग की स्थिति बुरी तरह से प्रभावित होती है। हालांकि इस स्टडी पर और भी कई रिसर्च किए जाने बाकी हैं। 

थोड़े स्ट्रेस से दे सकते हैं अच्छी परफॉरमेंस
तनाव से छुटकारा पाना बहुत जरूरी है लेकिन थोड़ा स्ट्रेस आपकी परफॉर्मेंस पर अच्छा प्रभाव भी डालता है क्योंकि कुछ लोग दवाब में बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं। यह काम को बेहतर बनाने में मदद करता सकता है लेकिन इसके लिए आपको तय करना होगी की स्ट्रेस आप पर हावी न हो। 

ये उपाय कर सकते हैं मदद
तनाव से खुद को बाहर निकालना कोई आसान काम नहीं है लेकिन इसके लिए प्रयास करना बहुत जरूरी है। कोशिश करने से धीरे-धीरे यह परेशानी दूर हो सकती है। 

- अपने मन के विचार दूसरों के साथ शेयर करें। 
- अकेले न बैंठे
- परिवार के साथ समय बिताएं। 
- मेडिटेशन से तनाव दूर करने में बहुत मदद मिलती है। 
- अपनी पसंद का काम करें। 
- लाइफस्टाइल में सुधार करें। 
- जल्दी सोने और जल्दी उठने की आदत डालें।
- हैल्दी डाइट में इसमें बहुत मदद करती हैं। 
  PunjabKesari


 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by:

Latest News