01 MARMONDAY2021 7:39:18 AM
Nari

काॅलेज के दिनों को याद कर कांप उठी सोना मोहापात्रा, बोलीं- सीनियर्स ब्रा साइज पर करते थे कमेंट

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 24 Nov, 2020 01:31 PM
काॅलेज के दिनों को याद कर कांप उठी सोना मोहापात्रा, बोलीं- सीनियर्स ब्रा साइज पर करते थे कमेंट

बाॅलीवुड गायक सोना मोहापात्रा अक्सर अपने बयानों को लेकर सुर्खीयां बटोरती रहती हैं। बाॅलीवुड इंडस्ट्री से जुड़ा मुद्दा हो या फिर समाज से जुड़ा कोई मामला वह बेबाकी से अपनी राय रखती हैं। एक बार फिर सोना मोहापात्रा सुर्खियों में छाई हुई है। उन्होंने सोशल मीडिया पर फैंस के साथ कालेज दिनों में उनके साथ हुए हैरेसमेंट के किस्से को शेयर किया है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से कहा कि अगर उनके साथ ऐसी कोई घटना घटी है तो उसे जरूर शेयर करें। 

PunjabKesari

सोना मोहापात्रा ने काॅलेज के दिनों को याद करते हुए एक ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'मैं अपनी बीटेक इंजीनियरिंग के दौरान सलवार के साथ ढीले खादी हरे रंग के कुर्ते में माइक्रोप्रोसेसर लैब की तरफ जा रही थी। तभी वहां पर सभी सीनियर सीटी बजाते हुए जोर से बोलकर मेरी ब्रा के साइज का अंदाजा लगा रहे थे। तभी एक शुभचिंतक मेरे पास आई और मुझसे कहने लगी कि मैंने अपना दुपट्टा ठीक से क्यों नहीं पहना है। उससे अपनी छाती को पूरी तरह क्यों नहीं ढका है।' दरअसल, सोना यह कहना चाहती है कि शरीर को पूरी तरह से ढकने के बाद भी उनके साथ ऐसा व्यवहार किया गया था।

 

सोना के इस ट्वीट पर एक यूजप ने कमेंट करते हुए लिखा, 'इसका रोना चालू हो गया, ध्यान और सहानुभूति पाने वाली। यदि आप बहुत चिंतित हैं तो आप फुल क्लीवेज दिखाते हुए हॉट फोटोशूट क्यों करवाती हो। इस ड्रामे को करने के बजाय सिंगिंग पर ध्यान दिया होता तो आप एक बेहतर गायक बन सकते हो। आपकी सभी तस्वीरों में आपका क्लीवेज साफ दिख रहा होता है।' 

 

PunjabKesari

 

जिसके बाद सोना ने यूजर्स के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, 'क्योंकि यह मेरा शरीर है, मेरा क्लीवेज है मिस्टर जे। मैं जैसा चाहती हूं, वैसा करती हूं।' 

 

गौरतलब है कि हाल ही में सोना ने मुकेश खन्ना द्वारा दिए गए मीटू अभियान पर विवादित बयान को लेकर गुस्सा जाहिर किया था। सोना ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'हां बिल्कुल क्योंकि इनके मुताबिक पुरुष घर के अंदर महिलाओं और बच्चों का शोषण नहीं करते। मन्दबुद्धि, एक कड़वी सच्चाई यह है कि हमारे चारों ओर ऐसी मानसिकता वाले लोग हैं। परिवर्तन धीमा जरूर है, लेकिन आ रहा है।'

Related News