12 APRMONDAY2021 3:04:57 PM
Nari

कोलेस्ट्रोल बढ़ने पर शरीर देता है ये 8 संकेत, युवाओं में सबसे अधिक देखे जा रहे लक्षण

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 04 Mar, 2021 05:56 PM
कोलेस्ट्रोल बढ़ने पर शरीर देता है ये 8 संकेत, युवाओं में सबसे अधिक देखे जा रहे लक्षण

कोलेस्ट्रॉल होना शरीर में बहुत सामान्य सी बात है लेकिन अगर कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाए तो इससे आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल आपको दिल का रोगी बना सकता है तो वहीं दूसरी ओर इससे आपको बहुत सारी बीमारियों के होने का खतरा भी हो जाता है। इसलिए इसे कंट्रोल करना बेहद जरूरी है। अगर आपका कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में नहीं रहेगा तो इससे आपकी बॉडी को ही खतरा हो सकता है। पहले जहां अधेड़ उम्र के लोगों को इसकी समस्या होती थी लेकिन अब तो युवाओं में इसकी समस्या होने लगी है। खासकर 18 से लेकर 35 साल के युवाओं में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण दिखाई दे रहे हैं। अगर आपकी बॉडी में आपको इन लक्षणों में से कोई लक्षण दिखें तो आप इसे अनदेखा न करें। 

पहले आप जान लें कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण

. ऐसे फूड का सेवन करना जिसमें सैच्युरेटेड फैट की मात्रा अधिक हो इसके कारण आपकी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है। जैसे कि मीट खाना, मक्खन या फिर ज्यादा तली भुनी चीजों का सेवन करना। 
. कोई एक्सरसाइज न करना या फिर पूरा दिन बैठे रहने। इससे भी बॉडी में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा काफी बढ़ जाती है। शरीर में मोटापा भी आने लगता है।
. अगर आप धूम्रपान करते हैं तो भी कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है। इसके कारण ब्लड प्रेशर भी बढ़ने लगता है। 

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण

1. सांस फूलना

nari kesari

अगर थोड़ा सा भी चलने पर आपकी सांस फूल जाती हैं या फिर आपको थकावट होने लगती है तो यह बॉडी में कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने का संकेत हैं। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण कईं बार ऐसा भी देखा जाता है कि आप ज्यादा काम किए बिना ही थकावट महसूस करने लगते हैं। ऐसे में आपको देरी किए बिना डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए। 

2. बहुत ज्यादा पसीना आना 

गर्मियां आते ही पसीना आने लगता है लेकिन यह काफी आम है लेकिन जरूरत से ज्यादा पसीना आना आपकी बॉडी के लिए ठीक नहीं है। अगर आपको जरूरत से ज्यादा पसीना आ रहा है तो यह आपके लिए काफी गंभीर इशारा हो सकता है। इसलिए इसे बिल्कुल भी नजर अंदाज न करें। 

3. बैचेनी होने लगना 

किसी बात की टेंशन होने पर अगर आपको बैचेनी हो तो वो लाजमी है लेकिन अगर आपको बिना बात के बैचेनी होने लगती है और शरीर में थकावट सी महसूस होने लगती है तो यह बढ़े हुए  कोलेस्ट्रॉल की तरफ इशारा हो सकता है। बैचेनी और कमजोरी इसलिए भी होते हैं क्योंकि ऐसे में दिल को पर्याप्त मात्रा में खून नहीं पहुंच पाता है। इसलिए आपको पसीना या फिर बैचेनी से होने लगती है। 

4. जोड़ों में दर्द

nari kesari

अगर आपके पीठ, घुटनों, कमर या जोड़ों में अचानक दर्द रहने लगे तो आपको समझ लेना चहिए कि आपका कोलेस्‍ट्रॉल लेवल काफी बढ़ गया है। देखा जाए तो आजकल  लोगों को पीठ में काफी ज्यादा दर्द रहता है। बहुत सारे लोग इसे नजरअंदाज करते हैं लेकिन इसे नजरअंदाज करना आपके लिए खराब हो सकता है।  वहीं अगर आपको  जबड़ों और सीने के निचले हिस्से में दर्द होने लगे या फिर गर्दन में दर्द होने लगे तो तुंरत डॉक्टर से संपर्क कर लें।

5. झनझनाहट महसूस होना 

क्या आपको भी हाथों पैरों में झनझनाहट सी महसूस होती हैं या फिर आपको भी ऐसा लगता है कि आपके हाथों में चीटियां रेंग रही हैं। या फिर आपको हाथ पैर सो रहे हैं तो आप इसे अनदेखा न करें बल्कि यह बढ़ते कोलेस्ट्रॉल का संकेत हो सकता है। इसलिए आप समय रहते जांच जरूर करवा लें। 

6.  पीले चकत्ते होना

इसका एक अन्य लक्षण है पीले चकत्ते होना। अगर आपकी आंखों के उपर पीले चकत्ते हो रहे हैं तो यह भी बढ़ते कोलेस्ट्रॉल की ओर इशारा हो सकता है। 

7. सिर में तेज दर्द

आजकल लोगों में सिरदर्द की समस्या आम देखने को मिलती है लेकिन लगातार सिरदर्द रहना हाई कोलेस्ट्रॉल का संकेत होता है। जब आपके ब्लड में कोलेस्ट्रॉल का मात्रा बढ़ जाता है तो दिमागी वेन्‍स में ब्लड की सप्लाई नहीं हो पाती। इसके कारण आपको सिर में लगातार तेज दर्द रहने लगता है।

8. वजन का बढ़ जाना

narikesari

अगर आपका वजन लगातार या फिर अचानक बढ़ रहा है या फिर आप भारी-भारी महसूस कर रहे हैं तो इसका कारण भी कोलेस्ट्रोल का बढ़ना हो सकता है। इस लक्षण को नजरअंदाज ना करें और तुरंत अपना चेकअप करवाएं। 

किस उम्र में करवाएं जांच 

जिस तरह आजकल कोलेस्ट्रॉल के केस बढ़ते जा रहे हैं उस हिसाब से आपको 20 साल की उम्र में जांच करवा लेनी चाहिए। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो भविष्य में आपको कईं बीमारियों से जूझना पड़ सकता है। 

Related News