21 JANTHURSDAY2021 11:57:52 AM
Nari

कार्तिक पूर्णिमा: धन प्राप्ति के लिए करें ये उपाय

  • Edited By neetu,
  • Updated: 29 Nov, 2020 11:28 AM
कार्तिक पूर्णिमा: धन प्राप्ति के लिए करें ये उपाय

कार्तिक पूर्णिमा का दिन कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को आता है। इस साल यह शुभ दिन इस बार 30 नवंबर को मनाया जाएगा। देवी लक्ष्मी और भगवान श्रीहरि की पूजा करने का महत्व है। माना जाता है कि इस दिन गंगा स्नान, दीप दान, तुलसी पूजा करना बेहद शुभ होता है। इस साल पूर्णिमा पर उपछाया चंद्रग्रहण होने से महायोग सर्वार्थ सिद्धि योग बन रहा है। ऐसे में ज्योतिष व वास्तु के अनुसार, कुछ उपायों करना से जीवन में सुख-समृद्धि व शांति मिलती है। साथ ही पैसों की किल्लत दूर होकर घर अन्न व धन से भरा रहता है। तो चलिए जानते हैं इन उपायों के बारे में...

PunjabKesari

तुलसी पूजा 

भगवान श्रीहरि को तुलसी अतिप्रिय है। ऐसे में कार्तिक पूर्णमा की सुबह-शाम विशेष रूप से तुलसी देवी के आगे दीया जलाकर तुलसी चालिसा का पाठ करें। इससे घर में सुख-समृद्धि आने के साथ समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा। 

लक्ष्मी स्तोत्र का करें पाठ 

कार्तिक पूर्णिमा के शुभ दिन पर लक्ष्मी स्तोत्र का पाठ करें या सुने। साथ ही शाम के समय में दीपदान करें। इससे देवी लक्ष्मी की कृपा होने के साथ घर में अन्न व धन की बरकत बनी है। 

चार जगहों पर जलाएं दीपक 

इन शुभ दिन को देव-दिवाली भी कहा जाता है। धार्मिक कथाओं के अनुसार, इस शुभ दिन पर देवी-देवताएं धरती पर आकर अपने भक्तों को आशीर्वाद देते हैं। ऐसे में इस दिन तुलसी, जल, घर के मुख्य द्वार और पूजा स्थल में दीपक जरूर जलाएं। इससे पितरों का आशीर्वाद मिलने के साथ ग्रह-नक्षत्र भी शुभ फल देंगे। 

PunjabKesari

पापों से मिलेगा छुटकारा 

कार्तिक पूर्णिमा के शुभ दिन पर सूर्योदय से पूर्व स्नान करें। फिर भगवान श्रीहरि और देवी लक्ष्मी के आगे घी का दीपक जलाकर  विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें। इससे पापों से मुक्ति मिलेगी। 

काली हल्दी से करें उपाय

लाल रंग के कपड़े में कौड़ी, काली हल्दी, गोमती चक्र और 1 सिक्का रख कर लपेट लें। फिर इसे अपनी अलमारी या पैसे रखने वाली जगह पर रख दें। इससे आर्थिक परेशानी दूर होकर घर के सदस्यों में प्यार बढ़ेगा।

खीर का लगाएं भोग 

देवी लक्ष्मी को खीर का भोग लगाकर 5 कन्याओं को भोजन करवाएं। साथ ही अपनी इच्छानुसार दक्षिणा देकर उनका आशीर्वाद लें। इससे देवी मां की कृपा होने के साथ सेहत बरकरार रहेगी।

Related News