22 JULMONDAY2024 5:26:43 PM
parenting

New Born Baby को पहली बार नहलाने से पहले जान लें कुछ नियम, नहीं होगी बच्चे को परेशानी

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 26 Sep, 2023 11:50 AM
New Born Baby को पहली बार नहलाने से पहले जान लें कुछ नियम, नहीं होगी बच्चे को परेशानी

बच्चे के जन्म के बाद ही मां के मन में कई तरह के सवाल उठते हैं, जैसे ही बच्चे को पहली बार कब और कैसे नहलाना है। हालांकि  न्यू बॉर्न बेबी को नहलाना कोई आसान काम नहीं है, वह इतने सेंसेटिव होते हैं कि जरा सी लापरवाही बड़ी परेशानी खड़ी कर सकती है। चलिए आज आपको बताते हैं कि पहली बार  न्यू बेबी को नहलाने के दौरान कित बातों का रखना चाहिए खास ख्याल। 

PunjabKesari
इतने दिन की जाती है सिर्फ स्‍पंज

दरअसल नवजात बच्चे को तब तक नहीं नहलाना चाहिए जब तक उसकी गर्भनाल सूखकर ना गिर जाये। जन्‍म के लगभग 10 दिन या तीन हफ्ते के बीच में यह अपने आप गिर जाती है तब तक शिशु को स्‍पंज बाथ ही दिया जाता है। यह भी माना जाता है कि जन्म के तुरंत बाद शिशु को नहलाने से उसे सर्दी हो सकती है या हाइपोथर्मिया की समस्या हो सकती है। तुरंत नहलाने से शिशु का ब्लड शुगर लेवल भी कम हो सकता है।


बच्चे को  स्‍पंज करने का तरीका 

-शिशु को पहले एक नरम समतल जगह पर लिटा दें। 
-हल्‍के गुनगुने पानी में स्‍पंज या किसी साफ सूती कपड़े को भिगोकर रखें।
-पानी के तापमान को हमेशा अपनी कलाई से जांचे क्योकि आपके बाकी हाथ के मुकाबले यह गर्मी के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं।
-शिशु को किसी चादर में लपेटकर रखें और एक समय पर एक ही हिस्‍से को साफ करने के लिए बाहर निकालें।
-याद रखें कि स्‍पंज को अच्‍छी तरह से निचोड़ लें और फिर ही शिशु के शरीर को पोंछें।
-इसके बाद उस हिस्‍से को सूखे कपड़े से सुखा लें और फिर दूसरे हिस्‍से को स्‍पंज से साफ करें।
-शिशु को बहुत प्‍यार से पकड़े और उसकी स्किन पर जमा धूल या स्किन की जमा परत को हटाएं

PunjabKesari
सप्ताह में कितनी बार नहलाना चाहिए बच्चे को ? 

एक्सपर्ट के मुताबिक छोटे बच्चों को सप्ताह में सिर्फ दो या तीन बार नहलाना चाहिए क्योंकि नवजात शिशु वयस्क की तुलना में कम गंदे होते हैं, क्योंकि न तो उन्हें पसीना आता है और न वे बड़े बच्चों की तरह मिटटी में खेल कर आते हैं। हालांकि इस दौरान उनकी साफ़-सफ़ाई का ख़ास ख़्याल रखना चाहिए। वहीं बच्चे को स्नान कराते समय धीरे-धीरे मालिश करना आपके लिए उनके शारीरिक प्रतिक्रियाओ और अमूल्य भावों को जानने का एक प्यारा तरीका हैं।

PunjabKesari
नहलाते वक्त बिल्कुल ना करें लापरवाही

-आप बच्चे को नहलाने के लिए जल्दबाजी बिलकुल भी न करें क्योंकि आप जितना ज्यादा इंतजार करेंगी उतना ज्यादा अच्छा होगा।

-बच्चे को नॉर्मल तरीके से नहलाना शुरू करने से पहले आप इस बात का ध्यान रखें कि वह इसके लिए तैयार है या नहीं। 

-यदि बच्चा चिड़चिड़ा होता है तो उसे नहलाना शुरू करने से पहले कुछ और दिनों स्पंज बाथ ही देना चाहिए। 

-जिस बाथरूम में आप बच्चे को नहलाना चाहती हैं उसमें गर्माहट बनाएं रखें क्योंकि उसके शरीर की हीट बहुत जल्दी खत्म हो सकती है। 

-बच्चे को ठीक से पकड़ें ताकि वह साइड से फिसलने न पाए। साबुन, शैम्पू और पानी से ग्रिप खत्म हो सकती है। 

Related News