25 FEBSUNDAY2024 2:53:36 PM
Nari

लाड़- प्यार में जिद्दी हो गया है बच्चा? मार- पिटाई के बजाए Parents ऐसे करें हैंडल

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 06 Dec, 2023 12:53 PM
लाड़- प्यार में जिद्दी हो गया है बच्चा? मार- पिटाई के बजाए Parents ऐसे करें हैंडल

छोटे बच्चे बहुत प्यारे  होते हैं। ऐसे में घर के सारे सदस्य उन्हें खूब लाड़- प्यार से रखते हैं। बिना- मांगे तो उन्हें बहुत कुछ मिलता ही है, साथ में उनकी हर जिद्द भी पूरी की जाती है। लेकिन एक समय के बाद अगर इसे रोका न जाए तो बच्चे बिगड़ जाते हैं, क्योंकि उन्हें मनमानी करने की आदत लग गई होती है। कई बारे बच्चों के जिद्द से परेशान होकर पेरेंट्स उनपर हाथ भी उठा देते हैं जो की सही नहीं होता है। इससे बच्चे सुधरने के बजाए और जिद्दी हो जाते हैं। आइए हम आपको बताते हैं जिद्दी बच्चों को हैंडल करने की टिप्स....

बहस न करें


जिद्दी बच्चे अकसर झगड़ालू भी होते हैं और वो किसी से भी बहस करने के लिए तैयार रहते हैं। इसलिए उनको मौका न दें। वरना वो मुंहफट भी हो जाएंगे। इसके बजाय बच्चों की बात सुनें और शांत तरीके से बात-चीत करके समझाएं।

PunjabKesari

ऑप्शन दें

किसी जिद्दी बच्चे को ये बताना कि उसे क्या करना है, इस बात को लेकर वो भड़क सकते हैं। इसके बजाए, उन्हें चुनने के लिए ऑप्शन दें क्योंकि इससे उन्हें ऐसा महसूस होगा जैसे उनका अपने जीवन पर नियंत्रण है और वो आजादी से अपने निर्णय ले सकते हैं।

घर में शांति बनाए रखें

सुनिश्चित करें कि आपका घर एक ऐसी जगह है जहां आपका बच्चा हर समय खुश, आरामदायक और सुरक्षित महसूस करता है। ऐसे में घर में सभी के प्रति विनम्र रहें, विशेषकर अपने जीवनसाथी के साथ, क्योंकि बच्चे आप से सीखते हैं। वो जो देखते हैं उसकी नकल करने की कोशिश करते हैं, इसलिए ये जरूरी है कि आप शांति बनाए रखें और बच्चे के सामने बहस करने से बचें।

PunjabKesari

रूटीन बनाएं

बच्चों की जिंदगी में रूटीन लाएं। इससे न सिर्फ बच्चे का व्यवहार सुधरेगा, बल्कि स्कूल में उनकी पर्फोमेंस भी बेहतर होगी। सोने का समय सेट करें। नींद की कमी और थकान के चलते तीन से बारह साल के बच्चों में व्यवहार संबंधी समस्याएं आ जाती हैं।

बच्चों को न करें ज्यादा रोक- टोक

एक सीमा के अंदर रहकर बच्चों को थोड़ा एक्सप्लोर भी करने दें। दूर से रहकर आप उन्हें देखें, लेकिन जरूरी नहीं है की हर बार उनके पीछे जाना जरूरी है। ऐसा करने पर वह आजाद महसूस करेंगे और उनका जिद्दी व्यवहार में फर्क आएगा।

Related News