02 DECWEDNESDAY2020 4:54:59 AM
Nari

20 साल के करियर में 41 ट्रांसफर, बड़े-बड़े नेता भी खाते हैं इस "लेडी दंबग" से खौफ

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 21 Nov, 2020 02:42 PM
20 साल के करियर में 41 ट्रांसफर, बड़े-बड़े नेता भी खाते हैं इस

भारतीय समाज में महिलाओं को हमेशा से ही कमजोर माना जाता है। बात अगर पुलिस फील्ड की हो तो उसमें भी महिलाओं को बड़े-बड़े नेताओं व गुंड़ो से ना उलझनें की सलाह ही दी जाती है। मगर, एक ऐसी दबंग महिला पुलिस अफसर भी है जो बिना डरे सिर्फ अपनी ड्यूटी भी करती हैं। हम बात कर रहे हैं लेडी दंबग डी रूपा मौदगिल की, जिन्हें 20 साल के करियर में 41 बार ट्रांसफर मिल चुका है लेकिन फिर भी वह अपने कर्तव्य से पीछे नहीं हटती। गुंडे तो गुंडे... धोखेबाज नेता भी इस पुलिस अफसर से खौफ खाते हैं।

कर्नाटक की पहली महिला गृह सचिव: डी रूपा

कर्नाटक की पहली महिला IPS अधिकारी डी रूपा मौदगिल को अब गृह सचिव के पद पर नियुक्त किया गया है। गृह सचिव का पद संभालने वाली वह पहली महिला है। 2000 बैच की अधिकारी रूपा जल्द ही रेलवे, बेंगलुरु IGP और PCAS में अपनी पद संभालेंगी।

PunjabKesari

पिता से मिली देश की सेवा की शिक्षा

एक साधारण परिवार में जन्मी रूपा के पिता हमेशा से ही चाहते थे कि उनकी बेटी देश की सेवा करें इसलिए उन्होंने रूपा की पढ़ाई-लिखाई में कोई कसर ना छोड़ी। महज 8 साल की उम्र में ही रूपा ने पिता ने उन्हें देश और समाज की सेवा की शिक्षा देनी शुरू कर दी थी। उनके पिता जे एस दिवाकर दूरसंचार विभाग में इंजीनियर और माता हेमावती डाक विभाग में काम करती थीं। फिलहाल वह रिटायर केंद्रीय सरकारी कर्मचारी में काम कर रहे हैं। वहीं उनकी छोटी बहन रोहिणी भी IRS की पोस्ट पर कार्यरत हैं।

PunjabKesari

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती को भी किया थी अरेस्ट

तेजतर्रार तेवर, बुलंद आवाज और निर्डर हौंसले के चलते रूपा अच्छो-अच्छो को धूल चुका चुकी हैं। यही नहीं, उन्होंने गुंड़ो को पकड़ने के साथ कई नेताओं की पोल तक खोल डाली है। 20 वर्षों में 41 से अधिक बार स्थानांतरित, रूपा ने हमेशा माना है कि किसी को अपनी नौकरी की मांग करनी है, और एक महिला को क्या करना चाहिए, इसकी सामाजिक अपेक्षा को नहीं होनी चाहिए। यहां तक की उन्होंने 2017 में धार्मिक दंगों करवाने के चलते भारतीय जनता पार्टी की वर्तमान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती को हथकड़ियां पहनाने पहुंच गई थी। हालांकि उनके पहुंचने से पहले ही उमा भारती ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। वह कई बार सिस्टम से लोहा ले चुकी हैं। यही वजह है कि 20 साल के करियर में उन्हें 41 बार ट्रांसफर किया जा चुका है।

PunjabKesari

जीत चुकी हैं कई अवॉर्ड्स

पढ़ाई में बचपन से ही अव्वल रूपा ने पूरे भारत में 43 वीं रैंक से IPS की परीक्षा पास की थी। वह एक ट्रेंड भरतनाट्यम डांसर, संगीतकार और शार्प शूटर भी हैं। अपनी IPS ट्रेनिंग के दौरान वह कई अवॉर्ड जीत चुकी हैं। बता दें कि रूपा के पति मुनीश भी एक IAS ऑफिसर हैं, जो आईजी (ट्रैफिक एंड रोड सेफ्टी) में कार्यकत हैं। उनके दो बच्चे भी हैं, जो फिलहाल पढ़ाई कर रहे हैं।

PunjabKesari

धमकी और ट्रांसफर मुझे मेरे फर्ज से डिगा नहीं सकते: डी रूपा

रूपा का कहना है कि वह ट्रांसफर से कभी हैरान नहीं होती बल्कि इसके लिए हमेशा तैयार रहती हैं। उनका मानना है कि हमें अपना सपना साकार करने के लिए लगातार उसके पीछे भागना होगा। आज हमें समाज द्वारा बांटी गई भूमिकाएं कि... लड़कियां मां के साथ किचन और पुरूष पिता के साथ बाहर का काम करेंगे, को बदलने की जरूरत है। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, 'मन की बात कहने की क्षमता योग्यता और साहस से ही आती है। जब आप अतीत को लेकर शर्मिंदा और भविष्य के लिए परेशान नहीं होते तो आपको कोई डरा नहीं सकता।

PunjabKesari

Related News