17 MAYTUESDAY2022 5:42:15 AM
Nari

घर में चाहते हैं सुख-शांति और समृद्धि तो अपनाएं फर्नीचर से जुड़े वास्तु टिप्स

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 14 Jan, 2022 12:07 PM
घर में चाहते हैं सुख-शांति और समृद्धि तो अपनाएं फर्नीचर से जुड़े वास्तु टिप्स

महिलाएं घर में साज-सजावट के लिए सोफा, रैक और अन्य फर्नीचर रखती हैं। मगर, वास्तु के अनुसार, अगर फर्नीचर की व्यवस्था करते समय वास्तु नियमों का पालन किया जाए तो घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ सकता है। दरअसल, वास्तु ने घर में हर चीज को रखने के कुछ नियम बताए हैं, जिन्हें अपनाने से ना सिर्फ घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है बल्कि सुख-शांति, खुशहाली और समृद्धि भी बनी रहती है। चलिए आपको बताते हैं कि जानते हैं घर के अलग-अलग कमरों में वास्तु के अनुसार फर्नीचर की व्यवस्था कैसे करें-

किचन फर्नीचर वास्तु टिप्स

वास्तु के अनुसार, किचन में अनाज और अन्य चीजों का एक रैक रखने के लिए उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पश्चिम दिशा बिल्कुल सही है। ऐसा माना जाता है कि अगर खाने की मेज को उत्तर-पश्चिम में रखा जाए तो खाने वाले को पूर्व दिशा में रखा जा सकता है। इससे नेगेटिविटी दूर होती है क्योंकि इस दिशा को वास्तु सम्राट माना जाता है।

PunjabKesari

नहीं होगी अनाज की कमी

आजकल मॉड्यूलर किचन और ट्रॉली सिस्टम का चलन बहुत आम हो गया है। अगर आपके किचन में भी ऐसी ही व्यवस्था है तो अनाज को किचन प्लेटफॉर्म के ऊपर या ट्रॉली में कबार्ड में रखें। उत्तर-पश्चिम कोने में कम से कम 5 तरह के अनाज रखने से घर में कभी भी अनाज की कमी नहीं होती है।

लिविंग रूम

. वास्तु के अनुसार, लिविंग रूम दक्षिण-पश्चिम कोने में होना चाहिए। इस दौरान मुख पूर्व या उत्तर पूर्व की ओर होना चाहिए। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहता है।
. ध्यान रखें कि उत्तर और पूर्व की जगह जितना हो सके खाली रखें। वहीं दूसरी ओर दक्षिण और पश्चिम में भारी फर्नीचर रखने से बचें।
. अगर आप लिविंग रूम में टीवी लगाना चाहते हैं तो उसे ईशान कोण में लगाना उचित रहेगा। ध्यान रखें कि टीवी की टेबल हल्की और देखने में खूबसूरत होनी चाहिए।
. कुछ घरों में हर कमरे में टीवी पसंद किया जाता है। ऐसा न करें क्योंकि हर कमरे में टीवी लगाने से परिवार के सदस्यों के बीच झगड़े बढ़ सकते हैं।

PunjabKesari

डाइनिंग रूम फर्नीचर वास्तु टिप्स

वास्तु के अनुसार, डाइनिंग रूम दक्षिण-पूर्व में और भोजन कक्ष उत्तर-पश्चिम में होना चाहिए। अगर आपकी डाइनिंग टेबल किचन के बहुत करीब यानी पूर्व या दक्षिण-पूर्व में है तो वो गलत है इसलिए डाइनिंग टेबल और किचन में उचित दूरी बनाकर रखें।
. बेहतर होगा कि घर में चौकोर या आयताकार डाइनिंग टेबल हो।
. ध्यान रखें कि डाइनिंग टेबल घर के बीच में या किचन के बीच में न हो।
. डाइनिंग टेबल बीम के नीचे नहीं होनी चाहिए, क्योंकि इससे वास्तु दोष होता है और स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होने की संभावना रहती है।
. डाइनिंग टेबल के पास टीवी सेट रखना सही नहीं है। खाना खाते समय टीवी देखने से बचना चाहिए।

बेडरूम फर्नीचर वास्तु टिप्स

. वास्तु के अनुसार, बेडरूम में दक्षिण या पश्चिम की दीवार के साथ वार्डरोब रखने की सलाह दी जाती है। ध्यान रखें कि अलमारी के दरवाजे पूर्व या उत्तर की ओर खुले।
. कमरे में एसी, टीवी सेट और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स दक्षिण-पूर्व में रखें। वैसे अगर बेडरूम में टीवी न हो तो बेहतर है।
. ड्रेसिंग टेबल को दक्षिण या पश्चिम में रखें और जितना हो सके कांच को ढक दें। सोते समय कांच में प्रतिबिंब नहीं दिखना चाहिए, क्योंकि यह स्वास्थ्य को प्रभावित करता है।
. स्टडी टेबल को कमरे के उत्तर या पूर्व दिशा में रख सकते हैं।

PunjabKesari

स्टडी रूम फर्नीचर वास्तु टिप्स

. स्टडी रूम को घर के पश्चिम, उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पश्चिम में रखना बेहतर होता है।
. आजकल कई घरों में स्टडी टेबल छोटे आकार की होती है और दीवार से जुड़ी होती है। पढ़ाई के दौरान बच्चे का ध्यान भटकता है क्योंकि स्टडी टेबल से सटी दीवार पर कबार्ड बना दिया जाता है। इसलिए ऐसी व्यवस्था से बचें।
. स्टडी टेबल के सामने की जगह खुली रखें। वास्तु के अनुसार, यह बच्चे को ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है।
. अगर स्टडी टेबल को इस तरह रखा जाए कि बच्चे के पढ़ते समय उसका चेहरा पूर्व या उत्तर की ओर हो तो वास्तु के अनुसार यह अच्छा माना जाता है।

फर्नीचर से जुड़े वास्तु के नियमों का पालन करने से घर में कोई कलह या तनाव नहीं होगा और यहां हमेशा सुख और शांति का वास रहेगा।

Related News