12 MAYWEDNESDAY2021 2:41:34 AM
Nari

क्या आपके बच्चे को रात में सोने नहीं देती खांसी? ये देसी उपाय रहेंगे कारगर

  • Edited By neetu,
  • Updated: 23 Apr, 2021 06:04 PM
क्या आपके बच्चे को रात में सोने नहीं देती खांसी? ये देसी उपाय रहेंगे कारगर

छोटे बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में वे जल्दी ही बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। बदलते मौसम में उन्हें खांसी की समस्या अधिक होती है। खासतौर पर वे रात के समय पर इस परेशानी से जुझते हैं। इसी कारण वे रात को ठीक से सो भी नहीं पाते हैं। मगर नींद पूरी ना होने से वे अन्य बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं। मगर आज हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं। इसकी मदद से बच्चे को खांसी की समस्या से आराम मिलेगा। 

बच्चे को खांसी आने का कारण

 

वायरल इंफेक्शन

बच्चे की इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में वे वायरल इंफेक्शन की चपेट में जल्दी आ जाते हैं। इसतरह सर्दी और फ्लू की चपेट में आने से उनके गले में खराश व खांसी होती है।

PunjabKesari

एलर्जी

बच्चे को किसी चीज से एलर्जी होने से भी खांसी की परेशानी हो सकती है। आमतौर पर छोटे बच्चों को धूल-मिट्टी से एलर्जी होती है। 

अस्थमा

खांसी आने का एक कारण अस्थमा भी माना जा सकता है। इसके कारण बच्चे को छाती में भारी फील होने से सांस लेने में मुश्किल होने लगती है।  

इन उपायों से बच्चे को दिलाए खांसी से आराम

 

मिश्री

बच्चे को मिश्री खिलाएं। यह गले में नमी बरकरार रखने में मदद करती है। ऐसे में गले की खराश, जलन व खांसी से छुटकारा मिलेगा। आप चाहे तो इसकी जगह पर बच्चे को टॉफियां भी खिला सकती है। 

हल्दी और शहद

इनमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल व औषधीय गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में 1 चम्मच शहद में चुटकीभर खिलाएं। शह से गला तर रहेगा। ऐसे में सूखी खांसी से आराम मिलेगा। मगर इस बात का ध्यान रखें कि यह मिश्रण 1 साल से बड़े बच्चे को ही खिलाएं। 

PunjabKesari

नीलगिरि तेल

2 साल से कम बच्चे की खांसी दूर करने के लिए उसके सिरहाने पर नीलगिरि तेल की 2-3 बूंदें डालें। इससे उसकी बंद नाक खुलने में मदद मिलेगी। आप चाहे तो इसे किसी कपड़े पर डालकर भी बच्चे को सूंघा सकती है। इसके अलावा इसे बच्चे के कपड़े पर लगाना भी सही रहेगा। मगर इससे बच्चे के गले की मसाज करने की गलती ना करें। 

गर्म सूप 

बच्चे को सर्दी, खांसी से बचाने के लिए सब्जियों या चिकन सूप पिलाएं। इससे सर्दी, खांसी, गले का दर्द व खराब से आराम मिलेगा। साथ ही बच्चे की इम्यूनिटी बढ़ेगी।  

हल्दी

हल्दी पोषक तत्व, एंटी-बैक्टीरियल व औषधीय गुणों से भरपूर होती है। ऐसे में इसका सेवन करने से इम्यूनिटी तेज होने के साथ मौसमी बीमारियों से बचाव रहता है। इसके लिए आप बच्चे को रोजाना सोने से पहले 1 गिलास गुनगुने दूध में 2 चुटकी हल्दी मिलाकर पिला सकती है। अगर आपका बच्चे छोटा है तो उसे इस दूध के कुछ चम्मच पिलाएं। इससे बच्चे को खांसी, जुकाम आदि मौसमी बीमारियों से राहत मिलेगी। 

Related News