14 JULSUNDAY2024 4:28:37 AM
Nari

Health Tips: बार-बार आती है मतली तो ऐसे पाएं समस्या से राहत

  • Edited By palak,
  • Updated: 18 Sep, 2022 01:25 PM
Health Tips: बार-बार आती है मतली तो ऐसे पाएं समस्या से राहत

बहुत से लोगों को मतली की समस्या रहती है। मतली को जी मिचलाना भी कहते हैं। सफर के दौरान, सिरदर्द, चिंता, एसिडिटी, एंग्जायटी के कारण यह समस्या हो सकती है। लेकिन बहुत से लोगों के मन में यह सवाल भी रहता है कि मतली क्यों आती है? एक्सपर्ट्स के अनुसार जी मिचलाने की समस्या खराब पेट या पेट संबंधी समस्याओं के कारण होती हैय़। इसके अलावा जब आप यात्रा करते हैं तो नाक और कान पर हवा, धूल मिट्टी पड़ती है जिसके काऱण नाक और कान दोनों ही मस्तिष्क को अलग-अलग संकेत देते हैं। जिससे मतली की समस्या हो सकती है। प्रेगनेंसी के शुरुआती महीनों में भी हार्मोन्स असुंतिल होने के कारण मतली की समस्या हो सकती है। तो चलिए आपको बताते हैं कि इसके कारण क्या-क्या होते हैं और आप इससे कैसे राहत पा सकते हैं...

मतली के कुछ और कारण

दवाइयां खाने के कारण

बहुत से लोगों को बीमारियों से राहत पाने के लिए दवाईयों का सेवन करना पड़ता है। तरह-तरह की दवाईयां जैसे कीमोथेरेपी, ड्रग्स, एंटीबॉयोटिक्स, पेन किलर्स के कारण भी एसिडिटी होती है। इससे आपको मतली की समस्या हो सकती है। 

PunjabKesari

शरीर में दर्द के कारण 

इसके अलावा यदि आपके शरीर के किसी भी अंग में दर्द रहता है जैसे पेट में दर्द, अपेंडिक्स, फूड प्वाइजनिंग जैसी समस्याओं के कारण भी आपका जी मिचला सकता है। 

एंग्जायटी के कारण 

एंग्जायटी और स्ट्रेस के कारण भी आपको मतली की समस्या हो सकती है। 

PunjabKesari

शारीरिक इंफेक्शन के कारण 

पित्त में इंफेक्शन होने से से भी मतली हो सकती है। अगर आपके पेट में इंफेक्शन है, एसिड बनता है, डिहाईड्रेशन की समस्या, रात में एल्कोहल पीने से भी मतली हो सकती है। 

कैसे पाएं राहत? 

. मतली से राहत पाने के लिए आप मसालेदार भोजन से दूर रहें। 
. पर्याप्त मात्रा में संतुलित आहार लें। 

PunjabKesari
. तरल पदार्थ और पानी ज्यादा से ज्यादा पिएं। इससे आपको डिहाइड्रेशन की समस्या से राहत मिलेगी। 
. स्ट्रेस और एंग्जायटी से राहत पाने के लिए आप मेडिटेशन और योग पर्याप्त मात्रा में करें। 

PunjabKesari
. घरेलू उपाय जैसे - नींबू, संतरा, मौसमी और अदरक आप चबा सकते हैं। इससे भी आपको मतली से काफी आराम मिलेगा। पुदीना, दालचीनी, लौंग और मुलेठी जैसी चीजों को आप डाइट में शामिल कर सकते हैं। 

डॉक्टर से करें संपर्क 

यदि आपको मतली के अलावा चक्कर आते हैं, शरीर में दर्द रहती है, पसीना आता है, ड्राईनेस या दस्त की समस्या है तो भी आप डॉक्टर से संपर्क जरुर करें। बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी दवाई का सेवन न करें। 


 

Related News