17 JUNMONDAY2019 8:58:51 PM
Nari

World Blood Donor Day: आपको सेहत तो दूसरों को जीवनदान, जानिए रक्तदान करने के 7 फायदे

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 14 Jun, 2019 10:55 AM
World Blood Donor Day: आपको सेहत तो दूसरों को जीवनदान, जानिए रक्तदान करने के 7 फायदे

पूरी दुनिया में 14 जून को वर्ल्ड ब्लड डॉनर डे यानि विश्व रक्तदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है। साल 2004 में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा शुरू किए इस कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों को खूनदान करने के लिए प्रोत्साहित करना है ताकि समय रहते रक्त जरूरतमंद की जान बचाई जा सके।

इस दिन जगह-जगह कई ब्लड डोनेशन कैंप लगाए जाते है, जहां जाकर आप ब्‍लड डोनेट कर सकते हैं लेकिन अभी भी बहुत बड़ा मिथ लोगों के दिमाग में है कि अगर वह खून दान करेंगे तो उनके शरीर में कमजोरी आ जाएगी या उनके शरीर में खून की कमी हो जाएगी जबकि ऐसा कुछ नहीं है ब्लड डोनेट करने से आपको कोई नुकसान नहीं होगा बल्कि यह आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है। चलिए आपको बताते हैं कि खून देने से आपको क्या-क्या फायदे होते हैं लेकिन उससे पहले जा लें कि रक्तदान कर कौन कौन सकता है।

कौन कर सकता है रक्तदान?

-कोई भी स्वस्थ व्यक्ति, जिसकी आयु 18 से 68 वर्ष के बीच हो।
-जिसका वजन 45 किलोग्राम से अधिक हो।
-जिसके रक्त में हीमोग्लोबिन 12 प्रतिशत से अधिक हो।

PunjabKesari

इन बातों का ध्यान रखें

ऐसा भी नहीं है कि आप रक्त दान करें तो साथ की साथ ही काम शुरु कर दें। इसके अलावा भी कुछ बातों पर ध्यान देने की बहुत जरूरत है क्योंकि कुछ लोगों को घबराहट, बैचेनी और कमजोरी महसूस होती है लेकिन अगर इन बातों पर ध्यान दिया जाए तो यह प्रॉब्लम कुछ ही देर में सही भी हो जाती है जैसे-

 

-रक्तदान से तीन घंटे पहले पौष्टिक भोजन लें।
-रक्तदान के बाद दिए जाने वाले नाश्ते को खाना बहुत जरूरी होता है। 
-खून देने से 24 घंटे पहले से ही शराब, धूम्रपान और तम्बाकू का सेवन ना करें।
-खुद की मेडिकल जांच के बाद ही रक्तदान करें और डॉक्टर को सुनिश्चित करें कि आपको कोई बीमारी ना हो. 
-खून के दान करने से पहले अच्छी नींद लें। तला, मसालेदार और आइसक्रीम को अवॉइड करें।

ब्लड डोनेट करने से आपको भी मिलेंगे ये फायदे...
वजन घटने में मददगार

शोध के मुताबिक, 450 मि.ली. लीटर रक्तदान करने से 650 कैलोरी कम करने में मदद मिलती है। अगर आप भी वजन घटाना चाहते हैं तो नियमित रूप से खून दान जरूर करें।

PunjabKesari

नहीं होता हेमोक्रोमैटोसिस

यह एक ऐसी अवस्था है, जिसमें शरीर जरूर से ज्यादा आयरन अवशोषित कर लेता है लेकिन रक्तदान करने से आप खुद को बचा सकते हैं। हालांकि आपको रक्तदान करने से पहले एक बाद डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए, ताकि आपको पता चल जाए कितनी मात्रा में खून दान करना है।

दिल की बीमारियों से बचाए

इससे शरीर में आयरन की मात्रा कंट्रोल में रहती है, जिससे दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है। दरअसल, आयरन की मात्रा अधिक होने के से शरीर में ऑक्सीडेटिव की क्षति हो सकती है, जो हार्ट डिसीज, स्ट्रोक और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।

हार्ट अटैक का खतरा होगा कम

इससे हार्ट अटैक की संभावनाएं भी कम होती हैं क्योंकि रक्तदान से खून का थक्का नहीं जमता। साथ ही इससे खून कुछ मात्रा में पतला हो जाता है और हार्ट अटैक का खतरा टल जाता है।

PunjabKesari

लिवर को रखे स्वस्थ

खून डोनेट करने से लिवर से जुड़ी समस्याओं में राहत मिलती है। दरअसल, शरीर में ज्यादा आयरन की मात्रा लिवर पर दवाब डालती है लेकिन रक्तदान से आयरन की मात्रा बैलेंस हो जाती है।

कैंसर से बचाव

कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव के लिए भी आप रक्‍तदान करें। नियमित रक्‍तदान करने से शरीर में मौजूद विषैले पदार्थों को बाहर निकल जाते हैं, जिससे कैंसर का खतरा कम होता है।

मानसिक शांति

रक्तदान करने से आप बहुत अच्छा महसूस करते हैं और इससे मानसिक शांति भी मिलती है।

मिलती है एनर्जी

रक्तदान से शरीर में एनर्जी आती है क्योंकि दान के बाद नए ब्लड सेल्स बनते हैं, जिससे शरीर में तंदरूस्ती व एनर्जी आती है।

PunjabKesari

लेकिन इन लोगों को नहीं करना चाहिए रक्तदान...

कैंसर, हृदयरोग, किडनी का रोग, मिर्गी, ग्रंथि रोग से पीड़ित व्यक्ति।
एचआईवी, डेंगू, मलेरिया, हेपेटाइटिस बी या सी से ग्रस्त व्यक्ति।
अचानक वजन घटने, सिजोफ्रेनिया या मधुमेह की शिकायत हो।
मासिक चक्र के दौर से गुजर रही महिलाएं।
बच्चे को स्तनपान करवाने वाली महिलाएं।

 

रक्तदान सबसे बड़ा दान है इसलिए इस दान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लें आपकी एक कोशिश किसी को जीवनदान दे सकती है।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad