23 JULTUESDAY2024 5:43:41 PM
Nari

पहली बार महिला के हाथ रेलवे की कमान,  तेजतर्रार ऑफिसर बनी बोर्ड की अध्यक्ष और CEO

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 01 Sep, 2023 11:19 AM
पहली बार महिला के हाथ रेलवे की कमान,  तेजतर्रार ऑफिसर बनी बोर्ड की अध्यक्ष और CEO

पहली बार रेलवे बोर्ड की कमान एक महिला के हाथ सौपी गई है। भारतीय रेलवे बोर्ड के इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है। सरकार ने  जया वर्मा सिन्हा को रेलवे बोर्ड में अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। सुश्री सिन्हा पहली महिला है जो रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष पद पर नियुक्त की गयी हैं। 

PunjabKesari
वह अनिल कुमार लाहौटी की जगह लेंगी। वर्तमान में सदस्य ( संचालन और बिजनेस डेवलपमेंट) सुश्री सिन्हा एक सितम्बर यानी कि आज से अपना नया पदभार संभालेंगी। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक नयी रेलवे बोर्ड अध्यक्ष का कार्यकाल 31 अगस्त 2024 तक रहेगा। सुश्री सिन्हा ने 1988 में भारतीय रेलवे यातायात सेवा में शामिल हुई तथा दक्षिण पूर्व रेलवे, उत्तर रेलवे और पूर्व रेलवे में विभिन्न प्रशासनिक पदों पर अपनी सेवाएं दे चुकी है।

PunjabKesari
जया वर्मा पूर्व रेलवे के सियालदह डिवीजन में मंडल रेल प्रबंधक और दक्षिणी पूर्व रेलवे में मुख्य वाणिज्य प्रबंधक भी रही हैं। बंगलादेश में भारतीय उच्चायोग में रेलवे सलाहकार रहने के दौरान सिन्हा के कार्यकाल में कोलकाता से ढाका के लिए मैत्री एक्सप्रेस का उद्घाटन हुआ था। हाल ही में बालासोर में हुए कोरमंडल एक्सप्रेस हादसे के समय में जया वर्मा सिन्‍हा ने काफी महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 

PunjabKesari
जया वर्मा की गिनती तेजतर्रार महिला ऑफिसरों में होती हैं,  रेलवे के कई अहम पदों पर पहुंचने वाली वे इकलौती महिला हैं। उन्होंने अपनी शुरूआती पढ़ाई इलाहाबाद के सैंट मैरी कांवेंट स्कूल से की थी।  रेलवे की नौकरी के अलावा उन्हें फोटोग्राफी का शौक है। उन्हें पशु-पक्षियों के लगाव है।

Related News