12 MAYWEDNESDAY2021 2:35:27 AM
Nari

धमकी मिलने के बाद लंदन गए SII के CEO अदार पूनावाला- कहा, जुलाई तक रहेगी वैक्सीन की किल्लत

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 03 May, 2021 03:11 PM
धमकी मिलने के बाद लंदन गए SII के CEO अदार पूनावाला- कहा, जुलाई तक रहेगी वैक्सीन की किल्लत

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला भारत छोड़ लंदन चले गए हैं। दरअसल, अदार पूनावाला ने कोविड-19 की वैक्सीन की आपूर्ति बढ़ाने को लेकर अपने ऊपर भारी दबाव की बात कही है। उन्होंने कहा कि सब भार उनके सिर पर आ  गया है जबकि यह काम अकेले के वश का नहीं है। 


धमकी के बाद भारत सरकार ने अदार पूनावाला को दी ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा

हाल ही में पूनावाला को मिली एक धमकी के बाद भारत सरकार ने उन्हें  ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा भी प्रदान की है। सरकारी सुरक्षा दिए जाने के बाद  पूनावाला ने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन की आपूर्ति की मांग को लेकर भारत के सबसे शक्तिशाली लोगों में से कुछ ने उनसे फोन पर उग्रतापूर्वक बातें की हैं।

 

पत्नी और बच्चों के साथ लंदन पहुंचे SII के CEO 
बतां दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) भारत में ऑक्सफोर्ड/ एस्ट्राजेनिका की कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड वैक्सीन का उत्पादन कर रही है। उन्होंने कहा कि इस दवाब के चलते ही वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ लंदन आ गए हैं। भारत सरकार के अधिकारियों के अनुसार पूनावाला को संभावित खतरों को देखते हुए सुरक्षा दी गई। देश में किसी भी जगह उनके साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवान उनकी सुरक्षा में होंगे। इनमें 4-5 कमांडों होंगे।


PunjabKesari
 

पूनावाला ने कहा, कि मैं लंदन तय समय से अधिक रूक रहा हूं, क्योंकि मैं उस स्थिति में वापस नहीं जाना चाहता। सब कुछ मेरे कंधों पर पड़ गया है, लेकिन मैं इसे अकेले नहीं कर सकता...मैं ऐसी स्थिति में
नहीं रहना चाहता, जहां आप सिर्फ अपना काम करने की कोशिश कर रहे हों।


सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला भारत छोड़ लंदन चले गए हैं। दरअसल, अदार पूनावाला ने कोविड-19 की वैक्सीन की आपूर्ति बढ़ाने को लेकर अपने ऊपर भारी दबाव की बात की। उन्होंने कहा कि सब भार उनके सिर पर आ  गया है जबकि यह काम अकेले के वश का नहीं है। हाल ही में पूनावाला को मिली एक धमकी के बाद भारत सरकार ने उन्हें  ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा भी प्रदान की है। सरकारी सुरक्षा दिए जाने के बाद  पूनावाला ने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन की आपूर्ति की मांग को लेकर भारत के सबसे शक्तिशाली लोगों में से कुछ ने उनसे फोन पर उग्रतापूर्वक बातें की हैं।
 

पत्नी और बच्चों के साथ लंदन पहुंचे SII के CEO 
बतां दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) भारत में ऑक्सफोर्ड/ एस्ट्राजेनिका की कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड वैक्सीन का उत्पादन कर रही है। उन्होंने कहा कि इस दवाब के चलते ही वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ लंदन आ गए हैं। भारत सरकार के अधिकारियों के अनुसार पूनावाला को संभावित खतरों को देखते हुए सुरक्षा दी गई। देश में किसी भी जगह उनके साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवान उनकी सुरक्षा में होंगे। इनमें 4-5 कमांडों होंगे। पूनावाला ने कहा, कि मैं लंदन तय समय से अधिक रूक रहा हूं, क्योंकि मैं उस स्थिति में वापस नहीं जाना चाहता। सब कुछ मेरे कंधों पर पड़ गया है, लेकिन मैं इसे अकेले नहीं कर सकता...मैं ऐसी स्थिति में नहीं रहना चाहता, जहां आप सिर्फ अपना काम करने की कोशिश कर रहे हों।



PunjabKesari


'वैक्सीन की किल्लत जुलाई माह तक बनी रहेगी'
सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रमुख अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में वैक्सीन की किल्लत जुलाई माह तक बनी रहेगी. बतां दें कि अदार पूनावाला का ये बयान चिंता का विषय है क्योंकि 1 मई से भारत सरकार ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए वैक्सीनेशन अभियान शुरू कर दिया हैं। ऐसे में कई राज्यों में स्टाॅक उपलब्ध नहीं हैं जिससे लोग काफी परेशान हैं। 

इन राज्यों ने वैक्सीनेशन को रोका-
वैक्सीन की कमी के चलते महाराष्ट्र और दिल्ली सहित देश के कई राज्यों ने 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकाकरण के कार्यक्रम को कुछ दिनों के लिए टाल दिया है।

एक दिन में 100 मिलियन डोज बनाने के लिए जुलाई तक का लगेगा समय
 अदार पूनावाला ने कहा कि एक दिन में 100 मिलियन डोज बनाने की क्षमता तक पहुंचने में जुलाई माह तक का समय लग जाएगा. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की कमी को लेकर उन्हें व उनके इंस्टीट्यूट को राजनेताओं व उनके आलोचकों ने बदनाम करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि उन्हें वैक्सीन बनाने को लेकर पहले से कोई निर्देश नहीं था।  हमें अंदाजा नहीं था कि हमें एक साल में एक बिलियन डोज बनाने होंगे।
 

'वैक्सीन की किल्लत जुलाई माह तक बनी रहेगी'
सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रमुख अदार पूनावाला ने कहा है कि भारत में वैक्सीन की किल्लत जुलाई माह तक बनी रहेगी. बतां दें कि अदार पूनावाला का ये बयान चिंता का विषय है क्योंकि 1 मई से भारत सरकार ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए वैक्सीनेशन अभियान शुरू कर दिया हैं। ऐसे में कई राज्यों में स्टाॅक उपलब्ध नहीं हैं जिससे लोग काफी परेशान हैं। 
 

इन राज्यों ने वैक्सीनेशन को रोका-
वैक्सीन की कमी के चलते महाराष्ट्र और दिल्ली सहित देश के कई राज्यों ने 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकाकरण के कार्यक्रम को कुछ दिनों के लिए टाल दिया है।
 

 एक दिन में 100 मिलियन डोज बनाने के लिए जुलाई तक का लगेगा समय
 अदार पूनावाला ने कहा कि एक दिन में 100 मिलियन डोज बनाने की क्षमता तक पहुंचने में जुलाई माह तक का समय लग जाएगा. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की कमी को लेकर उन्हें व उनके इंस्टीट्यूट को राजनेताओं व उनके आलोचकों ने बदनाम करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि उन्हें वैक्सीन बनाने को लेकर पहले से कोई निर्देश नहीं था।  हमें अंदाजा नहीं था कि हमें एक साल में एक बिलियन डोज बनाने होंगे।
 

Related News