18 SEPWEDNESDAY2019 6:28:39 AM
health

पेशाब से खून आना है इन 8 बीमारियों का संकेत, ना करें इग्नोर

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 18 Aug, 2019 09:01 AM
पेशाब से खून आना है इन 8 बीमारियों का संकेत, ना करें इग्नोर

यूरिन के जरिए शरीर से विषैले पदार्थ, गंदगी और अतिरिक्त तरल निकल जाते हैं, जिससे बॉडी डिटॉक्सिफाई हो जाती है। आमतौर पर यूरिन का रंग हल्का पीला होता है। कई बार पेशाब का रंग डार्क पीला या लाल आने लगता है, जिसे लोग मामूली समझ इग्नोर कर देते हैं लेकिन पेशाब का बदला रंग किसी बीमारी का संकेत भी हो सकता है। ऐसे में बेहतर यही होगा कि आप इस समस्या को नजरअंदाज करने की बजाए डॉक्टर से चेकअप करवाएं।

चलिए आपको बताते हैं कि आखिर किन किन कारणों से पेशाब करते समय खूून आ सकता है।

यूरिनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन (UTI)

यूरिनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन (यूटीआई) महिलाओं में होने वाली बेहद आम समस्या होती है। बैक्टीरिया जब यूरेथरा (पेशाब को ब्लैडर से बाहर निकालने वाली ट्यूब) में प्रवेश करता है तो यूरिन ट्रेक संक्रमित हो जाता है, जिससे यूरिन पास करते समय खून आना और जलन की समस्या होती है। ऐसे में आपको डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए।

PunjabKesari

गुर्दे में पथरी या ट्यूमर

अगर आपको गुर्दे में पथरी या ट्यूमर है तो इसके कारण भी आपको यह समस्या हो सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके कारण पेशाब प्रक्रिया में रूकावट पैदा होती है। ऐसे में डॉक्‍टर सर्जरी करवाने की सलाद देते हैं।

ग्‍लोमेरूलोनेफ‍रिटिस

छोटे व बढ़ते बच्चों में यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है लेकिन कई बार बड़े लोग को भी इस समस्‍या का सामना करना पड़ता है। ग्‍लोमेरूलोनेफ‍रिटिस या ग्‍लोमेरूलर नेफीरिटिस के कारण भी यूरिन पास करते समय खून आना आम है।

किडनी से जुड़ी बीमारी

किडनी से रक्त को छानने का काम ग्लोमेरुली (गुर्दे के अंदर की छोटी सरचनाएं) करता है, जिन्हें ग्लोमेरुलोनेफ्राइटिस नुकसान पहुंचाता है। इसकी वजह से गुर्दे शरीर के विषाक्त पदार्थ को बाहर नहीं निकाल पाते हैं और यूरिन पास करते समय जलन, दर्द और खून आने लगता है।

PunjabKesari

प्रोस्टेट ग्रंथि का बढ़ना

इसका एक कारण प्रोस्टेट ग्रंथि का बढ़ना भी है। प्रोस्टेट ग्रंथि मूत्राशय के नीचे और मलाशय के सामने होती है, जो ग्रंथि प्रजनन के लिए वीर्य का उत्पादन करती है। अगर प्रोस्टेट बढ़ जाता है तो पेशाब में तेज दर्द के साथ खून आने की समस्या भी हो सकती है।

ब्लैडर कैंसर

प्रोस्टेट और ब्लैडर कैंसर की वजह से भी पेशाब में खून आने की समस्या हो सकती है। शोध बताते हैं कि 10 में से एक पुरुष को प्रोस्टेट कैंसर की समस्या से गुजरना पड़ता है। 

पित्‍ताशय में ट्यूमर के कारण

गुर्दे या पित्‍ताशय में ट्यूमर होने पर भी पेशाब में खून आने लगता है। ऐसे में डॉक्‍टरों द्वारा सर्जरी की मदद से इसका इलाज किया जाता है।

सिस्टिक ग्रोथ

महिलाओं में सिस्‍ट का बढ़ जाने के कारण एक समय के बाद खून आना शुरू हो जाता है। आमतौर पर सिस्‍ट, गुर्दे में बढ़ता है जिसके कारण पेशाब करने में दर्द और जलन की समस्या भी होती है। इसके कारण महिलाओं को असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता है।

PunjabKesari

अगर आप भी लंबे समय से पेशाब के दौरान जलन या पेशाब के साथ खून आने की दिक्कत का सामना कर रहे हैं तो उसे हल्के में ना लें और किसी अच्छी डॉक्टर से चेकअप करवाएं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News