21 OCTMONDAY2019 5:35:35 AM
Nari

आंवले से बने 5 Hair Mask, सिल्की के साथ हैवी भी होंगे बाल

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 19 Apr, 2019 06:31 PM
आंवले से बने 5 Hair Mask,  सिल्की के साथ हैवी भी होंगे बाल

हर महिला काले-घने और शाइनी बाल चाहती है लेकिन इनकी केयर उतनी ही मुश्किल होती है। अधिकतर महिलाओं के बालों का कलर व टेक्सचर उम्र से पहले ही बदलने लगते हैं जिस वजह से उन्हें सफेद व रूखे, दोमुंहे बालों की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में महिलाएं बालों के कलर को छिपाने व उनके टेक्सचर को सुधारने के लिए कई ब्यूटी प्रॉडक्ट्स इस्तेमाल करती हैं। मगर क्या आपने कभी सोचा है कि बालों मे ऐसा बदलाव क्यों आता है। अगर नहीं तो अब जान लीजिए क्योंकि जब तक आपको इन बदलाव का कारण नहीं मामूल होगा, तब तक आप कोई बेहतर इलाज नहीं ढूंढ सकते है। आज हम आपको बताते हैं बालों में बदलाव का कराण और उनके टेक्सचर को सुधारने के टिप्स।  

बदलते हेयर कलर व टेक्सचर का कारण

हॉर्मोन्स की कमी 

बालों के कलर व टेक्सचर में बदलाव आने की अहम वजह है एस्ट्रोजन हार्मोन्स। शरीर में इस एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी आने से बालों का रंग और उनकी चमक में कमी आने लगती हैं। थायराइड के दौरान इस हॉर्मोन्स में कमी देखने को मिलती है। अगर आपको अपने बालों के टेक्सचर या उनके रंग में बदलाव नजर आ रहा है तो थायराइड का चेकअप एक बार जरूर करा लें।

दवाइयों का ज्यादा सेवन

आज के दौरान हर 10 में से तीसरी महिला दवाइयों का सेवन करती हैं। दवाइयों को सबसे ज्यादा साइड-इफैक्ट बालों में देखने को मिलता है। खासतौर पर बीपी की गोलियां, विटामिन ए सप्लीमेंट, गठिया, रक्त पतला करने के उपचार के दौरान ली जाने वाली दवाएं, दिल के रोगों से जुड़ी दवाएं, कंट्रासेप्टिव दवाएं या नींद की दवाओं के सेवन से धीरे-धीरे बालों को टेक्सर खराब होने लगता है। 

पोषक तत्वों की कमी

ऐसी महिलाएं बहुत कम होती हैं जिनमें हीमोग्लोबीन का स्तर 11 या 12 होता है। दरअसल, जिन महिलाओं के हीमोग्लोबीन में कमी होती है उनमें पोषक तत्वों की कमी होती है। जबकि बालों को सुंदर-घने और चमकदार बालों की विटामिन्स, मिनरल्स, प्रोटीन सभी चीज़ो की जरुरत होती है। इनकी कमी के कारण अक्सर बालों को टेक्सचर बिगड़ने लगता है और बाल सफेद होने लगते है। 

PunjabKesari

फंगल संक्रमण

बालों के टेक्सचर को बिगाड़ने में कहीं न कहीं फंगल संक्रमण का भी हाथ है। दरअसल, कई बार कई बार सिर की त्वचा फंगल संक्रमण की वजह से खराब हो जाती है जिसका असर बालों पर भी पड़ता है। इसके बचाव के लिए उपचार के साथ-साथ हाइजीन पर ध्यान देना बहुत जरूरी है।

बालों के टेक्सचर को सुधारने के लिए बेस्ट होममेड हेयर मास्क
आंवला और शिकाकाई हेयर मास्‍क

यह हेयर मास्‍क बालों के रोम छिद्र खोलकर पोषण देता है। एक बाउल में आंवला व शिकाकाई पाउडर और पानी डालकर पेस्‍ट बनाए और बालों की जड़ों में अच्छे से लगाएं। कम से कम 40 मिनट बाद बालों को अच्छे से धो लें। यह मास्क बालों की गंदगी निकालकर उन्हें शाइनी बनाता है। 

PunjabKesari

आंवला और अंडे का हेयर मास्‍क

1 कप आंवला पाउडर में 2 अंडे मिलाकर मास्क तैयार करें। अब आप इस हेयर मास्‍क को अपने बालों व जड़ों पर लगाएं और सूखने दें। आधा या एक घंटा सूखने के बाद बालों को साफ पानी से धो लें। आप इस हेयर मास्क को हफ्ते में एक बार इस्तेमाल कर सकती हैं। अंडे में प्रोटीन होता हैं जो बालों के रोम और फॉलिकल्‍स को पोषण देने में मदद करता है 


आंवला और नींबू का हेयर मास्‍क

अांवला और नींबू विटामिन सी से भरपूर होते हैं। इनका इस्तेमाल बालों में कोलेजन के स्तर को बढ़ाकर उनके टेक्सचर को सुधारने में मदद करता है। मास्क बनाने के लिए एक बाउल में आंवले व नींबू के रस को अच्‍छे से मिलाएं। और बालों में लगाकर 15 मिनट तक मालिश करें। फिर 15 मिनट रखने के बाद बालों को साफ पानी से धो लें। ऐसा हफ्त में दो बार करें। इससे बालों की जुड़ी हर समस्या दूर रहेगी। 

PunjabKesari
आंवला और करी पत्ता हेयर मास्‍क

एक पैन में नारियल का तेल गर्म करें और उसमें कटा हुआ आंवला और करी पत्ता डालकर अच्छे से भून लें। रा हो जाने के बाद तेल को ठंडा करें। आंवला और करी पत्ता हटाकर तेल से अपने बालों की 30 मिनट तक मालिश करें। इसके बाद बालों में शैंपू कर लें। ऐसा करने से बालों को टेक्सचर अच्छा होगा और बाल मजबूत व शाइनी बने रहेंगे। 


आंवला और मेथी का हेयर मास्‍क

2 बड़े चम्‍मच आंवला पाउडर और 2 बड़े चम्‍मच मेथी पाउडर लेकर इसमें आधा कप गुनगुना पानी मिलाकर पेस्ट तैयार करें। सुबह इस हेयर मास्‍क को अपने बालों व जड़ों में लगाएं और 20 मिनट बाद साफ पानी और शैंपू से धो लें। इससे स्‍कैल्‍प की समस्‍याएं कम होगी और झड़ते व सफेद बालों से राहत मिलेगी। 

PunjabKesari

Related News