Twitter
You are hereNari

सर्दी में भी जरूर खाएं 1 कटोरी दही, सही समय और तरीके से करें सेवन

सर्दी में भी जरूर खाएं 1 कटोरी दही, सही समय और तरीके से करें सेवन
Views:- Sunday, November 25, 2018-6:37 PM

दही डेयरी प्रॉडक्ट्स में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खाद्य पदार्थ है। इसमें मौजूद माइक्रोस्कोपिक बैक्टीरिया और प्रोटीन शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की अपूर्ति करने में मददगार है। कुछ लोग सर्दी के मौसम में इसे खाने से परहेज करते हैं क्योंकि माना जाता है कि इसकी तासीर ठंड़ी होती है लेकिन आयुर्वेद के अनुसार दही की तासीर गर्म होती है। 

सर्दियों में क्यों फायदेमंद है दही?

ठंड़े मौसम के कारण ज्यादातर लोग सर्दी-खांसी, जुकाम, पेट में दर्द आदि जैसी इंफैक्शन का शिकार जल्दी हो जाते हैं। ऐसे में प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना बहुत जरूरी है। अगर नाश्ते में रोजाना 1 कटोरी दही का सेवन करेंगे तो फायदा मिलेगा। कुछ लोग समझते हैं कि इससे परेशानी और भी बढ़ जाएगी जबकि अगर सही मात्रा ओर सही तरीके से दही खाया जाए तो सेहत दुरुस्त रहती है। इस बात का ध्यान रखें कि रात के समय दही खाने से सेहत बिगड़ सकती है।

एक कप दही में 8.5 ग्राम प्रोटीन

दही के 1 कप में 8.5 ग्राम प्रोटीन होती है जो शरीर को जरूरी अमीनो एसिड प्रदान करने में बहुत लाभकारी है। जब बॉडी में अमीनो एसिड की कमी आ जाती है तो इससे मांसपेशियां ठीक तरह से काम नहीं कर पाती। दही में कैल्शियम हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है, इसके अलावा पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व दिल को स्वस्थ रखने और ब्लड प्रैशर कंट्रोल करने का कम करते हैं। इंफैक्शन को दूर करने में भी दही के बैक्टीरिया बहुत फायदेमंद हैं।
PunjabKesari, Strong immunity

दिन में कितना दही खाना जरूरी 

रोजाना एक व्यस्क को 1 कटोरी दही का सेवन करना चाहिए। जो लोग शारीरिक श्रम कम करते हैं उनके लिए आधा कटोरी दही पर्याप्त है। 
PunjabKesari, Curd

कैसा दही खाएं?

दही में गुड बैक्टीरिया होते हैं इसलिए इस बात का ध्यान रखें कि फ्रिज में रखे हुए ठंड़े दही का सेवन न करे क्योंकि इससे सेहत को ज्यादा फायदा नहीं मिलता। हमेशा सामान्य तापमान पर रखा हुआ दही ही खाएं। इसके अलावा बाजार में खरीदा गया दही मिलावटी होता है जो सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है इसलिए हर रोज घर पर फ्रेश दही जमाएं और इसका सेवन करें।
 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by:

Latest News