04 MARTHURSDAY2021 3:20:27 PM
Nari

बीवी-बच्चों को छोड़ संन्यासी बन गए थे विनोद, पिता के निधन के बाद बेटे ने खोला था वापिसी का राज

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 20 Jan, 2021 06:49 PM
बीवी-बच्चों को छोड़ संन्यासी बन गए थे विनोद, पिता के निधन के बाद बेटे ने खोला था वापिसी का राज

बॉलीवुड में ऐसे कई सितारे हैं जिन्होंने करियर के पीक पर आकर ग्लैमर्स इंडस्ट्री छोड़कर साधारण जिंदगी जीने का फैसला लिया। उन्हीं में से एक एक्टर विनोद खन्ना भी थे जो उस वक्त अपने करियर की ऊंचाइयों पर थे जब वो मायानगरी से भागकर ओशो के आश्रम में जाकर बस गए थे। 

परिवार छोड़कर संन्यासी बने विनोद खन्ना

हालांकि, विनोद खन्ना ने अपनी जिंदगी का यह अहम फैसला अपने दोस्त महेश भट्ट के कहने पर लिया था। उन्होंने अपने दोस्त विनोद खन्ना को फिल्मी दुनिया छोड़ आध्यात्म की ओर जाने के लिए प्रेरित किया था। दरअसल, विनोद अपनी मां के निधन के बाद टूट चुके थे। इस दौरान ही महेश भट्ट ने उन्हें ओशो रजनीश के बारे में बताया जिसके बारे में सुनकर विनोद काफी प्रभावित हुए। दोनों ने जाकर ओशो के आश्रम में शरण ली और भगवा चोला पहनकर रहने लगे थे लेकिन कुछ समय बाद महेश भट्ट वहां से निकल आए लेकिन विनोद को ओशो अपने साथ अमेरिका ले गए। मगर करीब 10  साल ओशो की शरण में रहने के बाद उन्होंने फिल्मी दुनिया में वापिसी की। 

PunjabKesari

पिता ने निधन के बाद खोला था बेटे ने यह राज 

अफसोस तब तक फिल्मी गलियारों में उनका पत्ता कट चुका था और अमिताभ बॉलीवुड में छा चुके थे। तो इस तरह उन्होंने अपने करियर को खुद ही बर्बाद कर लिया था। फिर साल 2017 को विनोद का ब्लेडर कैंसर के चलते निधन हो गया। पिता के निधन के 2 साल बाद उनके बेटे अक्षय खन्ना ने इस राज से पर्दा उठाया था कि आखिर क्यों उनके पापा पत्नी और बच्चों को छोड़कर संन्यासी बन गए थे और उन्होंने वापिसी क्यों की। 

PunjabKesari

अक्षय खन्ना ने इंटरव्यू में बताया था कि जब मैं 5 साल का था तब मैं यह बात नहीं समझ सकता था लेकिन अब मैं यह बात समझ सकता हूं। कहा जाता है कि लोगों का ओशो से मोहभंग हो गया था जिसके बाद सभी को अपनी राह खोजनी पड़ी, उनके पिता ने भी इसी वजह से वापिसी की। अगर ऐसा नहीं होता तो वे कभी भी वापस नहीं आते।

बच्चे और बीवी को लोग चिढ़ाते थे खूब 

बता दें कि विनोद खन्ना तो ओशो के आश्रम में जाकर बस गए थे लेकिन इसके पीछे उनकी बीवी और बच्चों को काफी कुछ सहना पड़ा। उनकी पत्नी गीतांजलि बेटों अक्षय और राहुल को स्कूल छोड़ने जातीं तो सभी बच्चे उन्हें यह कहकर चिढ़ाते थे कि तुम्हारा बाप अपने गुरु के साथ भाग गया। ऐसे ताने सुन गीतांजलि बेहद परेशान रहने लगीं और इस वजह से उन्होंने विनोद खन्ना से तलाक ले लिया।

PunjabKesari

फिल्मी दुनिया में वापिसी के बाद विनोद खन्ना ने दूसरी शादी की। दूसरी बीवी से उन्हें एक बेटा हुआ जिसका नाम साक्षी खन्ना है। बात अक्षय की करें तो उनके भाई राहुल खन्ना भी एक्टिंग करते हैं, लेकिन उन्हें अक्षय जितनी पॉपुलैरिटी नहीं मिल पाई। अक्षय खन्ना ने अभी तक शादी नहीं की क्योंकि उनका कहना है कि वो एक रिलेशनशिप में ज्यादा दिनों तक बंधे नहीं रह सकते। इसके अलावा उन्हें बच्चे भी पसंद नही। यहीं वजह है कि उन्होंने अभी तक शादी नहीं की। 

कपूर खानदान का दामाद बनते-बनते रह गया था बेटा 

जानकारी के लिए बता दें कि अक्षय खन्ना कभी कपूर खानदान के दामाद बनने वाले थे। दरअसल, रणधीर कपूर ने करिश्मा का रिश्ता अक्षय के घर भेजा था लेकिन करिश्मा की मां नहीं चाहती थी कि वो यह शादी करें क्योंकि वो करिश्मा को करियर की ऊचाइयों तक लेकर जाना चाहती थी इसलिए यह शादी नहीं हो पाई। 

बात विनोद खन्ना के छोटे बेटे साक्षी खन्ना की करें तो कुछ साल पहले खबरें आई थी कि उन्होंने भी पिता की तरह अध्यात्म की राह चुन ली है।

Related News