14 JULSUNDAY2024 4:33:36 AM
Nari

सफर के दौरान कार में बैठते ही बच्चों को होने लगती है उल्टी तो ये 5 Tips आएंगे काम

  • Edited By palak,
  • Updated: 19 Sep, 2023 01:04 PM
सफर के दौरान कार में बैठते ही बच्चों को होने लगती है उल्टी तो ये 5 Tips आएंगे काम

बहुत से लोग सफर से कतराते हैं क्योंकि इस दौरान उन्हें उल्टी और जी मिचलाने जैसी समस्याएं होने लगती है। सिर्फ बड़े ही नहीं बल्कि बच्चों में भी यह समस्या देखने को मिलती है। कार में बैठते ही बच्चे उल्टी करने लगते हैं। इसे मोशन सिकनेस कहा जाता हैं। कान, आंख और ब्रेन सभी के आपस में तालमेल न बैठने के कारण यह समस्या हो सकती है। इसके कारण बच्चों को सफर के दौरान उल्टी,  चक्कर आना और कमजोरी महसूस होने लगती है। लंबे सफर में बार-बार उल्टी होने के कारण बच्चे को डिहाइड्रेशन भी हो सकती है। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि यदि आपके बच्चों को भी ऐसी कोई परेशानी होती है तो आप उनका बचाव कैसे कर सकते हैं...

क्यों होती है बच्चों को कार में सिकनेस? 

बच्चों को सफर के दौरान उल्टी की समस्या होना एक आम बात है परंतु डॉक्टर्स की मानें तो मोशन सिकनेस तब होती है जब मस्तिष्क को आंतरिक कान, आंखों, जोड़ों और मांसपेशियों की नसों में पूरी जानकारी नहीं मिल पाती। इस वजह से बच्चे का दिमाग यह नहीं समझ पाता कि और उन्हें उल्टी होने लगती है। समय के साथ यह समस्या खुद ही ठीक हो जाती है। 

PunjabKesari

कैसे करें बचाव? 

ऑयली फूड्स न दें 

जब भी आप बच्चों को सफर पर लेकर जा रहे हैं तो उन्हें ऑयली फूड्स बिल्कुल भी न दें। इस दौरान उन्हें ऐसी चीजें खिलाएं जिसे वह आसानी से पचा सकें ताकि उन्हें डिहाइड्रेशन न हो। 

दवाई दें 

अगर आपके बच्चों को हर बार यही समस्या होती है तो सफर शुरु करने से पहले उन्हें डॉक्टरी सलाह पर आप दवाई दे सकते हैं। दवाई लेने से बच्चों का सफर के दौरान जी मिचलाना कम हो जाएगी और उन्हें उल्टी भी नहीं आएगी। 

PunjabKesari

बच्चे का ध्यान भटकाएं

सफर पर जब बच्चे किसी बात या फिर गेम पर अपना फोकस रखते हैं तो भी उन्हें सिर चकराने और उल्टी की समस्या बढ़ सकती है। ऐसे में आप बच्चों का ध्यान किसी एक जगह रखने की जगह उन्हें बाहर देखने के लिए कहें। 

गाड़ी रोकें 

यदि बच्चे को कार में उल्टी आ रही है और उनका मन खराब हो रहा है तो आप कुछ देर के लिए गाड़ी रोक दें। फिर बच्चे को कुछ देर के लिए बाहर टहलने को बोलें। इससे बच्चे को मोशन सिकनेस कम होगा। 

खिड़की खोल दें

इसके अलावा उन्हें इस परेशानी से बचाने के लिए खिड़की को पूरे सफर में खोलकर रखें। कई बार खिड़की बंद होने के कारण एसी के दौरान भी बच्चे को यह समस्या हो सकती है। ऐसे में आप खिड़की खोलकर बाहर की फ्रेश हवा गाड़ी में आने दें ताकि बच्चे को आराम मिले। 

PunjabKesari

ये टिप्स भी आएंगे काम  

सफर के दौरान बच्चे को उल्टी आना एक आम बात है परंतु ज्यादा उल्टी आने के कारण उन्हें डिहाइड्रेशन भी हो सकती है। इससे बच्चों को बचाने के लिए कुछ समय में उन्हें कम मात्रा में थोड़ा-थोड़ा पानी पिलाते रहें। इससे वह डिहाइड्रेशन से बचे रहेंगे और यदि उल्टी करने के कारण बच्चे का गला पूरी तरह से छिल गया है तो डॉक्टर को संपर्क  करें।
 

Related News