16 APRFRIDAY2021 6:07:12 PM
Nari

माही-जय ने गोद लिए बच्चों का छोड़ा साथ, Open Letter लिख कपल ने यूं दिया आरोपों का जवाब

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 06 Mar, 2021 06:35 PM
माही-जय ने गोद लिए बच्चों का छोड़ा साथ, Open Letter लिख कपल ने यूं दिया आरोपों का जवाब

टीवी इंडस्ट्री के क्यूट कपल्स में से एक जय भानुशाली और माह विज के घर 2019 में बेटी तारा ने जन्म लिया था। तारा के जन्म से पहले जय और माही ने दो बच्चों खुशी और राजवीर को गोद लिया था जो कि उनकी कामवाली के बच्चें थे। कपल अक्सर दोनों की तस्वीरें और वीडियोज शेयर करते रहते थे लेकिन कुछ दिनों से जय और माही चर्चा में बने हुए हैं। उन पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि तारा के जन्म के बाद कपल ने गोद लिए बच्चों को छोड़ दिया है। 

जय-माही पर लगे आरोप 

दरअसल, हाल ही में माही विज एयरपोर्ट पर सपोर्ट हुई थी। उनके साथ तारा तो दिखाई दी मगर खुसी और राजवीर नहीं थे। उसके बाद से कपल पर सवाल खड़े किए जाने लगे के माही और जय ने उन बच्चों को छोड़ दिया है अब वे उनका ध्यान नहीं रखते। 

PunjabKesari

कपल ने लिखा ओपन लेटर

वहीं अब कपल ने इन आरोपों का जवाब देते हुए एक ओपन लेटर शेयर किया है। ओपन लेटर में लिखा गया है, 'आप में से बहुत से लोग सवाल पूछ रहे हैं, कुछ भी बोल रहे हैं और बहुत कुछ लिख रहे हैं जो कि बिल्कुल गलत है। तारा ने हमारी जिंदगी में एक आर्शीवाद के रुप में प्रवेश किया है लेकिन खुशी और राजवीर के लिए हमारी भावनाएं को यह नहीं बदलता है। खुशी जब हमारी जिंदगी में आई तो हम पेरेंट्स बन गए थे लेकिन हम यह भी जानते हैं कि उनके लिए सभी फैसले लेने का अधिकार हम से पहले उनके असली माता-पिता का है।' 

 

सभी आरोपों को बताया गलत

कपल ने आगे लिखा, 'खुशी और राजवीर के असली पेरेंट्स चाहते थे कि दोनों मुंबई में कुछ समय बिताने के बाद अपने होमटाउन लौट जाएं और अपने परिवार के साथ रहें। आज लोग जो सवाल उठा रहे हैं कि हमारे साथ वो बच्चे क्यों नहीं दिख रहे हैं या फिर ये सोच रहे हैं कि हमने उन्हें छोड़ दिया तो हम यही कहना चाहते हैं कि ऐसा प्लीज ना करें। इससे हमें भी दुख होता है और हमारे बच्चों के बड़े होने पर यह उन्हें नुकसान भी पहुंचाएगा।' 

PunjabKesari

वीडियो काॅल के जरिए बच्चों से होती है बात

उन्होंने आगे लिखा, 'हम हमारे तीनों बच्चों को एक जैसा ही प्यार करते हैं। वीडियो काॅल और मैसेज के जरिए हम उन्हें अपनी करीब रखते हैं। सबसे अच्छी बात तो यह है कि दोनों बच्चे यहां आते रहेंगे और उनके पास जिंदगीभर के लिए दो घर होंगे। हम सभी त्योहार यहां तक कि खुशी का जन्मदिन भी एकसाथ मनाते हैं।' 

Related News