02 OCTSUNDAY2022 11:56:39 PM
Nari

Achiever: पहली बार महिला के हाथ में दी गई देश की सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था की कमान

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 08 Aug, 2022 11:51 AM
Achiever: पहली बार महिला के हाथ में दी गई देश की सबसे बड़ी वैज्ञानिक संस्था की कमान

वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद की कमान पहली बार महिला के हाथ सौंपी गई है। वरिष्ठ वैज्ञानिक नल्लाथम्बी कलाइसेल्वी सीएसआईआर की पहली महिला महानिदेशक बन गई हैं। लिथियम आयन बैटरी के क्षेत्र में अपने काम से ख्याति पाने वाली कलाइसेल्वी अभी तमिलनाडु के करईकुडी में सीएसआईआर-केंद्रीय विद्युत रासायनिक अनुसंधान संस्थान (सीईसीआरआई) की निदेशक हैं।

PunjabKesari

सीएसआईआर देशभर के 38 अनुसंधान संस्थानों का एक संघ है। कार्मिक मंत्रालय के शनिवार को जारी एक आदेश के अनुसार नल्लाथम्बी शेखर मांडे का स्थान लेंगी, जो अप्रैल में सेवानिवृत्त हो गए। कलाइसेल्वी वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग की सचिव का प्रभार भी संभालेंगी। उनकी नियुक्ति दो साल की अवधि के लिए है। कलाइसेल्वी ने सीएसआईआर में अपनी नौकरी की शुरुआत करते हुए संस्थान में अच्छी-खासी साख बनाई और फरवरी 2019 में सीएसआईआर-सीईसीआरआई का नेतृत्व करने वाली पहली महिला बनीं। उन्होंने इसी संस्थान में प्रवेश स्तर के वैज्ञानिक के तौर पर अनुसंधान में अपना करियर शुरू किया था।

PunjabKesari
तमिलनाडु में तिरुनेलवेल्ली जिले के छोटे-से शहर अंबासमुद्रम की रहने वाली कलाइसेल्वी ने तमिल माध्यम से स्कूली शिक्षा प्राप्त की। उनका कहना है कि इससे उन्हें कॉलेज में विज्ञान की अवधारणाओं को समझने में मदद मिली। प्रमुख पद पर उनकी नियुक्ति पर वैज्ञानिक समुदाय और विज्ञान प्रशासकों की ओर से उन्हें बधाई दी गई।
PunjabKesari

कलाइसेल्वी का 25 साल से ज्यादा का अनुसंधान कार्य मुख्यत: विद्युत रासायनिक ऊर्जा प्रणाली, खासतौर से इलेक्ट्रोड के विकास पर केंद्रित रहा है। वह अभी सोडियम-आयन/लिथियम-सल्फर बैटरी और सुपरकैपेसिटर के विकास पर काम कर रही हैं। कलाइसेल्वी ने ‘नेशनल मिशन फॉर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी’ में अहम योगदान भी दिए हैं। उनके नाम पर 125 से अधिक शोध पत्र और छह पेटेंट हैं।
 

Related News