07 AUGFRIDAY2020 3:57:01 AM
Nari

एक नहीं, भगवान शिव के इस मंदिर में स्थापित हैं करीब 1 करोड़ शिवलिंग

  • Edited By neetu,
  • Updated: 31 Jul, 2020 05:33 PM
एक नहीं, भगवान शिव के इस मंदिर में स्थापित हैं करीब 1 करोड़ शिवलिंग

भगवान शिव की महिमा पूरी दुनिया फैली हुई है। ऐसे में दुनिया भर में भगवान शिव के बहुत से मंदिर हैं। उनके सभी मंदिर बहुत ही सुंदर होने के साथ रहस्यमई हैं। वैसे तो आपने उनके कई मंदिरों के दर्शन किए होंगे। मगर आज हम आपको उनके एक ऐसे मंदिर के बारे में बताते हैं। जहां एक नहीं बल्कि बहुत से 1 करोड़ शिवलिंग स्थापित है। तो चलिए जानते हैं इस मंदिर के बारे में...

कहां है मंदिर?

शिव जी का यह भव्य मंदिर कर्नाटक कोलार में बना है। इस मंदिर का नाम कोटिलेश्वर है। बात इस मंदिर की खासियत कि करें तो यहां 1 नहीं बल्कि 1 करोड़ शिवलिंग स्थापित है। इसतरह इस मंदिर के हर कोने में भगवान का अहसास होता है। 

nari,PunjabKesari

इस तरह हुई स्थापना

कहा जाता है कि इस मंदिर की स्थापना असल में एक श्राप से हुई थी।‌ मान्यता है कि, देवराज इन्द्र को गौतम नाम के एक ज्ञानी से श्राप मिला था। ऐसे में इस श्राप से मुक्त होने के साथ इन्द्र देवता ने कोटिलिंगेश्वर मंदिर में शिव जी की प्रतिमा स्वरूप शिवलिंग को स्थापित किया था। उसके बाद मंदिर के सभी शिवलिंगों का अभिषेक किया था। इतना ही नहीं, श्राप से मुक्ति पाने के लिए इंद्र ने यहां मौजूद शिवलिंग का अभिषेक 10 लाख नदियों के पानी से किया था।

स्थापित है दुनिया का सबसे ऊंचा शिवलिंग

बात इस मंदिर में स्थापित शिवलिंग की ऊंचाई की करें तो यह करीब 108 फीट ऊंचा है। ऐसे में यह दुनिया का सबसे ऊंचा शिवलिंग जाना जाता है। इस पवित्र मंदिर के चारों तरफ लगभग 1 करोड़ छोटे-छोटे शिवलिंग स्थापित हैं। इन शिवलिंग के साथ ही पूरे मंदिर में भगवान गणेश, देवी दुर्गा और श्री कुमारस्वामी की मूर्तियां स्थापित हैं। 

nari,PunjabKesari

छोटे-छोटे शिवलिंग के बीच विराजित है नंदी बाबा

यहां पर स्थापित छोटे-छोटे शिवलिंग के ठीक बीच में शिव जी के प्रिय गण बाबा नंदी की मूर्ति स्थापित है। मंदिर के शिवलिंग के साथ नंदी बाबा की मूर्ति भी बेहद बड़ी है। बात इस मूर्ति की ऊंचाई व लंबाई की करें तो यह करीब 35 फीट ऊंची, 60 फीट लंबी, 40 फुट चौड़ी बनी है। नंदी बाबा की यह प्रतिमा वहां पर बने करीब 4 फीट ऊंचे और 40 फुट चौड़े चबूतरे पर स्थापित की गई है। 

मन्नतें पूरी होने पर लोग चढ़ाते हैं शिवलिंग 

कहा जाता है कि भगवान शिव के इस मंदिर में स्थापित छोटे-छोटे शिवलिंग की संख्या बढ़ती रहती है। असल में, जब लोगों की मन्नतेें पूरी हो जाती हैं तब वे भगवान का शुक्रिया करने के रूप में यहां शिवलिंग चढ़ा कर जाते हैं। इसी वजह से यहां पर स्थापित शिवलिंग की संख्या करीब 1 करोड़ हैं। सावन और शिवरात्रि के शुभ अवसरों पर इस मंदिर में भक्तों की भारी भीड़ रहती हैं। देश- विदेश से लोग भगवान शिव की कृपा पाने व अपनी मन्नतों को पूरा करने आते है। 
 

Related News