21 JANTHURSDAY2021 11:01:38 AM
Nari

World AIDS Day: एड्स संक्रमित महिलाओं के शरीर में दिखते हैं ये लक्षण

  • Edited By neetu,
  • Updated: 01 Dec, 2020 11:59 AM
World AIDS Day: एड्स संक्रमित महिलाओं के शरीर में दिखते हैं ये लक्षण

दुनियाभर में लोगों को एड्स के प्रति जागरूक करने के लिए हर साल 1 दिसंबर को 'वर्ल्ड एड्स डे' मनाया जाता है। यह वायरस मुख्य तौर पर इंफेक्शन के कारण फैलता है। डब्ल्यूएचओ द्वारा साल 2017 के बताएं आंकड़े के अनुसार, पूरी दुनिया में इस गंभीर बीमारी से करीब 36.9 मिलियन लोग संक्रमित है। बात अगर महिलाओं की करें तो उनमें इस रोग के लक्षण अलग-अलग नजर आते हैं। तो चलिए आज हम आपको 'World AIDS Day' के दिन पर महिलाओं में देखने वाले इस संक्रमण के लक्षणों के बारे में बताते हैं। मगर उससे पहले जानते हैं इसके होने के कारण...

एड्स होने के कारण

- किसी संक्रमित व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाने से स्वस्थ व्यक्ति इस वायरस की चपेट में आ सकता है। 
- संक्रमित व्यक्ति की सीरिंज (इंजेक्शन) लगाने से। 
- टैटू बनवाने में इस्तेमाल की गई सूई का प्रयोग करने से। 

PunjabKesari

महिलाओं में एचआईवी के लक्षण

वैसे तो इसके लक्षण करीब 2 से 4 हफ्ते में दिखाई देने लगते हैं। मगर बहुत बार इस संक्रमण के लक्षण अलग-अलग मामले भिन्न दिखाई दे सकते हैं। कई बार ये आम सर्दी-जुकाम की तरह नजर आते हैं।

अगर प्रेगनेंट महिला हो पीड़ित...

अगर कोई प्रेगनेंट महिला एचआईवी से पीड़ित है तो उससे यह वायरस बच्चे तक फैलने का खतरा रहता है। इसके अलावा जो मां द्वारा बच्चे को स्तनपान करवाने से भी बच्चा इसका शिकार हो सकता है। ऐसे में गर्भाव्यस्था के दौरान ही महिला को अपना HIV टेस्ट जरूर करवाना चाहिए। असल में, एंटीरेट्रोवायरल के द्वारा यह रोग बच्चे तक पहुंचने से रोका जा सकता है। इसके अलावा बच्चे के जन्म के बाद उसे सिजेरियन और एंटीरेट्रोवाइरल थेरेपी भी दी जा सकती है। 

तो चलिए अब जानते हैं महिलाओं में एचआईवी के दिखने वाले लक्षणों के बारे में...

शरीर पर रैशेज होना

एचआईवी से पीड़ित महिलाओं के शरीर में लाल व सफेद रंग के चक्ते पड़ने लगते हैं। ऐसे में त्वचा पर जलन व खुजली की भी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। 

बुखार रहना 

इसके कारण बार-बार बुखार होने की परेशानी का सामना करना पड़ता है। 

गले में सूजन की शिकायत 

गले में सूजन होना भी इसका एक लक्षण है। इसके साथ ही गले में दर्द, जलन आदि की परेशानियां होने का भी सामना करना पड़ता है। साथ ही यह समस्या धीरे-धीरे बढ़ती रहती है। 

PunjabKesari

जी-मिचलाना व चक्कर आना 

इस वायरस के चलते भूख कम लगने लगती है। ऐसे में पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे कि पेट में भारीपन, जी-मचलाना, जलन, एसिडिटी आदि की शिकायत होती है। 

 सिर में असहनीय दर्द होना 

एचआईवी से पीड़ित महिलाओं के सिर में लगातार दर्द होता है। साथ ही यह दर्द कभी-कभी इतना बढ़ जाता है कि इसे बर्दाश करना मुश्किल हो जाता है। 

सूजी हुई लिम्फ

लिम्फ नोड्स इम्यून सिस्टम का ही एक भाग होता हैं। इसके कारण ही इम्यूनिटी बढ़ने में कुछ हद तक मदद मिलती है। मगर इंफेक्शन होने के कारण ग्लैंड में सूजन की शिकायत हो जाती है। इसके कारण गर्दन, सिर के पीछे व कमर के पास दर्द होता है। 

एचआईवी के दिखने वाले अन्य लक्षण

- गले में दर्द, खराब व बुखार का होना। 
- जोड़ों, मांसपेशियों में दर्द रहना। 
- बिना किसी भारी काम के थकान होना। 
- मुंह में अल्सर होना। 
- यीट व वैजाइनल इन्फेक्शन की शिकायत होना। 
- रात के समय में ज्यादा पसीना आना। 

 

Related News