20 OCTTUESDAY2020 5:22:23 AM
Nari

जानें किस शिवलिंग की पूजा करने से मिलेगा कैसा फल

  • Edited By neetu,
  • Updated: 17 Jul, 2020 10:47 AM
जानें किस शिवलिंग की पूजा करने से मिलेगा कैसा फल

शिव जी का पावन और प्रिय सावन का महीना चल रहा हैं। इस दौरान सच्चे मन से शिव जी की पूजा करने से वे अपने भक्तों को मनचाहा फल प्रदान करते हैं। शिवलिंग को दुनिया की लौकिक शक्तियों के प्रतीक के तौर पर माना जाता है। मान्यता है कि मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए शिव जी के अलग-अलग शिवलिंग की पूजा करने से शुभफल मिलता हैं। तो चलिए आज हम आपको बताते है कि आप अपनी कौन सी मनोकामना को पूरा करने के लिए शिव जी के किस शिवलिंग स्वरूप की पूजा कर सकते हैं...

साकारात्मक ऊर्जा

वास्तु के अनुसार घर, दुकान या ऑफिस में पारद अर्थात शुद्ध पारे से बना शिवलिंग रखना शुभफलाई होता हैं। इसे बहुत ही तेजवान और शक्तिशाली माना जाता हैं। इससे घर-परिवार में साकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। रोजाना भगवान के इस रूप से बने शिवलिंग की पूजा करने से सुख-समृद्धि का आगमन होने के साथ तरक्की के रास्ते खुलते हैं। 

nari,PunjabKesari

रोग से मुक्ति

शारीरिक रोगों को दूर करने के लिए भगवान शिव के मिश्री से बने शिवलिंग की पूजा करनी चाहिए। शिव पुराण के मुताबिक, रोजाना मिश्री शिवलिंग की पूजा करने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। ऐसे में कई असाध्य रोगों से छुटकारा मिलता है।

जीवन- मरण चक्र से मुक्ति

शिवजी का आंवले से तैयार शिवलिंग का रूद्राभिषेक करने से जीवन-मरण के काल चक्र से हमेशा के लिए मुक्ति मिलती है।साथ ही इससे कुछ तांत्रिक क्रियाएं भी हासिल होती है। 

धन- संपत्ति

जिन लोगों को जमीन- जायदाद से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। उन्हें रोजाना फूल के बने शिवलिंग की पूजा करनी चाहिए। इससे समस्या दूर हो धन-संपत्ति में वृद्धि होती है। 

nari,PunjabKesari

संतान प्राप्ति 

जिन लोगों को संतान जन्म से संबंधित समस्याएं हो। उन्हें जौ और गेहूं को बराबर मात्रा में मिलाकर आटे से शिवलिंग बनाना चाहिए। तैयार शिवलिंग की रोजाना सच्चे मन से पूजा करने से संतान की प्राप्ति होती है। 

सिद्धियों की प्राप्ति

जो लोग सिद्धियों की प्राप्ति करना चाहते हैं। उन्हें यज्ञ की भस्म से तैयार हुए शिवलिंग की पूजा करने से लाभ मिलता हैं। इससे उन्हें कई तरह की सिद्धियां मिलती है। वैसे अघोरी और तंत्र क्रियाओं से जुड़े लोग ही भस्म शिवलिंग की मुख्य रूप से पूजा करते है। 

शत्रु पर विजय

शिव जी के लहसुनिया स्वरूप के शिवलिंग की पूजा करने से आपको शत्रुओं पर जीत हासिल होती है। साथ ही मन की इच्छाएं पूरी होती है। 

सौभाग्य 

विवाहिताओं को मोती के शिवलिंग की विशेष रूप से पूजा करनी चाहिए। मान्यता है कि इससे उन्हें सौभाग्य व सुख मिलता हैं।

nari,PunjabKesari

आर्थिक स्थिति

किसी कपड़े में दही को बांधकर रखने के बाद उसके बचे अवशेष से शिवलिंग बनाया जाता है। दही शिवलिंग की पूजा करने से आर्थिक स्थिति बेहतर होने के साथ घर में खुशहाली आती हैं।

मनोकामनाएं पूर्ति के लिए

शिव जी के स्फटिक स्वरूप के शिवलिंग की पूजा करने से मनोकामनाएं जल्द ही पूरी होती हैं। साथ किसी भी काम को करने की शक्ति और क्षमता बढ़ती हैं।

सुख-शांति

सोने से तैयार शिवलिंग की पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति की सुख-समृद्धि व शांति में वृद्धि होती हैं।

nari,PunjabKesari

Related News