10 AUGWEDNESDAY2022 1:21:07 AM
Nari

तनाव के कारण खराब हो सकती है शादीशुदा पुरुषों की जिंदगी, सोने से पहले करें ये काम

  • Edited By palak,
  • Updated: 17 Jul, 2022 06:10 PM
तनाव के कारण खराब हो सकती है शादीशुदा पुरुषों की जिंदगी, सोने से पहले करें ये काम

व्यस्त कामकाज के चलते आजकल महिलाएं और पुरुष दोनों अपने स्वास्थ्य का ख्याल नहीं रख पाते। खासकर पुरुषों को अपने स्वास्थ्य का खास ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि सेहत बिगड़ने के कारण उनकी शादीशुदा जिंदगी पर भी इसका प्रभाव पड़ सकता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, कुछ हेल्थ टिप्स को अपनाकर पुरुष भी अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख सकते हैं। इससे उनकी शादीशुदा जिंदगी भी खुशहाल रहेगी। तो चलिए जानते हैं इनके बारे में...

तनाव से खराब हो सकती है जिंदगी 

यदि पुरुष रोजाना अपर्याप्त रुप से नींद लेते हैं तो उन्हें तनाव होने का खतरा ज्यादा होता है। एनसीबीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, तनाव के कारण शादीशुदा पुरुषों की जिंदगी में खट्टास और लड़ाई-झगड़े बढ़ने लगते हैं। अपनी शादीशुदा जिंदगी को खुश करने के लिए पुरुषों को तनाव कम लेना चाहिए। तनाव कम करने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना भी जरुरी है।

PunjabKesari

इन टिप्स के साथ आएगी अच्छी नींद 

यदि शादीशुदा पुरुष को अच्छी नींद हासिल न हो, तो उन्हें इंसोम्निया की समस्या हो सकती है। 

स्लीप पैटर्न करना चाहिए फिक्स

शादीशुदा पुरुषों को हर रात एक ही समय पर सोने का प्रयास करना चाहिए। सुबह भी एक समय पर उठना चाहिए। इससे उनका स्लीप पैटर्न फिक्स हो जाएगा और उन्हें अच्छी नींद आएगी।

ज्यादा भारी और हल्की डाइट न लें

पुरुषों को सोने से पहले भी ज्यादा भारी या फिर हल्की डाइट नहीं लेनी चाहिए। इससे उनकी नींद में समस्या आ सकती है। रात को सोने से 2 घंटे पहले ही  खाना खा लेना चाहिए। 

PunjabKesari

कमरा न हो ज्यादा ठंडा 

शादीशुदा पुरुषों को अपने कमरे का भी पूरा ध्यान रखना चाहिए। इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कमरा शांत, ठंडा और डार्क हो। इस तरह के कमरे से उन्हें जल्दी नींद आ जाएगी

दिन में सोने की आदत पर भी दें ध्यान 

यदि शादीशुदा पुरुषों को रात में नींद नहीं आती, तो उन्हें दिन में सोने की आदत पर भी ध्यान देना चाहिए। दोपहर की नींद भी रात में नींद न आने का भी कारण हो सकती है।

PunjabKesari

तनाव के कारण 

शादीशुदा पुरुषों को तनाव के कारण भी नींद न आने की समस्या भी हो सकती है। तनाव को कम करने के लिए उन्हें शारीरिक गतिविधि करनी चाहिए। इससे भी उनका तनाव कम होगा। 
PunjabKesari

Related News