04 JUNTHURSDAY2020 5:14:52 AM
Nari

बेटे की टूटी गर्दन तो चारपाई पर लेकर 800 KM के सफर पर निकला पिता

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 19 May, 2020 03:00 PM
बेटे की टूटी गर्दन तो चारपाई पर लेकर 800 KM के सफर पर निकला पिता

लॉकडाउन के कारण सभी यातायात सेवाएं ठप पड़ी है जिससे अगर किसी को सबसे ज्यादा परेशानी आ रही है तो वे हैं प्रवासी मजदूरों को। कभी बेटी अपने बीमार पिता को 1000 KM के सफर पर लेकर निकल रही है तो किसी ने नंगे पांव इन सड़कों को पार किया। मजदूरों के लिए ये समय बहुत मुश्किलों भरा है।

रोज हम इन मजदूरों की वीडियोज या फोटोज देखते हैं जो हमारे दिल को बहुत दुख देते हैं। हाल ही में एक ऐसी ही तस्वीर सामने आई जहां एक पिता अपने बीमार बेटे को लेकर चारपाई पर ही 800 KM के सफर पर निकल पड़ा।

PunjabKesari
पिता ने बताया कि बीते 15 दिनों से वे पैदल ही चल रहे हैं और पैदल चलकर कानपुर पहुंचे जहां पुलिस ने उन्हें ट्रक में बिठा दिया जिसके बाद वो प्रयागराज तक पहुंचे। युवक ने बताया कि उसके बेटे की गर्दन टूटी हुई है और वो उसे लेकर 15 दिनों से लगातार पैदल चल रहा है ताकि वे अपने घर सिंगरौली पहुंच सके। इतना ही नहीं इस पूरे सफर में उन्हें कहीं भी भर पेट खाना तक नसीब नहीं हुआ।

युवक का सारा परिवार लुधियाना में काम करता है और यहां लॉकडाउन होने के कारण वे पैदल ही सफर पर निकल पड़े लेकिन सफर तब मुशिकल हो गया जब उनके बेटे की गर्दन पर चोट लग गई और वो गंभीर रूप से घायल हो गया।

PunjabKesari

पिता अपने बेटे को एक चारपाई पर लिटाकर रस्सी के सहारे अपने घर के लिए निकल गए। राजकुमार के साथ उसके गांव के 15 लोग और भी थे जो बारी- बारी से उनके बेटे को कंधे पर लेकर कई किलोमीटर तक पैदल चल रहे हैं।

Related News