08 AUGSATURDAY2020 8:43:58 AM
Nari

विटामिन सी की कमी के लक्षण पहचान कर समय पर करें इलाज

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 02 May, 2020 09:54 AM
विटामिन सी की कमी के लक्षण पहचान कर समय पर करें इलाज

Vitamin C In Hindi : विटामिन 'C' यानि एस्कॉर्बिक एसिड एक ऐसा शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट है, जो बॉडी के सर्कुलेटरी तंत्र के क्रिया के लिए जरुरी होता है। इससे आप स्कर्वी बीमारियों से बचे रहते हैं। शरीर में इसकी कमी होने पर इम्यून सिस्टम कमजोर होने के साथ दिल के रोग और आंखों संबंधित बीमारियां होने लगती हैं। चलिए आपको बताते हैं कि विटामिन सी की कमी होने पर बॉडी में क्या-क्या बदलाव आते हैं।

 

विटामिन C की मात्रा

छोटे बच्चों के लिए 40-45mg, 14 से 18 साल के लोगों को 75mg और उससे अधिक उम्र के लोगों को रोजाना 90mg विटामिन सी खाना चाहिए। वहीं अगर आप गर्भवती है तो 85mg और स्तपान करवाने वाली महिलाओं को 120mg विटामिन सी लेना चाहिए।

विटामिन सी की कमी के लक्षण (Symptoms Of Vitamin C Deficiency) 


थकान

असामान्य रूप से थकान महसूस होना विटामिन सी की कमी का संकेत हो सकता है। दरअसल, यह विटामिन शरीर में कार्निटाइन को कम करता है, जिससे मेटाबॉलिज्म और एनर्जी बढ़ती है। ऐसे में इसकी कमी के कारण आपके बवजह थकान की समस्या हो सकती है।

PunjabKesari

त्वचा पर नील के निशान

अगर शरीर पर नील के निशान पड़ने लगे तो समझ लें कि शरीर में विटामिन सी कमी हो गई है। इससे रक्त वाहिकाएं कमजोर हो जाती है, जिससे शरीर पर ऐसे निशान पड़ने लगते हैं।

नाक से खून आना

अगर आपके नाक से अक्सर ब्लड आता है तो यह विटामिन सी की कमी का लक्षण होता है। ऐसे में अपनी डाइट में अधिक से अधिक विटामिन सी वाले आहार शामिल करें।

जोड़ों में दर्द और सूजन

जोड़ों में तेज दर्द और सूजन होना भी इसकी कमी की तरफ इशारा करता है। इससे जोड़ों में कोलेजन का स्तर कम हो जाता है, जिससे आपको दर्द व सूजन की समस्या हो सकती है।

मूसड़ों से खून आना

मूसड़ों से खून आना, सूजन व दर्द की समस्या हो तो भी विटामिन सी की जांच करवाएं। 30 की उम्र के बाद हर किसी को डाइट में 1000 मिलीग्राम विटामिन सी जरूर लेना चाहिए।

PunjabKesari

एनीमिया

शरीर में विटामिन सी की कमी होने से आयरन (Iron) का बैलेंस भी बिगड़ जाता है, जिससे आप एनीमिया के शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा आयरन, फोलेट या विटामिन बी 12 जैसे अन्य पोषक तत्वों की कमी भी एनीमिया का कारण बन सकती है।

रूखे बाल और हेयर फॉल

अगर बाल असामान्य रूप से झड़ रहे हैं तो यह भी विटामिन सी की कमी का संकेत हो सकता है। इसके अलावा रूखे, बेजान और दोमुंहे बाल भी इसकी कमी की ओर इशारा करता है।

अचानक वजन बढ़ना

अगर एक्सरसाइज और डाइटिंग के बावजूद भी वजन बढ़ रहा है तो समझ लें कि शरीर में इस विटामिन की कमी हो गई है। दरअसल, विटामिन सी मेटाबॉलिज्म को रेगुलेट करती है। ऐसे में इसकी कमी से मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है और वजन बढ़ने लगता है।

PunjabKesari

रूखी त्‍वचा

ऐसा कौन होगा जो यह नहीं चाहेगा कि उसकी त्वचा चिकनी और बीमारी से मुक्त हो? हर एक आदमी चाहता है कि उसकी स्किन चमकदार हो, इसके लिए विटामिन सी की जरुरत होती है। अगर आपके स्किन में मुंहासे दिखने लगे तो यह विटामिन सी की कमी के कारण ही है। विटामिन सी आपकी त्वचा को बेहतर बनाता है और एजिंग को कम करता है।

इंफैक्शन होना

विटामिन सी शरीर की इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाकर इंफैक्शन से बचाने में मदद करता है। ऐसे में इसकी कमी होने पर आप बैक्टीरियल और वायरल इंफैक्शन की चपेट में आ सकते हैं।

विटामिन सी युक्त आहार (Vitamin C Food) 

खट्टे रसदार फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, बेर, कटहल, पुदीना, अंगूर, टमाटर, अमरूद, सेब, दूध, चुकंदर, चौलाई और पालक विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। इसके अलावा दालों में भी विटामिन सी पाया जाता है। विटामिन के वसा में घुलनशील है, इसकी कमी से रक्त का थक्का जमना बंद हो जाता है। इसके स्त्रोत हरी सब्जियां, अंकुरित चने और फल हैं।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News