21 APRWEDNESDAY2021 9:04:55 PM
Nari

डायबिटीज की तरह इन मरीजों को भी कोरोना का अधिक खतरा!

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 05 Sep, 2020 10:09 AM
डायबिटीज की तरह इन मरीजों को भी कोरोना का अधिक खतरा!

कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसकी चपेट में बुजुर्गों के साथ साथ बच्चे भी आ रहे हैं वहीं इस वायरस से लोग जिंदगी भी हार रहे हैं। चाहे इस की वैक्सीन पर काम चल रहा है लेकिन इस वायरस के साथ तब तक जीना पड़ेगा जब तक इसकी वैक्सीन आम  लोगों के बीच नहीं आ जाती हैं। 

PunjabKesari

दूसरी तरफ ऐसे कईं शोध भी सामने आए हैं जिसमें यह बात सामने आई है कि इस वायरस के संक्रमण का खतरा सबसे ज्याया उन लोगों को है जिनकी इम्यूनिटी स्ट्रांग नहीं है वहीं दूसरी तरफ उन लोगों को भी इससे अधिक खतरा है जिन्हें डायबिटीज है। जिन लोगों को डायबिटीज है उन लोगों को डॉक्टर्स बचाव करने के लिए कह रहे हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि इस बीमारी का खतरा सिर्फ डायबिटीज के मरीजों को है। 

दरअसल हाल ही में स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार ऐसा कहा गया है कि उन लोगों को भी कोरोना का अधिक खतरा है जिन्हें गठिए की समस्या है। अगर बात विशेषज्ञों की करें तो गठिया और शरीर की इम्यूनिटी पॉवर एक दूसरे के साथ जुड़े होते हैं ऐसे में गठिए से होने वाला दर्द कोरोना की स्थिति पैदा कर सकता है और जब गठिए की दर्द होती है तो इससे कोरोना के संक्रमण का खतरा अधिक हो जाता है। 

PunjabKesari

पैदा हो जाती है ऑटोइम्यून डिसऑर्डर

ऐसी स्ठिति में एक और समस्या पैदा हो जाती है और वह है ऑटोइम्यून डिसऑर्डर की। दरअसल इस ऑटोइम्यून डिसऑर्डर में शरीर की इन्यूनिटी अपने ही शरीर के अंदर की सारी स्वस्थ कोशिकाओं को मारने लगता है और फिर ऐसे समय में कोरोना का रूप सबसे ज्यादा खतरनाक हो जाता है। 

शरीर हो जाता है कमजोर 

कोरोना के लक्षणों के बारे में तो सब जानते हैं इससे बुखार, खांसी के साथ साथ कमजोरी भी होने लगती हैं इसलिए गठिए के मरीजों को इससे ज्यादा सर्तक रहने की जरूरत होती है क्योंकि ऐसी स्थिति में शरीर और कमजोर होने लगता है। 

PunjabKesari

महिलाएं बरते सावधानियां

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि 40 प्लस होने पर होते ही महिलाओं को जोड़ों में दर्द की समस्या होने लगती हैं और वह इसे हल्के में लेती हैं। ऐसे में अब इस को हल्के में न लें और जितनी हो सके सावधानी बरतें। 

Related News