17 SEPTUESDAY2019 6:44:28 AM
Life Style

शुभ या अशुभ, क्या है आंख फड़कने का असली कारण?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 11 Sep, 2019 01:57 PM
शुभ या अशुभ, क्या है आंख फड़कने का असली कारण?

जिंदगी में कब, क्या अच्छा या बुरा होने वाला है, इसे पहचानने के लिए आपका शरीर कुछ ना कुछ संकेत देता रहता है। वैसे ही आंख फड़कना भी शुभ या अशुभ का संकेत देता है। हालांकि कुछ लोग इसे अंधविश्वास मानते हैं लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, आंखों का फड़कना जीवन में होने वाली कई घटनाओं की सूचना देता हैं, बस उसे पहचानना आना चाहिए।

चलिए आपको बताते हैं कि आंखों का फड़कना शुभ होता है या अशुभ, इसे कैसे पहचाने?

दाएं आंख का फड़कना

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, दाएं आंख का फड़कना शुभ होता है लेकिन पुरूषों के लिए। महिलाओं के लिए बाएं आंख का फड़कना शुभ माना जाता है।

PunjabKesari

दाई आंख की पलक और भौंहों का फड़कना

ऐसा माना जाता है कि दाएं आंख की ऊपरी पलक और भौंवें फड़कने से पुरूषों के मन की सारी इच्छाएं पूरी हो जाती हैं। साथ ही उन्हें धन लाभ भी होता है। जबकि महिलाओं की दाएं आंख की ऊपरी पलक और भौवें फड़कना अशुभ मानी जाती है। इससे उनके सारे काम बिगड़ जाते हैं।

बाई आंख फड़कना

औरतों की बाई आंख की पलक व भौंवे फड़ना शुभ माना जाता है लेकिन पुरूषों के लिए ऐसा होना अशुभ होता है। इससे महिलाओं की इच्छा पूरी होती है और उन्हें धन भी मिलता है।

PunjabKesari

शादी के योग का संकेत

अगर बाईं आंख चारो दिशा मे फड़क रही है तो इसका मतलब है कि आपकी शादी के योग बन रहें हैं। वहीं शादीशुदा महिलाओं के लिए यह पुत्र प्राप्ती का संकेत होता है।

बाईं आंख का कोना

बाई आंख की नाक की ओर का कोना फड़कता शुभ संकेत देता है। इससे आपकी किसी पुराने दोस्त या रिश्तेदार से मुलाकात हो सकती है।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News