16 APRFRIDAY2021 5:15:38 PM
Nari

लॉकडाउन में रसोई के जायके से इन महिलाओं ने आपदा को बनाया अवसर

  • Edited By neetu,
  • Updated: 07 Mar, 2021 03:35 PM
लॉकडाउन में रसोई के जायके से इन महिलाओं ने आपदा को बनाया अवसर

किसी भी काम सफल होना खुद पर निर्भर करता है। असल में, आत्मविश्वास व निडर होकर एक इंसान जीवन में ऊंचाइयों के शिखऱ को छूता है। ऐसे में ही बात औरतों की तो वैसे तो वे बेहद ही शांत व कोमल होती है। साथ ही उसे हमेशा रसोई संभालने वाला ही माना जाता है। मगर जरूरत पड़ने पर वह अपने घर-परिवार के लिए कुछ भी करने को तैयार रहती है। ऐसे में कोरोना काल में लॉकडाउन के कारण बहुत से लोगों को काम बंद हो गए थे। ऐसे में कई लोगों के बिजनेस बंद होने से परिवार को संभालना मुश्किल हो गया था। ऐसे में अपने इसी हुनर का सहारा लेकर कई महिलाओं ने अपने जायके के हुनर से इस मुश्किल घड़ी में अपने परिवार का साथ दिया। तो चलिए जानते हैं ऐसी ही महिलाओं के बारे में... 

कीर्ति दुआ- मेरठ ('द केक शॉप')

कीर्ति दुआ मेरठ की रहने वाली एक हाउस वाइफ है। इन्होंने लॉकडाउन में अपने परिवार वालों का हाथ बंटाने के लिए फूड डिलीवरी का काम शुरू किया। कीर्ति ने घर की रसोई में ही खाना बनाकर यह काम शुरु करने का सोचा। साथ ही साफ, सुथरा व पौष्टिक खाना लोगों को पहुंचाया। उन्होंने इसके लिए सबसे पहले अपने फेसबुक लोगों को जानकारी दी। साथ ही उन्होंने से अपने साथ 10-12 महिलाओं को रोजगार भी दिया। अच्छी सफलता मिलने पर उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकांउन में 'द केक शॉप' नाम से काम शुरु किया। इनका खाना लोगों को खूब पसंद आने से वे अपनी अलग पहचान बनाने में भी कामयाब हुई। कीर्ति का मानना है, 'महिलाएं आत्मनिर्भर होनी चाहिए। ताकि वे अपने हुनर की पहचान व इस्तेमाल करके खुद के साथ दूसरों को भी सहायता दे पाएं।

PunjabKesari

कोकिला पारेख- मुंबई (KT मसाला चाय) 

कोकिला पारेख 79 साल की उम्र होने के बावजूद भी चाय का बिजनेस चला रही है। असल में, वह अपनी चाय पर घर का तैयार मसाला डालती है। इन्हें परिवार के सदस्यों व रिश्तेदारों से खूब तारीफ मिलती है। ऐसे में उन्होंने लॉकडाउन में खाली समय का इस्तेमाल करते हुए चाय का बिजनेस चलाने की सोची। अपनी इस बिजनेस का नाम उन्होंने अपने व अपने बेटे तुषार के नाम पर रखा। ऐसे में उनका बिजनेस KT मसाला चाय के नाम से मशहूर हुआ। चाय के पाउडर यानी मसाले की बात करें तो इसपर कोकिला जी का कहना है कि यह नुस्खा उनके बड़े-बुजुर्गों की देन है। इस मसाले से तैयार चाय पीने से इम्यूनिटी बूस्ट होने के साथ पाचन तंत्र बेहतर होने में मदद करती है। उनके चाय का यह मसाला मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, बंगलुरू में तेजी से बिक रहा है। साथ ही देश के अन्य हिस्सों से भी उन्हें ऑर्डर मिल रहे हैं। बता दें, KT चाय मसाला 100 से 250 ग्राम के पैकेज में बिकता है।

PunjabKesari

भव्या शाह- (होम बेकर)

कहते हैं मेहनत व लगन से काम करने पर कम उम्र में भी जीत हासिल हो सकती है। ऐसे में ही भव्या शाह ने सिर्फ 12 क्लास ही की थी। मगर लॉकडाउन के कारण घर पर खाली बैठने की जगह उन्होंने बेकरी का सामान बनाना शुरु किया। इस तरह उन्होंने एक सफल 'होम बेकर' के तौर पर सफलता पाई। इस काम में भव्या के परिवार वाले व दोस्तों ने भी मदद की। ऐसे में करीब 1 महीने में ही उन्हें अच्छा रिस्पॉन्स मिला। साथ ही भव्या कहना है मैंने सुना था कि जहां चाह वहां राह होती है। ऐसे में यही बात खुद के साथ होने से इसे सच होते हुए भी देखा तो और भी अच्छा लगा।     

 

PunjabKesari

Related News