26 FEBMONDAY2024 5:50:22 PM
Nari

प्रेग्नेंसी में ज्यादा घी खाना सही है या गलत? जानिए एक्सपर्ट्स की राय

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 30 Nov, 2023 03:44 PM
प्रेग्नेंसी में ज्यादा घी खाना सही है या गलत? जानिए एक्सपर्ट्स की राय

प्रेग्नेंसी किसी भी महिला के लिए नाजुक घड़ी होती है। इस दौरान उन्हें अपने खान- पान का विशेष ध्यान रखना होता है क्योंकि उनके अंदर एक नन्हीं सी जान पल रही होती है। प्रेग्नेंट महिलाओं को अनाज, दालें, सब्जियां, फल, दूध, मक्खन, मेवे, अंडे, मांस जैसे हेल्दी डाइट का सेवन करती हैं। वहीं कैल्शियम बढ़ाने के लिए दही, करी पत्ता, पालक, मछली और घी को भी डाइट में शामिल करना चाहिए। वहीं घी को लेकर कई महिलाओं के मन में शंका होती है, कि घी खाना कितना सुरक्षित है? जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स...

PunjabKesari

प्रेग्नेंसी में महिलाओं को घी खाना चाहिए या नहीं

बता दें एक्सपर्ट्स का कहना है कि प्रेग्नेंसी में घी अगर सीमित मात्रा में खाया जाए तो मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इससे कई सारे फायदे मिलते है। आइए आपको बताते हैं इनके बारे में...

पाचन क्रिया को बनाता है बेहतर

प्रेग्नेंसी में ज्यादातर महिलाओं को पाचन से जुड़ी समस्याओं  का सामना करना पड़ता है। कब्ज और गैस इसमें सब से आम है। ऐसे में देसी घी का सेवन करने से आंतों, कोलन और पाचन हेल्थ में सुधार होता है। अगर आप नियमित रुप से देसी घी का सेवन करेंगी, तो इससे आपका डाइजेशन बेहतर होगा। इससे आपको गैस, कब्ज, अपच और एसिडिटी से आराम मिलेगा।

PunjabKesari

भूख बढ़ाने में मददगार

प्रेग्रेंसी में अकसर महिलाओं को कम भूख लगती है। ऐसे में देसी घी को डाइट में शामिल करें। इससे पाचन तंत्र बेहतर होगा और मेटाबॉलिज्म बूस्ट होगा।

सूजन होगी काम

प्रेग्नेंट महिलाओं के पैरों में सूजन भी देखने को मिलती है। देसी घी प्रेग्नेंसी में होने वाली सूजन को भी कम करने में मददगार है। दरअसल, देसी घी में ओमेगा 3 फैटी एसिड होती है, जो सूजन को कम करने में सहायक होता है। इसके लिए आप देसी घी को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं या फिर देसी घी से सूजन वाली जगह की मालिश कर सकते हैं। इससे बहुत लाभ मिलेगा।

हड्डियां होती है मजबूत

अक्सर महिलाओं को प्रेग्नेंसी में जोड़ों और हड्डियों में दर्द की शिकायत रहती है। जोड़ों और हड्डियों के दर्द से राहत पाने के लिए आप देसी घी को अपनी डाइट में एड कर सकती हैं। देसी घी में विटामिन डी और विटामिन के होते हैं। ये विटामिन्स हड्डियों को मजबूत बनाते हैं और दर्द को कम करते हैं।

PunjabKesari

कितनी मात्रा में करें घी का सेवन?

डॉक्टर के मुताबिक एक प्रेग्नेंट महिला को अपनी अंतिम तिमाही में प्रति दिन 200 कैलोरी की आवश्यकता होती है, जो पौष्टिक आहार से पूरा किया जा सकता है। लेकिन आपका वजन कम है या ज्यादा है, इस आधार पर डॉक्टर आपको बता सकते हैं कि आपको कितना घी खाना चाहिए। 

Related News