17 JUNMONDAY2019 8:26:41 PM
Nari

मासिक धर्म स्वच्छता दिवस: पहले पीरियड्स के लिए बेटी को कैसे करें तैयार

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 28 May, 2019 12:40 PM
मासिक धर्म स्वच्छता दिवस: पहले पीरियड्स के लिए बेटी को कैसे करें तैयार

आज का दिन लड़कियों को ईशवर द्वारा मिले वरदान यानि कि मासिक-धर्म प्रक्रिया की स्वच्छता को लेकर विश्वभर में मनाया जा रहा है। आज जहां हम अपनी बेटियों को जीवन की हर कठिनाई का सामना खुद करने के लिए प्रेरित करतें हैं, वहीं हमें चाहिए कि उनके जीवन में प्रत्येक माह होने वाली मासिक-धर्म की प्रक्रिया के बारे में भी समय रहते उन्हें परिचित करवाएं। यह फर्ज मां-बाप दोनों का है कि वह अपनी बेटी को पीरियड्स के बारे में सारी जानकारी दें। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि आप अपनी बेटी के साथ पीरियड्स कैसे डिस्कस कर सकते हैं। 

ऐडवांस में दे जानकारी

अक्सर लोग पीरियड्स के बारे में बात करने में हिचकिचातें हैं। लेकिन यह एक मां का फर्ज है कि वह अपनी बेटी के 10 -11 साल के होते ही उसे इस बारे में जानकारी दें। अगर आपकी बेटी को पीरियड्स शुरु हो चुके हैं तो उन्हें आप बहुत ही प्यार और लाड से समझाएं। एक लड़की के लिए जीवन का पहला पीरियड काफी आश्र्चर्यजनक होता है। कई बार कई लड़कियां समझ लेती हैं कि उन्हें कोई बीमारी लग गई है। इसीलिए जरुरी है कि आप उनको समय रहते ही इस बारे में पूरी जानकारी दें ताकि उन्हें किसी भी प्रकार का तनाव का सामना न करना पड़े। 

बेटियों से खुलकर करें बात

आजकल वैसे तो मोबाईल और इंटरनैट की वजह से बच्चों को हर तरह की जानकारी होती ही है। पर मां से बढ़कर और कोई भी नहीं है जो बेटी को इस हालात में समझ सके। इसलिए पीरियड्स के दौरान होने वाली दर्द और शरीर में होने वाले बदलावों के बारे में बेटी से खुलकर बात करें। उन्हें सैनेटरी नैपकिनस के बारे में जानकारी दें। इन दिनों में क्या खाना है और क्या नहीं, ताकि उन्हें पेट के दर्द से आराम मिला रहे। उन्हें पीरियड्स के दिनों की अवधि के बारे में भी जरुर बताएं।

PunjabKesari

कंर्फटेबल फील करवाएं

अक्सर लड़कियां इन दिनों में अनकंर्फटेबल फील करती हैं। उन्हें जितना हो सके पैंपर करें। हो सके तो मां अपना सारा दिन अपनी बेटी के साथ बिताए। उन्हें यह बात जरुर समझाएं कि पीरियड्स का मतलब घर पर कैद हो कर बैठ जाना नहीं हैं। उन्हें मानसिक तौर पर स्ट्रांग बनाएं ताकि पीरियड्स उनकी लाइफ के गोलज के बीच में न आने पाएं। 

सवालों का दे जवाब

टेलीविजन पर सैनेटरी नैपकिन की ऐड्स देखकर अगर आपकी बेटी आपसे कोई सवाल पूछती है तो आप उन्हें डांटें नहीं। बल्कि उन्हें इस बारे में पूरी जानकारी दें। कई बार उन्हें स्कूल में अन्य लड़कियों से भी पीरियड्स को बारे में बातें पता चलती हैं।घर पर आकर यदि आपकी बेटी आपसे उस बारे में बात करे तो उसे चुप करवाने की बजाए उसके सवालों का प्यार से जवाब दें।

वर्किंग मॉमज

आजकल एक ऐड बहुत फेमस हो रही है जिसमें एक डॉक्टर मां जिसने अलमारी में अपनी बेटी के लिए एक बॉक्स रखा होता है, जिसमें सैनेटरी नैपकिन के साथ एक बहुत ही प्यारा सा नोट लिखा होता है। साथ ही उसमें पैड को यूज करने का तरीका भी लिखा होता है। अगर आप भी एक वर्किंग वुमेन हैं तो आप अपनी बेटी के लिए भी कुछ ऐसा ही प्लान कर सकती है। इससे आपकी बेटी स्पैशल फील करेगी।  

हाईजीन के बारे में दें जानकारी

सबसे जरुरी बात अपनी बेटी को इन दिनों अपने प्राइवेट पार्टस की सफाई के बारे में जरुर जानकारी दें। यह उनके लिए बेहद जरुरी टिप्स में से एक टिप होगा। पैड को हर 3 से 4 घंटे बाद चेंज करने के बारे में कहें। शुरु-शुरु में रैशिज होने पर बात को छिपाएं नहीं, वरना प्रॉब्लम बढ़ सकती है। ऐसी छोटी छोटी बातों को उनसे जरुर शेयर करें ताकि उन्हें यह सब बातें नार्मल लगें।  

PunjabKesari
 

Related News

From The Web

ad