26 SEPSUNDAY2021 3:13:17 PM
Nari

नारी शक्ति! 8 महीने की बेटी को गोद में लिए ड्यूटी पर तैनात रहती है ये लेडी कॉन्स्टेबल

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 01 Aug, 2021 12:57 PM
नारी शक्ति! 8 महीने की बेटी को गोद में लिए ड्यूटी पर तैनात रहती है ये लेडी कॉन्स्टेबल

'महिला अगर ठान ले तो कुछ भी नामुमकिन नहीं' ऐसी ही एक मिसाल देखने को मिली है मध्य प्रदेश के निवाड़ी महिला थाने में,  जहां 8 महीने की बेटी को गोद में लिए महिला पुलिस अपनी ड्यूटी पर तैनात है, जिसे देख कर आरक्षक को हर कोई देखकर बस यही कहता है कि ऐसा केवल मां ही कर सकती है। निवाड़ी महिला थाने में पदस्थ महिला आरक्षक शिवानी लखेरा इन दिनों मां के फर्ज के साथ-साथ अपनी ड्यूटी निभाकर लोगों को अपने दायित्व के प्रति सजग और समर्पित रहने की सीख दे रही हैं।

PunjabKesari

निवाड़ी महिला थाने में पदस्थ महिला आरक्षक की 8 महीने की बेटी है। उनके पति जेल में आरक्षक है वहीं सास-ससुर शिक्षा विभाग में तैनात हैं।

शिवानी लखेरा ने बताई अपनी संघर्ष की कहानी
अपने इस संघर्ष के बारे में महिला आरक्षक शिवानी लखेरा बताती हैं कि घर के सभी सदस्यों को सुबह 10 बजे के बाद अपनी-अपनी ड्यूटी पर जाना पड़ता है। अब घर में 8 माह की बच्ची की देखभाल कौन करे ऐसें में महिला आरक्षक शिवानी अपनी आठ माह की बेटी को गोद में लेकर ड्यूटी के लिये निकल पड़ती हैं।


PunjabKesari

जहां वह आठ माह की बेटी को गोद में लेकर मां के फर्ज के साथ-साथ बखूबी पूरे समय तक आरक्षक के पद का कर्तव्य निभाती है। बेटी रोने पर तत्काल ही उसके खाने-पीने की व्यवस्था करने के साथ ही अपने काम पर जुट जाती है। 

PunjabKesari

केवल एक महिला ही अपने परिवार को एक सूत्र में बांधकर रख सकती है
शिवानी लखेरा ने बताया कि बेटी को संभालने में पुलिस स्टाफ और अधिकारी पूरी तरह से सहयोग करते हैं। महिलाएं हर मोर्चे पर सफल है और खुद को कई स्तर पर अपने आपको सफल करके दिखाया है चाहे वह बच्चों की परवरिश हो, घर की देखभाल करना हो, अपने परिवार को एक सूत्र में बांधकर रखना के अलावा बखूबी नौकरी करना। ये महिला आरक्षक दूसरों के लिए भी एक प्रेरणा है।
 

Related News