29 NOVMONDAY2021 4:27:32 AM
Nari

'तुलसी के पानी' से करें ये उपाय, घर से बाहर निकल जाएगी सारी Negative Energy

  • Edited By neetu,
  • Updated: 23 Nov, 2021 11:25 AM
'तुलसी के पानी' से करें ये उपाय, घर से बाहर निकल जाएगी सारी Negative Energy

हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा बेहद ही शुभ माना जाता है। मान्यता है कि घर पर तुलसी का पौधा लगाने से देवी-देवताओं का वास होता है। घर में सकारात्मक ऊर्जा फैलने के साथ सुख-समृद्धि, शांति व खुशहाली का आगमन होता है। मगर तुलसी का धार्मिक महत्व होने के साथ ये सेहत के लिए भी गुणकारी मानी जाती है। तुलसी का पानी पीने से सेहत संबंधी कई समस्याओं से आराम मिलता है। इसके साथ ही इस पानी से जुड़ा उपाय करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे में तुलसी का पानी बेहद ही पवित्र माना गया है। चलिए आज हम आपको तुलसी के पानी से जुड़े कुछ खास उपाय...

तुलसी के पानी का घर पर छिड़काव करने के फायदे

धार्मिक मान्यताओं अनुसार तुलसी को बेहद पवित्र माना जाता है। ऐसे में आप घर पर तुलसी पानी का छिड़काव भी कर सकती हैं। इसके लिए रातभर तुलसी की पत्तियों को पानी में भिगोएं। फिर रोजाना सुबह-शाम पूजा के बाद इस पानी का पूरे घर में छिड़काव करें। मान्यता है कि इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। घर में सुख-समृद्धि, शांति व खुशहाली बनी रहती है।

PunjabKesari

कारोबार में तरक्की के लिए

अगर आपका कारोबार धीमा चल रहा है तो आप तुलसी के पानी से जुड़ा उपाय कर सकते हैं। इसके लिए तुलसी के पत्तों को तीन दिन तक पानी में भिगोकर रखें। बाद में इस पानी का छिड़काव अपने दफ्तर, दुकान या कारखाने पर सुबह-शाम पूजा के बाद करें। मान्यता है कि इससे कार्यक्षेत्र में आ रही समस्याएं दूर होकर तरक्की के रास्ते खुलते हैं।

तुलसी के पानी से लड्डू गोपाल जी को स्नान कराने के फायदे

अगर आपके घर में लड्डू गोपाल जी है तो आप उन्हें तुलसी जल से स्नान करवा सकते हैं। मान्यताओं अनुसार भगवान श्रीकृष्ण को तुलसी अतिप्रिय है। ऐसे में इससे लड्डू गोपाल जी का स्नान करवाने से उनकी विशेष कृपा बरसेगी।

PunjabKesari

अगर घर में कोई बीमार हो

अगर घर में कोई लंबे समय से बीमार है तो उसपर भी तुलसी के पानी का छिड़काव करें। धार्मिक मान्यताओं अनुसार इससे बीमारी जल्दी ही ठीक हो सकती है। मगर इसके साथ ही मरीज की दवाओं और खानपान का खास ध्यान रखें।

Related News