21 OCTMONDAY2019 6:30:33 PM
Nari

सावधान! आपको गठिया का शिकार बना सकती है आपकी ये गंदी आदत

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 11 Mar, 2019 04:21 PM
सावधान! आपको गठिया का शिकार बना सकती है आपकी ये गंदी आदत

बहुत सारे लोग खाली समय में और उंगलियों को थोड़ा आराम देने के लिए चटकाना यानी पटाखे निकालने शुरू कर देते हैं। मगर धीरे-धीरे यह उनकी आदत बन जाती है, जो सेहत के लिए काफी खतरनाक है। जी हां, भले ही उंगुलियों के चटकने के बाद हाथों को आराम मिले लेकिन आपका ये शौक गठिए रोग का कारण बन सकता है। चलिए आपको बताते हैं कि उंगलियों को चटकाने से आपकी हेल्‍थ को कैसे नुकसान हो सकता है।

 

क्यों पड़ती है उंगलियां चटकाने की आदत? 

दरअसल उंगलियों को चटकाने से जोड़ों के आस-पास की मसल्स और हाथों को आराम मिलता है इसलिए ज्‍यादातर लोग लिखते-पढ़ते या ऑफिस व अन्य जगह में बैठे-बैठे ही उंगलियां चटकाने लगती हैं। वहीं धीरे-धीरे यह उनकी आदत बन जाती है।

PunjabKesari

उंगलियां चटकाने से हो सकता है गठिया

हड्डियों के जोड़ों में एक लिक्विड भरा होता है, जो बेहतर मूवमेंट में मदद करता है। मगर बार-बार उंगलियां चटकाने की वजह से ये लिक्विड कम होने लगता है और हड्डियां आपस में रगड़ खाने लगती हैं। इससे हड्डियों में काबर्न डाई ऑक्साइड भरने लगता है, जिससे जोड़ों में दर्द होने लगता है और यही आर्थराइटिस या गठिया का कारण बनने लगता है।

PunjabKesari

उंगलियों के ज्वाइंट्स में आ जाती है सूजन

उंगलियां चटकाने से ज्वाइंट्स में सूजन आ जाती हैं जो बार बार चटकाने से गंभीर सूजन और दर्द का कारण बन जाते हैं। उंगलियों को छूने भर से वहां दर्द होने लगता है। सॉफ्ट टिश्यूज में सूजन के कारण आता है। ये ताउम्र दर्द का कारण बन सकता है।

 

ऐसे छुड़ाएं ये आदतें

उंगलियां चटकाने से खुद को रोकने के लिए अपने हाथों को बिजी रखें। कई बार लोग खाली वक्त में बस में बैठे-बैठे भी उंगलियां चटकाने लगते हैं। ऐसी स्थिति में उंगलियां चटकाने के बजाय पेंसिल या सिक्के से खेलना शुरू करें या फिर ऑफिस में बैठे-बैठे ऐसा करते हैं तो उस समय कुछ लिखने लगें या ड्राइंग बनाने लगें। इससे आपके दिमाग का फोकस दूसरी तरफ जाएगा और कुछ ही दिनों में आपकी उंगुलियां चटकाने की आदत छूट जाएगी। 

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News