22 OCTTUESDAY2019 2:10:26 AM
Nari

किडनी स्टोन की समस्या के 8 संकेत, 5 देसी टिप्स दिलाएंगे आराम

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 20 Mar, 2019 11:57 AM
किडनी स्टोन की समस्या के 8 संकेत, 5 देसी टिप्स दिलाएंगे आराम

किडनी की पथरी : गलत खान-पान व जरूरत से कम पानी पीने से किडनी में पथरी की समस्या पैदा हो जाती है। आमतौर पर यह पथरी यूरीन के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाता है। कई लोगों में पथरी बनती है और बिना ज्यादा परेशानी के निकल भी जाती है लेकिन अगर पथरी बड़ी हो जाए तो यूरीन के रास्ते में रुकावट पैदा करने लगती है। ऐसे में यूरीन के रास्ते में असहनीय दर्द होता है। इस समस्या से बचने के लिए मिल रहे छोटे-छोटे संकेतो को पहचानना बहुत जरूरी है। चलिए जानते हैं क्या है पथरी के शुरुआती लक्षण :

 

किडनी स्‍टोन के लक्षण (Symptoms of Kidney Stone)

गुर्दे की पथरी से पीठ या पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द हो सकता है, जो कुछ मिनटो या घंटो तक बना रह सकता है। इसमें दर्द के साथ जी मिचलाने तथा उल्टी की शिकायत भी हो सकती है। अगर यूरीन संबंधी प्रणाली के किसी भाग में संक्रमण है तो इसके लक्षणों में बुखार, कपकपी, पसीना आना, पेशान आने के साथ-साथ दर्द होना आदि भी शामिल हो सकते हैं। यूरीन में बल्ड भी आ सकता है।

 

पीठ दर्द

गंभीर दर्द होना किडनी स्‍टोन से पीड़ित लोगों की आम समस्या है, विशेषकर कमर और कमर के निचले हिस्से में। दर्द पेट के निचले हिस्से से पेट और जांघ के बीच के भाग में जा सकता है। यह दर्द कुछ मिनटो या घंटो तक बना रहता है तथा बीच-बीच में आराम मिलता है।

 

यूरीन में ब्‍लड

किडनी स्‍टोन से पीड़ित लोगों का यूरीन अक्सर गुलाबी,  ग का आने लगता है और स्टोन के बढ़ने से मूत्रमार्ग ब्लॉक हो जाता है, किडनी में पथरी वाले लोगों के यूरीन में बल्ड के टिग्नेस आ सकते हैं। 

PunjabKesari

 

बदबूदार यूरीन

किडनी में स्‍टोन के साथ यूरीन के रंग के बिगाड़ने के साथ यूरीन मटमैला और बदबूदार प्रतीत होता है। ऐसे यूरीन में हार्ड केमिकल मौजूद होते हैं जो शरीर में क्रिस्टल बनाते हैं।

 

बार-बार यूरीन आना

किडनी स्‍टोन से पीड़ित लोग अक्सर लगातार या दर्द के साथ यूरीन आने की शिकायत करते हैं। ऐसा तब होता है जब किडनी स्‍टोन मूत्रमार्ग से मूत्राशय में चले जाते है। ये बेहद दर्दनाक होता है और यह अक्सर यूरिनरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन का कारण भी बनता है। 

PunjabKesari
 

बैठने में परेशानी

किडनी स्टोन के बढ़ने पर शरीर में दबाव पड़ने लगता है जिससे रोगी को बैठने में परेशानी होती है। यहां तक कि वह आरामदायक स्थिति में लेटने में असमर्थ हो जाता है। यही कारण है जिसके चलते किडनी स्टोन से पीड़ित कई लोग अक्सर खड़े रहते हैं।

 

जी मचलाना और उल्टी

पेट में गड़बड़ महसूस करना और मिचली आना किडनी स्टोन के शुरूआती संकेतों में से एक है और इसमें उल्टियां भी हो सकती हैं। उल्टियां दो कारणों से आती हैं, पहला स्टोन के स्थानांतरण के कारण और दूसरा किडनी शरीर के टॉक्सिक को बाहर करने में मदद करते हैं और जब स्टोन के कारण अवरुद्ध हो जाते हैं तो इन टॉक्सिकों को शरीर से बाहर निकालने के लिए उल्टी ही एकमात्र रास्ता बचता है।

PunjabKesari

 

किडनी और पेट में सूजन

बड़े स्‍टोन मूत्र प्रवाह को ब्‍लॉक कर किडनी में दर्दनाक सूजन पैदा कर देता है। किडनी, डायाफ्राम के निकट शरीर के नीचे दोनों ओर स्थित होती हैं और स्‍टोन होने पर आपको पेट और कमर के आस-पास सूजन महसूस कर सकते हैं। 

 

बुखार और ठंड महसूस होना

किडनी स्टोन के मरीज को अक्‍सर तेज बुखार और ठंड लगने की समस्‍या बनी रहती है। इसके कारण यूरीन के रास्ते में संक्रमण (या यूटीआई) की संभावना बढ़ जाती है। इस अवस्‍था में रोगी को तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए।

PunjabKesari

 

गुर्दे की पथरी का घरेलू इलाज 

अगर आप भी किडनी स्टोन की परेशानी से जुझ रहे हैं तो ये घरेलू नुस्खे आपके बहुत काम आ सकते हैं। इससे पथरी की समस्या से आप जल्दी ही छुटकारा पा सकते हैं।

 

गन्ना

पथरी की परेशानी में गन्ने का रस पीना बहुत लाभकारी है। इससे शरीर में पानी की कमी पूरी होती है और पथरी अपने -आप शरीर से निलकने लगती है। 

 

नींबू

नींबू का रस कैल्शियम स्टोन का खतरा कम करता है। किडनी में पथरी के साइज को कम करने में भी नींबू कारगर है। आप नींबू पानी, या फिर सलाद और फलों के साथ भी नींबू के रस का सेवन कर सकते हैं। 

 

नारियल पानी

नारियल का पानी किडनी की पथरी बाहर निकालने में बहुत अच्छा है।


PunjabKesari

 

मूली

किडनी में पथरी बन गई है तो रोगी को मूली का आधा कप रस रोज सुबह खाली पेट पीना चाहिए। इसका रस किडनी की सफाई करने में कारगर है। 

 

हर्बल टी

हर्बल टी पीने से पथरी बनने का खतरा काफी कम होता है इसलिए हर्बल टी का इस्तमाल पथरी में जरूर करना चाहिए।

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News