17 SEPTUESDAY2019 12:19:36 PM
Nari

शाम के वक्त भूलकर भी न करें ये 8 काम, सेहत और धन दोनों की होगी हानि

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 27 Aug, 2019 02:56 PM
शाम के वक्त भूलकर भी न करें ये 8 काम, सेहत और धन दोनों की होगी हानि

आपने अक्सर अपने घर के बड़ों को यह कहते सुना होगा कि दिन ढलने के बाद ऐसा नहीं करते, वैसा नहीं करते। आज की नई पीढ़ी भले ही इन सब बातों को गंभीरता से न लें। मगर वास्तु के अनुसार यह सब बातें आपकी जीवन के सुख और दुख से काफी ज्यादा संबंध रखती हैं। आइए जानते हैं शास्त्रों में ऐसे कौन से काम हैं जिन्हे आपको दिन ढलने के बाद नहीं करना चाहिए...

 

बाल खुले छोड़ना

शास्त्रों में कहां गया है कि महिलाओं को शाम के समय कभी भी बाल खुले नहीं छोड़ने चाहिए। ना ही रात को सोते समय बालों को खुला रखना चाहिए। इसके अलावा शाम के समय बाल झाड़ना भी नकारात्मक ऊर्जा को बुलावा देता है।

PunjabKesari

झाड़ू लगाना

शाम के समय झाड़ू-पोछा लगाना भी अशुभ माना जाता है। इससे घर से लक्ष्मी चली जाती है। साथ ही ऐसा करना दरिद्रता का कारण भी बनता है।

जुएं लगाना

अगर सिर में जुएं पड़ गई है तो उसे भी शाम को निकालने की गलती ना करें। ऐसा करना अशुभ माना जाता है।

तुलसी को जल

वास्तु शास्त्रों के अनुसार दिन ढलने के बाद तुलसी को ना तो जल चढ़ाना चाहिए और ना ही उसके पत्तों को छूना चाहिए। ऐसा माना जाता है की शाम के समय तुलसी आराम करती है और उन्हें छूने पर वह जग जाती है। न केवल तुलसी बल्कि किसी भी पौधे को सूर्यास्त के बाद न तो जल चढ़ाएं और न ही छुएं।

PunjabKesari,nari,tulsi plant

तुलसी के आगे दीपक

जल चढ़ाने के लिए दिन का समय शुभ माना गया है, परंतु शाम के समय आप तुलसी के आगे दीपक जरूर जला सकते हैं। दीपक रखने के बाद तुलसी को छुएं नहीं।

झाड़ू लगाना

सूरज डूबने के बाद घर में झाड़ू लगाना अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से घर में दलिद्रता आती है और घर की लक्ष्मी नाराज हो जाती है।

PunjabKesari,nari

दूसरो की बातें बनाना

सूरज ढलने के बाद ज्यादा से ज्यादा वक्त भगवान की अराधना में बिताना चाहिए। खासतौर पर दूसरों की बातें करने से बचें। वैसे तो दिन में किसी भी वक्त किसी की बुराई नहीं करना चाहिए। मगर शाम के वक्त खास ध्यान रखना चाहिए।

सोने से बचें

शाम के वक्त सोना स्वास्थ्य और धार्मिक दोनों की दृष्टि से गलत माना जाता है। जिस समय दिन के दो पहर आपस में मिल रहे होते हैं, उस वक्त सोना या फिर लेटना घर में आलस्य लाता है। बुजुर्ग और गर्भवती स्त्री शाम के समय जरूर सो सकती है।

PunjabKesari,nari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News