18 MAYWEDNESDAY2022 6:14:28 AM
Nari

जंग के बीच यूक्रेन पहुंचीं एंजेलिना जोली, सायरन बचते ही भागकर बचाई अपनी जान

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 03 May, 2022 10:56 AM
जंग के बीच यूक्रेन पहुंचीं एंजेलिना जोली,  सायरन बचते ही भागकर बचाई अपनी जान

हॉलीवुड अभिनेत्री एवं संयुक्त राष्ट्र मानवता दूत एंजेलीना जोली ने अचानक पश्चिमी यूक्रेन के ल्वीव शहर पहुंचकर बच्चों से मुलाकात की। वह उन बच्चों के लिए वहां आई थी जो अप्रैल की शुरुआत में क्रामातोर्क्स रेलवे स्टेशन पर हुए मिसाइल हमले में घायल हो गए थे। हालांकि इसी बीच वह मिसाइल हमले से बचने के लिए भागती हुई भी नजर आई।

 

साल 2011 से लेकर अब तक संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग की विशेष शरणार्थी दूत एंजेलीना ल्वीव में शरण लेने वाले विस्थापित लोगों से मिलने के लिए यहां आई थीं। इस दौरान वह बच्चों की कहानियां सुनकर बहुत प्रभावित हुईं। एक लड़की ने उन्हें अपने सपने के बारे में भी बताया। हॉलीवुड अभिनेत्री ने एक स्कूल का भी दौरा किया और वहां छात्रों के साथ मुलाकात कर तस्वीरें खिचवाईं। इस दौरान उन्होंने वादा किया कि वह दोबारा ल्वीव आएंगी।


इस बीच सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि अभिनेत्री अपने आस-पास के अन्य लोगों के साथ तेजी से भाग रही है, जबकि बैकग्राउंड में चेतावनी सायरन बज रहा है। इस दौरान उनसे जब पूछा गया कि- क्या आपको डर लग रहा है?  तो  वह कहती हैं "नहीं, नहीं, मैं ठीक हूं."।

 

एंजेलिना जोली को यूक्रेन का दौरा करने और वहां लोगों को अपना समर्थन देने के लिए सोशल मीडिया पर काफी तारीफें मिल रही हैं। इससे पहले भी उनका एक शानदार वीडियो वायरल हुआ था,  जिसमें वह अचानक एक कैफे में पहुंचकर सभी को शॉक कर देती है।  जहां  कैफे में  लोग उन्हे देखकर काफी खुश हो जाते हैं वहीं एक बच्चा इस कदर अपने फोन में खोया है कि उसे पता ही नहीं चलता की उसके पीछे एंजेलिना जोली खड़ी है।

PunjabKesari

बता दें कि हॉलीवुड स्टार एंजेलिना जॉली  संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त से जुड़ी हुई हैं और लोगों की भलाई के लिए काम करती हैं। इससे पहले मार्च में यमन गृहयुद्ध के दौरान भी जॉली ने शरणार्थियों को सहायता प्रदान करने के लिए देश का दौरा किया था। उन्होंने यूक्रेन के सपोर्ट में पोस्ट शेयर कर लिखा था कि- क्रेन के लोगों के लिए दुआ कर रही हूं। इस वक्त मेरा फोकस मेरे UNHCR कलीग्स के साथ उन लोगों के अध‍िकारों की रक्षा करना है जो अपने घर से बेदखल हो गए हैं।

PunjabKesari

Related News