Twitter
You are hereNari

मिनटों में दूर होगा कान का असहनीय दर्द

1 of 4Nextमिनटों में दूर होगा कान का असहनीय दर्द
Views:- Monday, March 13, 2017-2:00 PM

दर्द का घरेलू उपचार : कान हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है, जिसे नियमित अंतराल के दौरान साफ करना बहुत जरूरी हैं। दरअसल, कान के पास अलग से सुरक्षा परत नहीं होती जिससे धूल-मिट्टी के रूप में छोटे-छोटे कण और वेक्स हमारे कान के अंदर जमा हो जाती है। जो कान में बैक्टीरियल इंफैक्शन का कारण बन सकते हैं। इसके अतिरिक्त सर्दी और बरसात के दिनों में कान संबंधी रोग आम सुनने को मिलते हैं। सर्दी, कर्कश ध्वनि,चोट, कान में कीट के घुसने या संक्रमण, अधिक मैल जम जाने या नहाते समय कान में पानी आदि चला जाने से भी कान में इंफैक्शन हो जाती है। यह पीड़ा असहनीय होती हैं की बर्दाश्त से बाहर हो जाती हैं। कई बार तो कान की वजह से चक्कर, भारी सिरदर्द और बुखार की परेशानी भी हो जाती है। 

 

कान के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू टिप्स भी फॉलो कर सकते हैं। इसमें आपके दवाइयों पर ज्यादा पैसे भी नहीं खर्च होंगे और आराम भी तुरंत मिलेगा।

 
आहार में विटामिन-सी युक्त पदार्थों जैसे-अमरुद ,नींबू ,संतरे ,पपीते अदि फलों का प्रयोग करें ये कान के दर्द को कम करने में लाभ देते हैं।

 

तिल के तेल में 3 लहसुन की कली पीसकर अच्छे से गरम कर लें। फिर छानकर शीशी में भर लें। इसकी 4-5 बूंदें कान में डालें। दर्द से तुरंत राहत मिलेगी।

 

अदरक के रस की दो बूंदें टपका लेने से भी कान के दर्द और सूजन से छुटकारा मिलता है

 

प्याज के रस से भी कान का दर्द गायब हो जाता है। इससे भी कान की सूजन, दर्द, एवं संक्रमण को कम करने में मदद मिलती है।

 

जैतून का तेल हल्का गरम करके कान में डालने से भी कान के दर्द में राहत मिलती है।

 

तुलसी की ताजी पतियों का रस की दो बूंदें निचोड़कर कान में डालने से भी राहत मिलती है।

 

मुलहठी कान दर्द में उपयोगी है। इसे घी में भूनकर बारीक पीसकर पेस्ट बनाएं। फिर इसे कान में लगाएं। कुछ ही मिनटों में दर्द बिलकुल समाप्त होगा।

 

कैसे करें कान की सफाई 

कान में वैक्स का जमना प्राकृतिक है। यह गंदगी और बैक्टीरिया को कान की नली में  घुसने से रोकता है लेकिन ज्यादा वैक्स का भर जाना भी ठीक नहीं है। जो लोग बहुत ज्यादा इयरफोन आदि का प्रयोग करते हैं, उन्हें ये समस्या होती है।  इससे कानों से आवाज आने, कम सुनाई देने लगता है और दर्द की समस्या भी होती है। कई लोग तीली, बॉबी पिन से इसे बाहर निकालने की कोशिश करते हैं जो घातक हो सकता है। 


कानों से मैल साफ करने का एक सबसे अच्छा् तरीका है कि नहाने के बाद कान साफ़ करें क्योंकि नहाने के बाद वैक्स नर्म हो जाता है। 

 

आप घर में ऐसी कई नैचुरल चीजें तैयार कर सकते हैं जो वैक्स को नर्म बनाता है। हाइड्रोजन पैराऑक्?साइड, ग्लिसरीन और मिनरल आयल एक एक चम्मच लें और घोल तैयार करें। अब दो-तीन बूंद कान में डाल कर रात भर छोड़ दें। सुबह इयर बड से कान को अच्छे से साफ कर लें। 

 

हाइड्रोजन पैराऑक्साइड और पानी की बराबर मात्रा लेकर घोल बनाएं। अब इसकी कुछ बूंद कानों में डालें और कान में अच्छी तरह से चली जाने दें। उसके बाद कान को पलटें और बाकी का बचा घोल बाहर निकाल दें। ध्यान रखें कि हाइड्रोजन की मात्रा 3त्न से ज्यादा ना हो नहीं तो घातक हो सकता है।

 

गंदगी को निकालने के लिए बेबी ऑइल या फिर मिनरल ऑइल की कुछ बूंदें कानों में डाल सकते हैं। तेल कान के वैक्स को मुलायम कर देगा जिससे वह आराम से बाहर निकल आएगी। आप ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

 

प्याज का रस निकाल लें। ड्रॉपर की मदद से इसकी कुछ बूंदें कान में डाल लें।

 

इयर बड्स से नियमित कान की सफाई करना भी अच्छा रहता है। लेकिन यह बड्स नर्म होने चाहिए। अगर आप कड़े बड्स या नुकीली चीज का इस्तेमाल करेंगे तो इससे कान के आंतरिक हिस्से को नुकसान पहुंच सकता है।

 

अगर कान में दर्द हैं तो पहले डाक्टरी जांच करवाएं। 

 

 

-वंदना डालिया