26 JANSUNDAY2020 6:35:19 PM
Nari

प्लास्टिक सर्जरी करवाना पड़ा महिला को भारी, गंवाने पड़े दोनों ब्रेस्ट

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 13 Jan, 2020 11:56 AM
प्लास्टिक सर्जरी करवाना पड़ा महिला को भारी, गंवाने पड़े दोनों ब्रेस्ट

महिला ब्रेस्ट इम्पलांट सर्जरी इसलिए करवाती है ताकि वह खूबसूरत लगे और उनके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी है। हॉलीवुड से लेकर बॉलीवुड तक कई एक्ट्रेस ने यह सर्जरी करवाई है। वहीं हाल में ब्रेस्ट इम्प्लांट सर्जरी करवाने गई एक महिला को यह सर्जरी इतनी भारी पड़ी कि उसे अपने दोनों ब्रेस्ट गंवाने पड़े। दरअसल 28 साल की यह महिला जिसका नाम जारा रॉड्रिग्यूज बताया जा रहा है, तुर्की की राजधानी इस्तांबुल पहुंची थी और यहां उसने अपनी प्लास्टिक सर्जरी करवाई लेकिन डॉक्टरों ने शायद यह सर्जरी ठीक तरीके से नहीं की जिसका खामियाजा महिला को भुगतना पड़ा। 

 

सर्जरी के लिए खर्च किए थे लाखों रुपए 

जारा अपने शरीर से खुश नहीं थी और अपना ब्रैस्ट इम्पलांट औ टमी टक यानि पेट की चर्बी कम करवाने की सर्जरी करवाने के लिए अगस्त 2019 में इस्तांबुल पहुंची थी। जारा ने वहां एक क्लीनिक को 5 हजार पौंड यानी करीब 4 लाख 65 हजार रुपए दिए थे और वह चाहती थी कि उसका ब्रैस्ट साइज 34 सी से 34 एफ हो जाए। इस सर्जरी में करीब 7 घंटे का वक्त लगा था। सर्जरी करवाने के बाद जब जारा साऊथ वैस्थ इंग्लैंड स्थित विल्टशायर में अपने घर पहुंची तो उसके ब्रैस्ट के लैफ्ट इम्पलांट में इंफैक्शन की वजह से फ्लूइड लीक होने लगे और उसका राइट ब्रेस्ट पूरी तरह से लटक गया। 

PunjabKesari

इम्प्लांट फेल होने के बाद ब्रेस्ट टिश्यू हो गया जीरो

इसके बाद जारा ने इंस्टाग्राम पर अपनी सर्जरी के बाद की ब्रेस्ट की हालत दिखाती हुई तस्वीरें पोस्ट कर दीं जिसके बाद क्लीनिक ने जारा के इम्प्लांट को दोबारा फिक्स करने की बात कही लेकिन एक बार फिर जब जारा घर पहुंची तो उसके ब्रेस्ट इम्प्लांट से फ्लूइड लीक होने लगा। इसके बाद तो क्लीनिक वालों ने जारा का फोन ही उठाना बंद कर दिया। फिर 22 नवम्बर को जारा ने इंग्लैंड को हटावा। जिसके बाद उसका ब्रेस्ट टिश्यू पूरी तरह से खत्म हो गया। 

 

PunjabKesari

 

ब्रेस्ट इम्पलांट सर्जरी का खतरा

- ब्रेस्ट इम्पलांट होने का सबसे बड़ा खतरा लीकेज होने का होता है जो सर्जरी के कुछ समय बाद सामने आता है। 

- कुछ दिनों पर ब्रेस्ट में दर्द और सूजन महसूस होती है। 

- कई बार इम्पलांट फट जाता है जिससे फटे हुए शेल्स से सिलिकॉन जेल और सिलाइन वाटर बाहर निकलने लगता है। 

- यह सर्जरी कई बार अधिक समय तक कारगार नहीं होती है।

- हर बार सर्जरी के 7 से 8 साल बाद दोबारा ब्रेस्ट इंप्लांट सर्जरी करवानी पड़ती है। 

- सर्जरी में इस्तेमाल होने वाली चीजों से कैंसर होने का खतरा अधिक रहता है।

- इससे ब्रेस्ट का साइज तो बढ़ जाता है लेकिन वह देखने में बनावटी लगता है। 
 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News