22 JANFRIDAY2021 8:09:16 PM
Nari

ब्लड प्रेशर क्यों होता है High? अजवाइन का पानी पीने से होगा लाभ

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 04 Jun, 2020 09:59 AM
ब्लड प्रेशर क्यों होता है High? अजवाइन का पानी पीने से होगा लाभ

जितना स्ट्रेस उतनी बिमारियां, यह बात आजकल के समय में खूब साबित हो रही है। पहले जमाने में 60 से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों में हाई बी.पी., शुगर और दिल से संबंधित बिमारियां देखी और सुनी जाती थी। मगर जैसे-जैसे हमारा जीवन जीने का तरीका बदल रहा है, वैसे-वैसे हम बहुत जल्द बिमारियों के शिकार बनते जा रहे हैं। जन्म लेते बच्चे को जब शुगर और हाई ब्लड प्रेशर जैसी बिमारियों का शिकार पाया जाता है, तो इंसान सोच में पड़ जाता है, कि यह इस समाज का आने वाले समय में क्या होगा?

nari

आज बहुत से कम लोग घर का बना भोजन खाना पसंद करते हैं। खासतौर पर भारतीय घरों में बनने वाले भोजन में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। यहां के बने खाने में उन मसालों का उपयोग किया जाता है, जो भोजन का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ शरीर को कई फायदा पहुंचाते हैं। बात अगर करे अजवाइन की, तो इस मसाले का इस्तेमाल कुछ घरों में हर सब्जी पकाते वक्त किया जाता है। अजवाइन का सबसे बड़ा गुण है कि यह आपके Digestive System को मजबूत बनाती है, जिससे आपके द्वारा खाया गया भोजन अच्छी तरीके से पक जाता है। इसके अलावा अजवाइन का सेवन करने से शरीर को और भी कई लाभ मिलते हैं, जैसे कि...

ब्लड प्रेशर रहता है कंट्रोल

अजवाइन में कार्वाक्रोल नामक यौगिक पाया जाता है, जो शरीर में मौजूद खून के दौरे को सही रखने में मदद करता है। यह यौगिक तत्व न तो खून को जरूरत से ज्यादा तेज क्रिया करने देता है और न ही इसे अधिक धीमा होने देते हैं, यथार्त अजवाइन का सेवन करने वाले व्यक्ति को न तो हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है और न ही लो बी.पी. की परेशानी उसे झेलनी पड़ती है। यदि किसी व्यक्ति को हाई बी.पी या लो बी.पी. की समस्या है, तो अजवाइन का पानी पीकर भी वह इसे कंट्रोल में रख सकता है। अजवाइन का पानी बनाना बेहद आसान काम है।

अजवाइन का पानी

-1 चम्मच अजवाइन को रातभर के लिए 1 गिलास पानी में भिगोकर रख दें।
-सुबह उठकर अजवाइन और पानी को गैस पर उबलने के लिए रख दें।
-पानी जब आधा रह जाए, तो इसे छानकर थोड़ा ठंडा होने के बाद पिएं। 
-आप चाहें तो 1 चुटकी काला नमक इस पानी में मिलाकर पी सकते हैं।

nari

इस पानी को हर रोज पीने से आपका बड़ा हुआ ब्लड प्रेशर कंट्रोल होगा, यदि बी.पी. ज्यादा लो रहता है तो आप इस पानी में 1 टीस्पून सफेद नमक भी मिलाकर पी सकते हैं। लो बी.पी. के पेशेंट्स को नमकीन चीजों का सेवन समय-समय पर करते रहना चाहिए, ऐसा करने से उनका बी.पी. एक दम कम नहीं होगा।

हाई बी.पी. के मरीजों को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

क्या खाएं... हरी पत्तेदार सब्जियां, दलिया, चुकंदर का जूस, सुबह खाली पेट लहसुन की 1 कली, अनार,केले, डार्क चॉकलेट इत्यादि चीजें खानी चाहिए। 

क्या न खाएं... अचार, फ्राइड फूड, अल्कोल यानि शराब, डिब्बा बंद खाना, अधिक चाय या कॉफी, टोमॉटो केचअप चीजों का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। 

Low Blood Pressure के मरीज

लो बी.पी. के मरीजों को कुछ न खाने से जरूरी है, समय-समय पर कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए। ध्यान रखें आप जो भी खाएं उसमें नमक की मात्रा पूर्ण होनी चाहिए। खाने के अलावा आप एनर्जी ड्रिंक्स, जूस, चाय और कॉफी का सेवन कर सकते हैं। 

तुलसी के पत्ते

ब्लड प्रेशर चाहे हाई हो या फिर लो, तुलसी के पत्तों का सेवन आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगा। रोज सुबह तुलसी के 6-7 पत्ते खाने से बॉडी में ब्लड का प्रेशर सही ढंग से काम करता है। तुलसी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व आपको स्ट्रेस फ्री रखने में भी मदद करते हैं। ऐसे में हर रोज सुबह 6-7 पत्ते तुलसी के जरूर खाएं। इससे ब्लड प्रेशर ही नहीं, कैंसर जैसी बीमारी भी आपके निकट नहीं भटकती। 

अजवाइन का पानी पीने के और भी कई लाभ हैं, जैसे कि...

nari

वजन कम करने में मददगार

जिन लोगों का वजन अधिक हैं, उन्हें भी सुबह उठकर इस अजवाइन वाले पानी का सेवन करना चाहिए। अगर गर्म तासीर वाली चीजें ज्यादा सूट नहीं करती तो हर रोज पीने की जगह आप हफ्ते में 3 या 4 बार भी इसे पी सकते हैं।

अपच, गैस और एसिडिटी

जिन्हें अक्सर पेट में गैस, अपच और भूख न लगने की समस्या रहती है, उन्हें भी इस पानी का सेवन करना चाहिए। अजवाइन का पानी आपके डाइजेस्टिव सिस्टम को तंदरूस्त रखने में मदद करता है। 

सर्दी-जुकाम

कुछ लोगों को गर्मियों में भी कोल़्ड की समस्या रहती है, ऐसे में उन्हें हर रोज अजवाइन वाले पानी का सेवन करना चाहिए। इससे उनकी इम्युनिटी पॉवर स्ट्रांग बनती है। 

nari

गठिया के मरीजों के लिए फायदेमंद

जिन्हें गठिया की समस्या है, उन्हें भी अजवाइन वाला पानी पीना चाहिए। इससे जोड़ों में होने वाले दर्द और सूजन से राहत मिलती है। यह शरीर के कोलेस्ट्रोल लेवल को भी बैलेंस करने में मदद करता है। 

Related News