15 JULMONDAY2024 9:25:37 PM
Nari

मानसून में नवजात शिशु का इन्फेक्शन और बीमारियों से पेरेंट्स इस तरह करें बचाव

  • Edited By Manpreet Kaur,
  • Updated: 09 Jul, 2024 11:00 AM
मानसून में नवजात शिशु का इन्फेक्शन और बीमारियों से पेरेंट्स इस तरह करें बचाव

नारी डेस्क: मानसून का मौसम हर किसी को गर्मी से राहत पहुंचाता है। मगर यह अपने साथ कीटाणु व संक्रमण भी लेकर आता है। ऐसे में इस दौरान बीमारियों की चपेट में आने का खतरा बढ़ जाता है। वहीं छोटे बच्चों की इम्यूनिटी बड़ों की तुलना में कमजोर होती है। ऐसे में उन्हें स्वस्थ रखने के लिए उनका खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। चलि आज हम आपको इस आर्टिकल में शिशु की देखभाल से जुड़े कुछ खास टिप्स बताते हैं...

मच्‍छरों से करें सुरक्षा 

बारिश में पानी इकट्ठा होने से मच्छरों के फैलने की परेशानी होती है। वहीं इसके काटने से शिशु के दर्द, जलन, सूजन, रेडनेस व बुखार हो सकता है। ऐसे में इससे शिशु को बचाने के लिए मॉस्किटो मैट में उसे रखें। घर के दरवाजे व खिड़कियां बंद रखें। शिशु को ऐसे कपड़े पहनाएं जिससे उसका पूरा शरीर कवर हो। आप प्राकृतिक चीजों से तैयार दवा भी बच्चे को लगा सकती है। इसके अलावा शाम के मच्छर ज्यादा होते हैं। ऐसे में इस दौरान बच्चे को घर से बाहर लेकर ना जाएं। 

PunjabKesari

​घर की साफ का रखें ध्यान 

बारिश के कारण घर में गंदगी व मच्छर तेजी से बढ़ने लगते हैं। इसके कारण बीमारियों की चपेट में आने का खतरा बढ़ता है। ऐसे में आप घर की अच्छे से सफाई करें। घर के कोनों में सबसे ज्यादा मच्छर पनपते हैं ऐसे में यहां की सफाई का खास ध्यान रखें। घर में कहीं भी पानी इक्ट्ठा ना होने दें। सप्ताह में 2-3 बार कीटाणुनाशक से पोंछा मारे ताकि शिशु इंफेक्शन से सुरक्षित रहें।

समय-समय पर शिशु का ​डायपर बदलें

गीला डायपर पहनने से शिशु के रैशेज और जुकाम हो सकता है। इसलिए समय-समय पर बच्चे का डायपर व नैपी चैक करें। इसके साथ उसे कॉटन के मगर मोटे कपड़े पहनाएं। इससे शिशु के शरीर का तापमान सही रहने के साथ स्किन को अच्छे से सांस लेने में मदद मिलेगी। 

शिशु की सफाई का रखें ध्यान

बारिश के दौरान मौसम ठंडा होता है। ऐसे में आप 1 दिन छोड़कर बच्चे को नहा सकती है। मगर रोजाना गीले कपड़े से उसके शरीर को साफ करके धुए हुए कपड़े पहनाएं। इसके साथ शिशु के हाथों को बार-बार साफ करते रहे। इसके अलावा बच्चे के नाखून तेजी से बढ़ते हैं। इसलिए इसे समय पर काटने के साथ इनकी सफाई का ध्यान रखें। 

PunjabKesari

खुद की सफाई का भी रखें ध्यान 

घर व बच्चे के साथ पेरेंट्स को खुद की सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए। असल में, गंदे हाथों से शिशु को पकड़ने से उसके शरीर पर कीटाणु जम सकते हैं। ऐसे में उसके बीमार होने का खतरा बढ़ता है। इसलिए बच्चे को पकड़ने व हाथ लगाने से पहले हैंडवॉश करना ना भूलें। इसके अलावा शिशु को किसी को पकड़ना से पहले उन्हें भी हाथ धोने को कहें। 

बच्चे के खाना का रखें ध्यान 

अगर आपका बच्चा 6 महीने से बड़ा है तो उसे ताजा व ठोस आहार खिलाएं। 

​साफ पानी पिलाएं

मानसून में दूषित पानी अधिक होने से संक्रमित होने का खतरा रहता है। इसके लिए बच्चे को फिल्टर का पानी पिलाएं। इसके अलावा आप पानी उबाल कर इस्तेमाल कर सकती है। 

बच्चे को बाहर लें जाने से बचें

मानसून में बारीश के कारण हर जगह कीचड़ व गंदगी होती है। ऐसे में इस दौरान बीमार होने का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में इस दौरान बाहर जाने से परहेज रखें। इसके अलावा बच्चे को भीड़ वाली जगह पर भी ना लेकर जाएं। 

PunjabKesari

Related News