Twitter
You are hereNari

रेड मीट के शौकीन हैं तो पढ़ लें यह खबर, इससे हो सकती है घातक बीमारी

रेड मीट के शौकीन हैं तो पढ़ लें यह खबर, इससे हो सकती है घातक बीमारी
Views:- Monday, June 18, 2018-3:32 PM

नॉन वेज खाने के शौकीनों को रेड मीट का लजीजदार फ्लेवर बहुत पसंद आता है। इससे खाने का स्वाद दोगुना हो जाता है लेकिन मीट का जरूरत से ज्यादा सेवन सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है। वहीं, एक शोध के मुताबिक यह बात सामने आई है कि रेड मीट में पाए जाने वाला तत्व ‘एलर्जन’ एलर्जी पैदा कर सकता है। इस तत्व ‘एलर्जन’ से धमनियों में परत जम सकती है, जिससे दिल की बीमारी बढ़ने का खतरा बढ़ सकता है। 


यह निष्कर्ष ‘आर्टरीओस्क्लेरोसिस,थ्रोम्बोसिस एंड वैस्कुलर बायोलॉजी ’ (एटीवीबी) नाम की पत्रिका में प्रकाशित हुआ है कि रेड मीट में वसा का उच्च संतृप्त स्तर दिल से संबंधित बीमारी के खतरे को बढ़ा सकता है। इसमें कहा गया है कि रेड मीट में शामिल खाद्य एलर्जन दिल के लिए हानिकारक हैं। 


अमेरिका की वर्जीनिया यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर कोलीन मैक्नामरा ने कहा,‘‘वर्जीनिया से लोगों के एक छोटे समूह पर किए गए परीक्षण में इस बात की पुष्टि हुई कि रेड मीट दिल की बीमारी का खतरा बढ़ाने वाला एक महत्वपूर्ण कारक है।’’ हाल के सालों में  वैज्ञानिकों ने रेड मीट में मुख्य एलर्जन की पहचान की। अल्फा-गल नामक यह एलर्जन एक जटिल प्रकार की शर्करा है। इस शोध में यह भी पता चला कि लोन स्टार टिक नामक एक कीड़ा जब रेड मीट का सेवन करने वाले लोगों को काटता है तो यह उनमें इस एलर्जन के प्रति एक प्रकार की संवेदनशीलता पैदा करता है। जो घातक भी हो सकता है। 


इसी कारण रेड मीट एलर्जी से ग्रस्त लोगों को ऐसे कीड़ों से दूर रहने की सलाह दी जाती है। हालिया अध्ययन में अनुसंधानकर्ताओं ने पहली बार रेड मीट एलर्जी के संबंध में की गई एक विशिष्ट रक्त जांच में पाया गया कि रेड मीट एलर्जी का धमनी में परत जमने या धमनी की अंदरूनी परत पर वसा जमने से संबंध है।   

 


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP