30 SEPWEDNESDAY2020 12:20:27 PM
Nari

साधारण फ्लू और कोरोना वायरस में कैसे पहचानें फर्क?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Aug, 2020 04:54 PM
साधारण फ्लू और कोरोना वायरस में कैसे पहचानें फर्क?

जहां एक तरफ कोरोना का कहर जारी है वहीं दूसरी तरफ मानसून के कारण साधारण फ्लू, वायरल फीवर, स्वाइन फ्लू की समस्या भी काफी देखने को मिल रही है। यही वजह है कि नॉर्मल सर्दी-खांसी या फ्लू वाले पेशेंट को भी कोरोना का मरीज समझा जा रहा है। जबकि देखा जाए तो दोनों में काफी अंतर है। चलिए आपको बताते हैं कि साधारण फ्लू और कोरोना में कैसे पहचाने फर्क...

एक जैसे होते हैं दोनों के लक्षण लेकिन...

कोविड-19 और फ्लू, दोनों ही एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने वाले वायरल इंफेक्शन हैं। दोनों ही खांसी और छींक के ड्रॉप्लेट्स से फैलते हैं लेकिन कोरोना वायरस साधारण फ्लू से ज्यादा खतरनाक है। कोरोना वायरस लिवर , दिमाग पर असर डालता है जबकि फ्लू में ऐसा नहीं होता।

PunjabKesari

कोरोना वायरस के लक्षणों को समझें

बुखार, थकान व सूखी खांसी कोरोना के लक्षण है लेकिन इसके साथ कुछ मरीजों में गले में खराश व दर्द, सीने में दर्द, सांस लेने में तकलीफ और डायरिया की समस्या भी देखने को मिल रही है। जबकि 60% मरीज तो ऐसे हैं, जिनमें कोरोना के लक्षण दिखाई ही नहीं दे रहे। वहीं 80% मरीजों में कोरोना के लक्षण हल्के नजर आते हैं।

फ्लू के लक्षण

फ्लू की बात करें तो इसमें नाक बहना, खांसी, बुखार जैसे लक्षण दिखते हैं। जबकि कोरोना में बहुत कम मरीज ऐसे हैं, जिन्हें खांसी के साथ बहती नाक की समस्या हुई हो।

गले में खराश के बारे में क्या?

सिर्फ गले में खराश होना कोरोना का लक्षण मान लेना सही नहीं है। इस मौसम में गले में खराश व खांसी होना आम है। वहीं दूषित पानी और मसालेदार भोजन के कारण भी यह समस्या हो सकती है।

PunjabKesari

क्या करें ?

अगर कोरोना जैसे लक्षण दिख भी रहे हैं तो घबराने या पैनिक होने की जरूरत नहीं। सबसे पहले खुद को परिवार के बाकी लोगों से अगल करें, ताकि यह वायरस दूसरे लोगों तक ना पहुंचे। इसके बाद जारी हेल्पलाइन नबंर पर फोन करके अपनी स्थिति बताएं। डॉक्टर्स द्वारा बताई गई सभी बातों का पालन करें और सबसे जरूरी बात बिना परामर्श कोई भी दवा न लें।

वायरस से बचने के लिए रखें इन बातों का ध्यान...

. लोगों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाकर रखें और गले व हाथ मिलाने से बचें। बार-बार आंख, नाक व मुंह छूने से बचें। 
. खांसने व छींकते समय रूमाल, टिश्‍यू पेपर या अपनी कोहनी यूज करें और उसके बाद तुरंत हाथ धोएं।
. बाहर से घर आने के बाद, भोजन से पहले व बाद में, हाथों को कम से कम 30 सेकेंड तक अच्छी तरह धोएं।
. घर से बाहर जाते समय मास्क लगाना ना भूलें और भीड़-भाड़, फंक्शन आदि से दूर रहें।
. हेल्दी डाइट लें और बाहर का भोजन अवॉइड करें। इसके अलावा अधिक से अधिक गर्म पानी पीएं।

PunjabKesari

Related News