Twitter
You are hereBeauty

आपके ये फेवरेट ब्यूटी प्रॉडक्ट्स बन सकते हैं स्किन इंफैक्शन का कारण

आपके ये फेवरेट ब्यूटी प्रॉडक्ट्स बन सकते हैं स्किन इंफैक्शन का कारण
Views:- Friday, August 10, 2018-5:09 PM

लड़कियां ब्यूटी प्रॉडक्ट की क्रेजी होती है। घर से बाहर जाने से पहले वे मेकअप करना कभी नहीं भूलती। लेटेस्ट मेकअप ट्रेंड के चलते तो कई बार वह चेहरे पर कैमिकल युक्त चीजों को इस्तेमाल भी कर लेती हैं, जिससे स्किन इंफैक्शन होने का डर रहता है। आइए जाने कौन से मेकअप प्रॉडक्ट्स किस तरह स्किन को नुकसान पहुंचाते हैं। 

 

ब्लीच के नुकसान

PunjabKesari
चेहरे की डलनेस को दूर करने के लिए लोग ब्लीच का सहारा लेते हैं। इससे चेहरे के अनचाहे बालों को छिपाना भी आसान हो जाता है। महीने में 2 या 3 पार्टी में जाना हो तो कुछ लोग हर बार ब्लीच करते हैं। कम अंतर में इसे इस्तेमाल करने से त्वचा बेजान होने लगती है। कई बार तो चेहरे पर लालगी या रैशेज भी हो जाते हैं। इसका ज्यादा इस्तेमाल न करें।

 

नेल पॉलिश

PunjabKesari
नाखूनों पर लगी नेलपॉलिश बहुत अच्छी लगती है। नेल पॉलिश लगाने से नाखून पूरी तरह से छिप जाते हैं। जिससे इनमें जमा गंदगी भी दिखाई नहीं देती। जो पेट की इंफैक्शन का कारण बनती है। इसके अलावा लगातार लगी नेलपॉलिश से नाखून पीले हो जाते हैं। कई बार तो नाखूनों पर फंगस भी जमा होने लगती है। इसलिए 2-3 दिन बाद नेल पॉलिश साफ कर लें। 

 

फाउंडेशन और ब्लशर लगाना

PunjabKesari
मेकअप करने से पहले चेहरे का बेस बनाने के लिए फाउंडेशन और ब्लशर लगाना पड़ता है। इसका रोजाना इस्तेमाल करने से चेहरे के रोमछिद्र बंद होने लगते हैं। जिससे चेहरे पर जमा गंदगी बाहर नहीं निकल पाती। इस कारण कील-मुंहासों का समस्या होने लगती है। इस बात का ख्याल रखें कि फाउंडेशन को साफ करके ही सोएं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए बढ़िया क्लींजर से चेहरा साफ करें। इससे रोमछिद्र साफ हो जाएंगे और गंदगी आसानी से बाहर आ जाएगी। 

 

डियोड्रेंट का इस्तेमाल

PunjabKesari
तन की बदबू को दूर करने के लिए ज्यादातर लोग डियोड्रेंट लगाते हैं। जिससे त्वचा काली या फिर इससे खुजली की परेशानी भी होने लगती है। इसे सीधे स्किन पर लगाने पर लगाने की बजाए कपड़ों पर लगाएं। 

 

आइशैडों

PunjabKesari
आंखों पर लगा हुआ आईशैडों बहुत अच्छा लगता है लेकिन इनके छोटे-छोटे कणों से कॉर्नियल इंफेक्शन का खतरा रहता है। इससे आंखों में लालगी, आंखों से पानी आनी आदि जैसे परेशानियां आने लगती हैं। इसके अलावा मस्कारा और आई लाइनर की भी समय-समय पर एक्सपायरी डेट चेक करते रहे। 


 


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by:

Latest News