08 AUGMONDAY2022 9:27:57 PM
Nari

पीरियड्स में पार्टनर के साथ संबंध बनाना सही या गलत?

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 28 Jun, 2021 04:17 PM
पीरियड्स में पार्टनर के साथ संबंध बनाना सही या गलत?

महिलाओं को हर महीने मासिक धर्म से गुजरना पड़ता है। मगर, शादीशुदा महिलाएं इस बात को लेकर कंफ्यूज रहती हैं कि इस दौरान संबंध बनाना चाहिए या नहीं। ऐसा इसलिए क्योंकि पहले के समय में लड़कियों को इस दौरान अशुद्ध बताकर अलग कमरे में बंद कर दिया जाता था। हालांकि अब समय बदल चुका है। चलिए आपको बताते हैं कि पीरियड्स में संबंध बनाना सेफ है या नहीं।

पीरियड्स के दौरान संबंध बनाना चाहिए या नहीं?

पीरियड्स में शारीरिक संबंध बनाने में कोई दिक्कत नहीं है। हालांकि, पीरियड्स में यौन संबंध बनाने में कभी-कभी गड़बड़ हो सकती है। साथ ही पीरियड्स में संबंध बनाने से पहले टैम्पोन पहन रखा है तो उसे निकाल दें।

PunjabKesari

चलिए आपको बताते हैं कि पीरियड्स में संबंध बनाने से आपको क्या-क्या फायदे हो सकते हैं...


ल्यूब्रिकेशन की जरूरत नहीं

मासिक धर्म में औरतों के शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं। ऐसे में अगर संबंध स्थापित किए जाए तो ल्यूब्रिकेशन की जरूरत नहीं होगी। वहीं, एक्सपर्ट की मानें तो इस दौरान संबंध बनाने से मासिक धर्म के लक्षणों जैसे ऐंठन, माइग्रेन और सिरदर्द को कम किया जा सकता है।

गर्भधारण का खतरा भी कम

आमतौर पर ओव्यूलेशन के 14 दिन (माहवारी के बाद व पहले के 7-7 दिन) कंसीव करने की संभावना अधिक होती है लेकिन पीरियड्स में गर्भधारण का रिस्क कम होता है। 

PunjabKesari

मासिक धर्म के लक्षणों से राहत

इस दौरान संबंध हनाने से शरीर में ऑक्सीटोसिन, एंडोर्फिन और डोपामाइन जैसे हार्मोन्स का स्तर बढ़ जाता है, जिससे ऐंठन, तनाव, मूड़ स्विंग, पेट दर्द, सिरदर्द जैसी समस्याओं से राहत मिलती है।

सिर्फ शारीरिक सुख नहीं, एक व्यायाम भी

पार्टनर से संबंध सिर्फ शारीरिक सुख के लिए बल्कि सेहत के लिए भी अच्छा है। इससे कैलोरी बर्न होती है, जिससे वजन कंट्रोल में रहता है। साथ ही इससे महिलाओं की एक्सरसाइज भी हो जाती है, जिससे ब्लड फ्लो सही रहता है।

पीरियड्स में सेक्स करने के नुकसान

इंफेक्शन का जोखिम ज्यादा

एक्सपर्ट की मानें तो इस दौरान संबंध बनाने में कोई बुराई नहीं है लेकिन इससे संक्रमण का खतरा बहुत ज्यादा होता है। आमतौर पर योनि का pH स्तर 3.8 से 4.5 होता है लेकिन पीरियड्स में pH स्तर बढ़ जाता है। इससे यीस्ट इंफेक्शन का खतरा ज्यादा रहता है। ऐसे में शारीरिक संबंध बनाते समय सेफ्टी व गर्भनिरोधक का इस्तेमाल जरूर करें।

PunjabKesari

हैवी ब्लीडिंग

पीरियड्स में संबंध बनाने से कुछ महिलाओं में ब्लड फ्लो बढ़ जाता है। एक्सपर्ट के अनुसार, इस दौरान इंटरकोर्स से STI और HIV का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि सेफ्टी का इस्तेमाल करके आप इस जोखिम को कम कर सकते हैं।

अजीब सी गंध आना

इस दौरान इंटरकोर्स करना बदबूदार हो सकता है। दरअसल, पीरियड्स ब्लड में एक बदबूदार गंध आती है, जो अजीब हो सकता है, खासकर गर्मियों में।

यूं तो माहवारी के दौरान बहुत कम महिलाएं संबंध बनाना पसंद करती हैं लेकिन अगर आप असहज महसूस करती हैं तो अपने पार्टनर से इस बारे में खुलकर बात करें।

Related News