03 JULSUNDAY2022 5:12:31 AM
Nari

पति के जाने के बाद नहीं हारी हिम्मत, 30रु में Jumbo Paratha बेच घर संभाल रही Veena Ji

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 25 Feb, 2022 06:07 PM
पति के जाने के बाद नहीं हारी हिम्मत, 30रु में Jumbo Paratha बेच घर संभाल रही Veena Ji

पति पत्नी का रिश्ता बेहद खास होता है। जन्मों-जन्मों तक साथ रहने की कस्में खाने वाले अपनी सारी जिंदगी एक दूसरे के सुख और दुख पर लूटा देते हैं लेकिन जब दोनों में से कोई एक साथ छोड़ जाए तो दूसरे पार्टनर को जिंदगी में की तकलीफों का सामना करना पड़ता है। खासकर पति की मौत के बाद महिलाओं को घर व बच्चों की परवरिश करने में बहुत-सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मगर, कहते हैं ना कि किसी के जाने से जिंदगी नहीं रुकती... ऐसी ही एक कहानी है वीणा जी की, जिन्होंने पति की मौत के बाद ना सिर्फ खुद को संभाला बल्कि वह अपने बच्चों की परवरिश भी बढ़िया तरीके से कर रही हैं।

अमृतसर की रेहड़ी पर Gaint Parantha बेचने वाली वीणा जी अपनी 4 बेटियों को पालने के लिए दिन भर मेहनत करती हैं। हाल ही में फेमस यूट्यूबर गौरव वासन ने अपने चैनल व इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया हैं, जिसमें उन्होंने वीणा जी की इंस्पायरिंग स्टोरी शेयर की है। बता दें कि गौरव वही शख्स हैं जिनका नाम 'बाबा का ढाबा' की वजह से चर्चा में आया। खैर, उन्होंने वीणा जी को 'पंजाब की सुपरवुमन' कहा है, जोकि काफी हद तक सही भी है।

वीडियो में बताया गया है कि पति की मौत के बाद परिवार की सारी जिम्मेदारी उन्हीं पर आ गई लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और जिंदगी की नई शुरुआत करने का फैसला किया। उन्होंने कुछ समय लोगों के घरों में काम भी किया। चूंकि उनके पति परांठे का ठेला लगाया करते थे इसलिए उन्होंने इसे दोबारा शुरू करने का फैसला किया। उन्होंने अमृतसर में एक स्ट्रीट स्टॉल पर जंबो परांठे बेचना शुरू कर दिया। उनके परांठे पूरे शहर में सबसे बड़े और लोकप्रिय हैं।

वीणा जी ने अमृतसर में बेचे सबसे बड़े भरवां परांठे

जैसा कि गौरव ने वीडियो में बताया, वीणा जी अपनी बेटियों को दुनिया की खुशियां देना चाहती हैं। वह हर दिन अपना स्टॉल खोलती है और पंजाब में सबसे बड़े भरवां पराठे बनाती है। परांठे सिर्फ ₹30 की मामूली कीमत पर बेचे जाते हैं। सस्ते और स्वादिष्ट होने की वजह से उनके स्टॉल पर ढेरों ग्राहकों की लाइन लगी रहती हैं। जहां 30 रु में आपको किसी भी बड़े रेस्टोरेंट में कुछ भी नहीं मिलेगा वहीं वीणा इतने कम दाम में लोगों का पेट भरती हैं।

PunjabKesari

बता दें कि वीणा जी करीब 10 साल से परांठा बनाने का काम कर रही हैं। इतना बड़ा परांठा बनाने का मकसद यह है कि लोगों का कम पैसे में पेट भर जाए। पिता की मौत के बाद उनकी बेटियों का स्कूल भी छूट गया लेकिन उनकी मां चाहती हैं कि उनकी बेटियां भी देश में उनका नाम रोशन करें, कोई डॉक्टर बनें या किसी को सरकारी नौकरी मिले लेकिन घर की मजबूरियों के चलते उनके हाथों में किताब की जगह किचन की चीजें हैं।

वीडियो ने इंटरनेट से ढेर सारी प्रशंसा बटोरी

वह मेहनत और हिम्मत से अपने बच्चों का भविष्य बनाने की कोशिश में लगी है, जो हर किसी के लिए मिसाल है। सोशल मीडिया पर भी नेटिज़न्स वीणा जी की जमकर तारीफ कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा, 'भाई... आपने कमाल का काम किया है...इन स्ट्रीट वेंडर्स को प्रमोट करके।' एक अन्य ने टिप्पणी की, "अच्छा किया दीदी।"

PunjabKesari

Related News