20 OCTTUESDAY2020 6:43:16 AM
Nari

सावन शिवरात्रि का जानें शुभ मुहूर्त और शिव को प्रसन्न करने की विधि

  • Edited By neetu,
  • Updated: 18 Jul, 2020 05:24 PM
सावन शिवरात्रि का जानें शुभ मुहूर्त और शिव को प्रसन्न करने की विधि

शिवरात्रि का त्योहार हर महीने कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी में आता है। मगर सावन महीना भगवान शिव को अतिप्रिय होने से इस मास में आने वाली शिवरात्रि का विशेष महत्व होता है। इसेे सावन शिवरात्रि कहा जाता है। इस बार सावन शिवरात्रि 19 जुलाई 2020 यानि कल मनाई जाएगी। इन दिन भगवान शिव का जलाभिषेक और रुद्राभिषेक सच्चे मन से करने से भगवान शिव की असीम कृपा मिलती है। बहुत से लोग इस पवित्र दिन में उपवास भी रखते हैं। इस व्रत को रखने से दुखों का अंत हो जीवन में सुख-समृद्धि व शांति आती है। 

सावन शिवरात्रि पूजा मुहूर्त

यह व्रत 19 जुलाई 2020 की मध्यरात्रि 12:41 से शुरू होकर 20 जुलाई 2020 की मध्यरात्रि 12:10 तक रहेगा। व्रत को 20 जुलाई 2020 की सुबह 5:36 को खोल सकते है। 

nari, shiv pooja,PunjabKesari

सावन शिवरात्रि का महत्व

सावन महीने में आने वाली शिवरात्रि बहुत ही शुभफलदाई होती है। बात अगर उत्तरी भारत की करें तो यहां के शिव मंदिरों, काशी विश्वनाथ व बद्रीनाथ धाम आदि में भक्तों द्वारा खास पूजा की जाती है। मगर कोरोना के कहर के कारण इस बार कई मंदिरों में नहीं जा सकते है। मगर आप अपने घर पर शिवजी का गंगाजल से शिवलिंग का जलाभिषेक कर उनकी अपार कृपा पा सकते है। मान्यताओं के अनुसार इस विशेष दिन पर कुंवारे लड़के व लड़कियों द्वारा पूजा-अर्चना और उपवास करने से उन्होंने मनचाहा साथी मिलता है। 

nari, shiving pooja,PunjabKesari

सावन शिवरात्रि व्रत विधि

जो लोग इस उपवास को सावन शिवरात्रि के एक दिन पहले व्रत रखते है। उन्हें सिर्फ एक बार ही भोजन करना चाहिए। फिर अगली सुबह जल्दी उठकर व्रत रखने का संकल्प लें। फिर मंदिर में जाकर या घर पर ही शिवलिंग पर गंगाजल, दूध, दही, चीनी, इत्र,शहद, घी, चंदन, केसर, भांग, धतूरा, भांग, सफेद फूल, आक के फूल, सफेद चंदन, धूप, कपूर आदि चीजें चढ़ाए। फिर शिव जी और माता पार्वती की आरती कर सच्चे मन से उनसे अपनी मनोकामना कहें। फिर अगली दिन नहाकर शिव जी की पूजा करके खोले। 

Related News