22 JULMONDAY2024 5:53:49 PM
Nari

सर्दियों में इन फूड्स के सेवन से नींद खराब होने के साथ होगीं कई सारी Health Problems

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 04 Feb, 2023 06:03 PM
सर्दियों में इन फूड्स के सेवन से नींद खराब होने के साथ होगीं कई सारी Health Problems

सर्दियों में शाम होने के बाद इन चीजों के सेवन से सेहत पर बहुत असर पड़ता है, जो स्वास्थय संबंधी कई समस्याओं का कारण भी बन सकते हैं। आइए जानते हैं शाम होने के बाद किन चीजों के सेवन से बचना चाहिए।

दही

सर्दियों में शाम में दही का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे खांसी जुकाम की समस्या बढ़ सकती है। बलगम बन सकता है। इसके अलावा दही ना पच पाने के कारण पेट दर्द और उल्टी की समस्या भी हो सकती है।

PunjabKesari

संतरे

सर्दियों में शाम होने के बाद संतरे का सेवन नहीं करना चाहिए। संतरा एसिडिक नेचर का होता है, इसलिए शाम के बाद इसके सेवन से सीने में जलन और गैस आदि की समस्या हो सकती है।

PunjabKesari

केले

 सर्दियों में केले के सेवन से परहेज करना चाहिए। केला ज्यादा ठंडे में आपको सांस संबंधी समस्या पैदा कर सकता है और साथ ही यह साइनस की समस्या का भी कारण बन सकता है। 

PunjabKesari

चाय-कॉफी

सर्दियों की शाम में अक्सर लोग ठंड से बचने के लिए कॉफी और चाय का सहारा लेते हैं लेकिन यह सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है कैफीन अधिक मात्रा से शरीर में पानी की कमी होने लगती है, जो स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है।

गाजर

गाजर में फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है और इसे ठंड में खाने की सलाह भी दी जाती है लेकिन सर्दियों में शाम के बाद इसका सेवन करने से पेट संबंधी समस्या हो सकती है। गाजर का पीला हिस्सा काफी गर्म होता है जिसकी वजह से आपके पेट में जलन हो सकती है। खासतौर पर यह परेशानी रात के समय ज्यादा होती है जिस वजह से आपकी नींद खराब हो सकती है।

PunjabKesari

खीरा 

सर्दियों की रात में खीरा से बचना चाहिए क्योंकि इसमें 90 फीसदी पानी होता है, जि, वजह से आपको सर्दी जुखाम की समस्या हो सकती है। इसके अलावा आपकी नींद भी खराब हो सकती है, क्योंकि खीरे में पानी होती है, जिससे पेट में भारीपन और लेटने में दिक्कत होती है। 

आइसक्रीम

आइसक्रीम और कोल्डिंक्स के सेवन से बचना चाहिए। ठंडा होने के कारण आपको सर्दी, जुकाम और खासी की समस्या हो सकती है। इन चीजों से इम्यूनिटी कमजोर हो सकती है और पाचन तंत्र को भी नुकसान पहुंच सकता है।

PunjabKesari

Related News