05 DECSATURDAY2020 2:54:24 AM
Nari

बालों की समस्या के हिसाब से चुनें तेल

  • Edited By neetu,
  • Updated: 31 Oct, 2020 12:39 PM
बालों की समस्या के हिसाब से चुनें तेल

बालों से जुड़ी समस्या आज कल लोगों में आम देखने को मिल रही है। इसके पीछे का मुख्य कारण धूल-मिट्टी, तनाव, सही आहार न लेना आदि माना जाता है। ऐसे में बाल जड़ों से कमजोर हो झड़ने लगते हैं। बहुत-सी लड़कियों इससे बचने के लिए हेयर ट्रीटमेंट्स का सहारा लेती है। इससे बाल कुछ समय तक ही सुंदर लगते हैं। बाद में फिर डैमेज हो खराब होने लगते हैं। ऐसे में इन परेशानियों से बचने के लिए ऑयलिंग करना सबसे बेस्ट माना जाता है। मगर इसके लिए बालों की समस्या के हिसाब से तेल का इस्तेमाल करना जरूरी है। तभी बालों को जड़ों से पोषण मिल पाएगा। तो चलिए आ हम आपको 5 ऐसे में हेयर ऑयल के बारे में बताते हैं, जिससे आपके बालों को लंबा, घना, काला, मुलायम व शाइनी होने में मदद मिलेगी। 

नारियल तेल (रूखे व बेजान बालों के लिए)

अक्सर कलरिंग व रीबॉडिंग करवाने से बालों का टेक्सचर खराब हो जाता है। साथ ही बाल जड़ों से कमजोर हो रूखे व बेजान होने लगते हैं। ऐसे में विटामिन, आयरन, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर नारियल तेल से बालों की मसाज करना फायदेमंद होता है। इससे बालों को जड़ों से पोषण मिलने के साथ ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। ऐसे में बालों का टेक्सचर सही हो उनमें नमी पहुंचती है। साथ ही बाल सुंदर, मुलायम और शाइनी होते हैं।

PunjabKesari

सरसों का तेल (घने बालों के लिए)

सरसों का तेल खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ बालों से जुड़ी समस्याओं को भी कम करता है। विटामिन्स, प्रोटीन, एंटी-एजिंग, एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर इस तेल से मालिश करने से बाल जड़ों से मजबूत होते हैं। यह तत्व बैक्टीरिया और फंगस से लड़ते हैं। ऐसे में डैंड्रफ व हेयर फॉल की परेशानी दूर हो बाल लंबे, घने व मजबूत होते हैं।

बादाम का तेल (डीप- कंडीशनिंग के लिए)

सर्दियों के मौसम में त्वचा और बालों में रूखापन बढ़ जाता है। ऐसे में बाल बेजान हो झड़ने लगते हैं। इससे बचने के लिए बादाम तेल से बालों की मसाज करना बेस्ट ऑप्शन है ‌ विटामिन-ई और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर बादाम तेल बालों की डीप- कंडीशनिंग कर मजबूत बनाता है। ऐसे में बाल लंबे, घने, मुलायम व शाइनी नजर आते हैं। इसके अलावा गीले बालों पर बादाम तेल को सीरम की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

PunjabKesari

जैतून का तेल (फ्रिज़ी व दोमुंहे बालों के लिए)

ऑलिव यानि जैतून के तेल में एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। इससे स्कैल्प की मसाज करने से बेजान, रूखे, फ्रिज़ी व दोमुंहे बालों की परेशानी से छुटकारा मिलता है। साथ ही बालों का झड़ना बंद हो नए बाल आने में मदद मिलती है।

PunjabKesari

आंवले का तेल (डैमेज व सफेद बालों के लिए)

असल में, इस तेल को सीधे आंवला से नहीं बल्कि अन्य तेलों में रखकर निकाला जाता है। ऐसे में यह तेल कई गुणों से भरपूर होता है। विटामिन-सी से भरपूर इस से बालों की मसाज करने से रूसी व बेजान बालों से छुटकारा मिलता है। साथ ही समय से पहले बालों के सफेद होने की परेशानी से बचाव रहता है। ऐसे में बाल जड़ों से पोषित हो लंबे, घने, मुलायम व काले होते हैं। 
 

Related News